अपने घर की किचन में बनाएं यह 8 बेबी फ़ूड

0

जन्म के बाद शिशु को छह महीने तक माँ का दूध पिलाना ही उसका संपूर्ण आहार होता है। लेकिन बच्चे के छह महीने के होने के बाद उसे ठोस आहार देने की शुरुआत होती है। तो ज्यादातर महिलाओं की समझने में दिक्कत होती है। की बच्चे के आहार की शुरुआत किस तरह से करनी चाहिए। बच्चे को क्या खिलाना चाहिए, बच्चे के लिए क्या सही है, आदि।

और सही भी है क्योंकि बच्चे का बेहतर खान पान ही बच्चे के बेहतर विकास में मदद करता है। इसीलिए महिला का इन सभी बातों को ध्यान में रखना भी जरुरी होता है। तो आज हम आपको ऐसे आठ फ़ूड के बारे में बताने जा रहे हैं। जो आप अपने घर के किचन में बना सकती है। और वह फ़ूड बच्चे के लिए भी फायदेमंद होते हैं। तो यह हैं वो आठ फ़ूड:

दाल का पानी

दाल एक ऐसा फ़ूड है जो किचन में मौजूद होता है। जिसमे पोषक तत्व भी भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। साथ ही बच्चा इसे आसानी से हज़म भी कर लेता है। तो आप दाल का पानी, दाल को मैश करके बच्चे को खिला सकते हैं।

खिचड़ी

खिचड़ी भी एक ऐसा फ़ूड है जिसे आप अपनी किचन में बना सकती है। इसके लिए आप चावल दाल को साथ में उबाल कर इसमें हल्के नमक आदि का इस्तेमाल कर सकती है। आप दाल चावल को उबालने के बाद अच्छे से मिक्स जरूर करें। खिचड़ी न केवल बनाने में आसान होती है। बल्कि खिचड़ी न्यूट्रिएंट्स से भी भरपूर होती है।

दलिया

गेहूं को थोड़ा मोटा पीसकर आप घर में ही दलिया भी तैयार कर सकती है। फिर इसे दूध के साथ मीठा बनाकर या सब्जियों के साथ नमकीन बनाकर बच्चे को खिला सकती है। दलिया छोटे बच्चों की ग्रोथ को बढ़ाने के लिए बेहतरीन फ़ूड है।

सब्जियों का सूप

घर में रखी सब्जियों का सूप बनाकर भी आप बच्चे को खिला सकते हैं। इसके लिए आप सब्जियों को उबालकर उन्हें मैश करें उसके बाद बच्चे को खिलाएं। इससे बच्चे को पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मिलते हैं।

फलों का रस

घर में फल भी मौजूद होते हैं ऐसे में आप घर में रखें फलों को मैश करके बच्चे को खिला सकती है। या फिर उनका रस निकलकर भी बच्चे को पीला सकती है।

खीर

दूध में थोड़े से चावल को उबालकर उसमे थोड़ी चीनी मिलाकर खीर बनाएं। छोटे बच्चे खीर को बहुत शौक से खा सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें की फ्रिज में रखी ठंडी खीर या बहुत ज्यादा गर्म खीर बच्चे को न खिलाएं।

उबला हुआ आलू और दही

एक कटोरी दही में उबले हुए आलू को मैश करके मिक्स करें। आप चाहे तो दोनों को अलग अलग भी खिला सकते हैं। लेकिन साथ मिलाने से इनका स्वाद बढ़ने के साथ इनमे पोषक तत्व भी बढ जाते हैं।

हलवा बच्चे को खिलाएं

आटे, सूजी का हलवा बनाकर भी आप बच्चे को खिला सकती है। लेकिन ध्यान रखें की हलवा ज्यादा गर्म न हो। और पहले थोड़ा सा बच्चे को खिलाएं और देखे वो खा रहा है या नहीं। उसके बाद ही बच्चे को खिलाएं बच्चे के साथ बिलकुल भी जबरदस्ती न करें।

तो यह हैं कुछ फ़ूड जो आप अपने घर की किचन में अपने बच्चे के लिए तैयार कर सकती है। यह फ़ूड बनाने में आसान होने के साथ बच्चे के लिए हेल्दी भी होते हैं। क्योंकि इनमे न्यूट्रिएंट्स भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं।