प्रेगनेंसी में बादाम, किशमिश और छुहारे खाने के तरीके

0

गर्भावस्था के दौरान महिला को हेल्दी व् पोषक तत्वों से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए। क्योंकि इससे गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने के साथ बच्चे के बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास में भी मदद मिलती है। लेकिन किसी भी चीज का सेवन करने से पहले इस बात को जानना जरुरी होता है की महिला जो खा रही है वो माँ और बच्चे के लिए सही है या नहीं, महिला को कितनी मात्रा में और किस तरीके से उस चीज का सेवन करना चाहिए साथ ही उस चीज का सेवन करने से कौन कौन से फायदे मिलते हैं। उसके बारे में भी प्रेग्नेंट महिला को जान लेना चाहिए। तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको प्रेग्नेंट महिला को बादाम, किशमिश, छुहारे का सेवन कैसे करना चाहिए और उनके फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं।

प्रेगनेंसी में बादाम

बादाम में फाइबर, आयरन, फोलेट, कैल्शियम जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। और यह सभी पोषक तत्व गर्भवती महिला व् बच्चों दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं। इसीलिए प्रेग्नेंट महिला बादाम का सेवन कर सकती है गर्भवती महिला बादाम को ऐसे ही या रात भर पानी में भिगोने के बाद इसका सेवन कर सकती है। साथ ही महिला चाहे तो खीर, हलवा, शेक आदि में डालकर भी बादाम का सेवन कर सकती है।

गर्भावस्था में बादाम खाने के फायदे

  • बादाम में फोलेट मौजूद होता है जो गर्भ में पल रहे शिशु के शारीरिक व् मानसिक विकास को बेहतर करने के साथ शिशु को जन्म दोष से सुरक्षित रखने में भी मदद करता है।
  • कैल्शियम से भरपूर बादाम का सेवन करने से गर्भवती महिला की हड्डियों को मजबूती मिलने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु की हड्डियों के बेहतर विकास व् दांतों के बेहतर विकास में मदद मिलती है।
  • बादाम में आयरन भी प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है जो गर्भवती महिला के शरीर में खून की कमी को पूरा करने के साथ गर्भ में शिशु के बेहतर विकास में भी मदद करता हैं।
  • फाइबर से भरपूर बादाम का सेवन करने से गर्भवती महिला की पाचन क्रिया को दुरुस्त रहने में मदद मिलती है।
READ  नौवें महीने में यह गलतियां करेंगे तो डिलीवरी देरी से होगी

गर्भावस्था में किशमिश

खाने में स्वादिष्ट होने के साथ किशमिश पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है। जो गर्भवती महिला और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। किशमिश में फाइबर, आयरन, पोटैशियम, विटामिन सी जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। गर्भवती महिला किशमिश का सेवन पानी में भिगोकर, किसी खाने की चीज में डालकर, या वैसे भी कर सकती है। तो आइये अब प्रेगनेंसी में किशमिश खाने के फायदों के बारे में जानते हैं।

  • गर्भवती महिला यदि किशमिश का सेवन करती है तो ऐसा करने से गर्भवती महिला को आयरन भरपूर मात्रा में मिलता है जिससे माँ व् बच्चे दोनों को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।
  • किशमिश आयरन का बेहतरीन स्त्रोत होती है जो प्रेग्नेंट महिला के पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के साथ पाचन क्रिया से जुडी परेशानियों से बचाव करने में भी मदद करती है।
  • विटामिन्स से भरपूर किशमिश का सेवन करने से गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने और गर्भ में शिशु के बेहतर विकास में मदद मिलती है।
  • किशमिश में कैल्शियम भी मौजूद होता है जो माँ और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है।

गर्भावस्था में छुहारा

गर्भवती महिला यदि छुहारे का सेवन करना चाहती है तो कर सकती है लेकिन प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में छुहारे का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि छुहारे की तासीर गर्म होती है साथ ही छुहारे का सेवन प्रेगनेंसी की दूसरी व् तीसरी तिमाही में भी महिला को जरुरत से ज्यादा नहीं करना चाहिए। लेकिन यदि प्रेग्नेंट महिला सिमित मात्रा और सही समय पर छुहारे का सेवन करती है तो ऐसा करने से माँ व् बच्चे दोनों को फायदा मिलता है।

READ  प्रेग्नेंट महिला को गर्मियों में क्या करना चाहिए?

क्योंकि छुहारे में आयरन, कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन सी, फाइबर, फोलेट, मैग्नेशियम आदि पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। गर्भवती महिला छुहारे का सेवन दूध में डालकर, खीर में डालकर कर सकती है। तो आइये अब जानते हैं की प्रेग्नेंट महिला व् शिशु को छुहारे से कौन कौन से फायदे मिलते हैं।

  • छुहारे में आयरन प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है। ऐसे में छुहारे का सेवन करने से गर्भवती महिला के शरीर में खून की कमी को पूरा करने के साथ गर्भ में शिशु के बेहतर विकास में भी मदद मिलती है।
  • फोलेट से भरपूर छुहारे का सेवन करने से शिशु के दिमागी विकास को बढ़ाने के साथ शिशु को जन्म दोष की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।
  • कैल्शियम व् मैग्नीशियम से भरपूर छुहारे गर्भवती महिला की हड्डियों को मजबूत रखने के साथ गर्भ में शिशु की हड्डियों और दांतों के बेहतर विकास में मदद करते है।
  • फाइबर से भरपूर छुहारे का सेवन करने से गर्भवती महिला को पाचन तंत्र से जुडी परेशानियों से बचे रहने में मदद मिलती है।

तो यह हैं गर्भावस्था के दौरान बादाम, किशमिश, छुहारे खाने के फायदे व् इनका सेवन किस तरीके से करना चाहिए उससे जुड़े कुछ टिप्स। यदि आप भी माँ बनने वाली हैं तो आपको भी इनका सेवन जरूर करना चाहिए ताकि आपको और आपके होने वाले बच्चे दोनों को स्वस्थ रहने में मदद मिल सके। लेकिन ध्यान रखें की सिमित मात्रा में ही इनका सेवन करें जरुरत से ज्यादा इन चीजों का सेवन नहीं करें।

READ  प्रेगनेंसी में इन फलों को खाना जरुरी होता है

Almonds, Raisins, Dry Dates during Pregnancy

Leave A Reply

Your email address will not be published.