Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेग्नेंट महिला अभी से इन चीजों को खाना बंद कर दें

0

सर्दी का मौसम अब शुरू होने ही वाला है और यदि आप गर्भवती हैं तो मौसम के बदलाव के साथ आपको बहुत सी बातों का ध्यान रखने की जरुरत हैं। क्योंकि इस दौरान बरती गई लापरवाही आपको बीमार कर सकती है और जब आप बीमार होंगी तो इसका असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर भी पड़ेगा। क्या आप भी प्रेग्नेंट हैं? यदि हाँ तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत जरुरी है। क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताने जा रहे हैं तो आपको नहीं खाने चाहिए। क्योंकि सर्दी के मौसम में उन चीजों का सेवन करने के कारण आपको और आपके बच्चे को परेशानियों का अनुभव करना पड़ सकता है।

ठंडी आइस क्रीम

सर्दी के मौसम में यदि प्रेग्नेंट महिला को आइस क्रीम खाने की क्रेविंग होती है तो गलती से भी इसे न खाएं। क्योंकि ठण्ड के मौसम में आइस क्रीम खाने से महिला को सर्दी खांसी, बुखार जैसी परेशानी होगी जिससे महिला को परेशानी का अनुभव होगा। और जब माँ परेशान होगी तो इसका असर बच्चे पर भी पड़ सकता है।

फ्रिज से निकले ठन्डे फल

सर्दियों के मौसम में फ्रिज से तुरंत बाहर निकले फलों का सेवन करने से भी बचें। और हो सके तो फलों को फ्रिज में रखें ही न बस अच्छे से धोएं और बाहर ही रख दें। साथ ही रात के समय या शाम के समय फलों का सेवन करने से भी बचें क्योंकि असमय फल खाने से और ठन्डे फल खाने के कारण महिला को सेहत सम्बन्धी परेशानी हो सकती है।

ज्यादा मीठी चीजें

कुछ गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान मीठा खाने की इच्छा होती है और जब बात सर्दियों के मौसम की हो तो महिला को तो महिला की यह इच्छा बढ़ सकती है। ऐसे में महिला को सर्दियों में अधिक मीठा नहीं खाना चाहिए क्योंकि ज्यादा मीठा खाने से महिला का वजन बढ़ सकता है। और गर्भवती महिला का वजन यदि जरुरत से ज्यादा बढ़ जाता है तो इस कारण केवल माँ को ही नहीं बल्कि बच्चे को भी परेशानी का अनुभव करना पड़ सकता है।

रात के समय दही

प्रेग्नेंट महिला को यदि दही खाने या छाछ पीने की इच्छा होती है तो महिला को दोपहर के समय ही दही खानी चाहिए या छाछ पीनी चाहिए। लेकिन प्रेग्नेंट महिला को रात के समय दही का सेवन या ज्यादा ठंडी दही का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसके कारण महिला को सर्दी के कारण होने वाली परेशान और गले में इन्फेक्शन जैसी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही राटा के समय दही को हज़म करने में महिला को दिक्कत हो सकती है जिस कारण पेट सम्बन्धी परेशानी भी महिला को हो सकती है

जरुरत से ज्यादा घी

सर्दियों के मौसम में हो सकता है की घर के बड़े बुजुर्ग आपको घी खाने की सलाह दें जो की अच्छी बात है। लेकिन ध्यान रखें की जरुरत से ज्यादा घी का सेवन नहीं करें या फिर आपका वजन ज्यादा है तो भी घी का सेवन नहीं करें। क्योंकि घी में कैलोरीज़ ज्यादा होती है जिससे आपका वजन और ज्यादा हो सकता है और जरुरत से ज्यादा वजन प्रेगनेंसी में कॉम्प्लीकेशन्स खड़ी कर सकता है।

ठंडा पानी व् जूस

सर्दी के मौसम में ठंडा पानी व् ठंडा जूस भी नहीं पीएं क्योंकि ज्यादा ठंडा पानी व् ठंडी चीजें आपकी सेहत पर गलत असर डाल सकती है। जिससे आपको सेहत सम्बन्धी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

लड्डू

सर्दियों के मौसम में गोंद, ड्राई फ्रूट्स के लड्डू आदि आपके घर में भी बनते होंगे। ऐसे में ध्यान रखें की यदि आपकी प्रेगनेंसी की पहली तिमाही है तो आपको इन चीजों का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए क्योंकि इनकी तासीर गर्म होती है। जिससे आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

जंक फ़ूड

ठण्ड के मौसम में चटपटा तीखा खाने की इच्छा भी बढ़ जाती है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है की प्रेग्नेंट महिला जंक फ़ूड का सेवन करना शुरू कर दे। क्योंकि जंक फ़ूड खाने से महिला की और भी कमजोर हो जाती है जिस वजह से महिला के बीमार होने का खतरा बढ़ जाता है।

कैफीन

सर्दी का मौसम शुरू होने पर चाय कॉफ़ी पीने की इच्छा में भी बढ़ोतरी हो जाती है। लेकिन यदि आप प्रेग्नेंट हैं तो आपको अपनी इस इच्छा पर कण्ट्रोल करना चाहिए। क्योंकि मौसम चाहे कोई भी कैफीन का अधिक सेवन माँ व् बच्चे दोनों की सेहत के लिए नुकसानदायक ही होता है।

तो यह हैं कुछ खाद्य पदार्थ जिन का सेवन गर्भवती महिला को सर्दी के मौसम में नहीं करना चाहिए। यदि प्रेग्नेंट महिला इन बातों का ध्यान रखती है। तो सर्दी के मौसम में होने वाली परेशानियों से गर्भवती महिला को बचे रहने में मदद मिलती है।

Pregnant women what not to eat in winter

Leave a comment