सेब के सिरके के फायदे

सेब के जूस को खमीरीकृत करके बनाए गए जूस को हम एपल विनेगर कहते है। आजकल विनेगर का इस्तेमाल बहुत तेजी से बढ़ गया है, जिनमे सबसे ज्यादा लोकप्रिय है एपल विनेगर यानी सेब का सिरका। सेब का सिरका आजकल सभी के घरो में आसानी से मिल जाता है, इसके मुख्य कारण है इसमें पाए जाने वाले जरुरी पोषक तत्व। सेब का सिरका सेहत का साथ साथ, त्वचा और बालो के लिए भी किया जाता है। इसे इस्तेमाल करने से पहले, यह जानना जरुरी है की इसके क्या क्या फायदे है, तभी हम अपनी जरुरत के हिसाब से इसे इस्तेमाल कर सकते है। तो आइये देखते सेब के सिरके के फायदे।

  • पाचन प्रक्रिया : सेब का सिरका पाचन प्रक्रिया में बहुत ही फायदेमंद होता है। क्योकि इसमें अच्छे बैक्टीरिया और लैक्टिक एसिड होता है जो हमारे पेट को खाना पचाने में सहायता करता है।
  • कोलेस्ट्राल : एक स्टडी के दौरान यह भी पता लगा है की सेब के सिरके में प्रोटीन होता है , जो हमारे शरीर के ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।
  • त्वचा : सेब का सिरका हमारी त्वचा के लिए भी बहुत लाभदायक है। इससे पाने के साथ मिलकर रुई से चेहरे पर लगाए , तो यह हमारी त्वचा के दानो को हटाकर , चेहरे की रंगत को भी निखरता है।
  • बाल : यदि आप अपने बालो की चमक खो चुकी है तो सेब का सिरका आपके बालो की चमक को लोटा सकता है। शैम्पू करने के बाद , पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाकर बाल धोने से बालो की चमक और कोमलपन वापस आ जायेगा।
  • साइनस : अगर आपको साइनस की प्रॉब्लम और आपको बारह महीने कोल्ड से परेशान रहना पड़ता है तो एक चम्मच शहद और दो चम्मच सेब के सिरके को गुनगुने पानी के साथ लेने से साइनस में आपको आराम मिलेगा। ये उपचार मौसमी खासी , सर्दी और जुकाम के दौरान भी कर सकते है।
  • डायबिटीज : आजकल लगभग हर चौथे इंसान को डायबिटीज जैसे बीमारी हो जाती है।इसका प्रमुख कारण है आजकल का खानपान, ऐसे में सेब के सिरके का नियमित इस्तेमाल डायबिटीज से सुरक्षा देता है।
  • वजन घटना : हमारी बेढंगी लाइफस्टाइल के चलते, हम ना तो समय पर खाते ना पीते है , जिसके चलते हमारा वजन बढ़ जाता है। ऐसे में खाने से पहले, पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलकर लेने से वजन घटाने में सहायता मिलती है। क्योंकि सेब का सिरका भूख को दबाने और हमारे शरीर के मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है।
  • दुर्गन्ध : बहुत से लोगो के पैरो और हाथो से बदबू आती है, कई बार इस कारण लोगो के सामने शर्मिंदा भी होना पड़ता है। इस शर्मिंदगी से बचने का उपाय भी सेब के सिरके के पास है। आधी बाल्टी गर्म पानी में, आधा कप सेब का सिरका मिलादे, इस मिश्रण में हाथ और पैर दोनों को डुबो कर रखे, सेब का सिरका सारे डेड सेल्स को निकाल कर आपके हाथ और पैर की बदबू से निजात देगा। और साथ ही आपको ताजगी का भी अनुभव करवाएगा।
  • इम्युनिटी बढ़ाना : यदि किसी की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है तो सेब के सिरके का नियमित सेवन इम्यून सिस्टम को बेहतर करता है।
  • डेटोक्सीफाई : डेटोक्सीफाई करने का अर्थ है, शरीर के अंदर से केमिकल्स या अल्कोहलिक चीज़ो को बहार निकलना। सेब का सिरके एंटीओक्सीडेंट तत्वों से भरपूर होता है। जिसका नियमित सेवन हमारे शरीर के ख़राब प्रदार्थो को बहार निकलता है।
  • जोड़ो में दर्द : बढ़ती उम्र के साथ हमारे जोड़ो में भी दर्द बढ़ता है, हमारे लाइफस्टाइल, उठने और बैठने के तरीको से भी हमारे हाथो और पैरो में दर्द हो जाता है। सेब का सिरके है सबसे महत्वपूर्ण गुण है एंटीइन्फ्लैमटॉरी जो की हमारे दर्द को खींच लेता है। सेब का सिरका मैग्नीशियम, कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट और पोटैशियम से भी भरपूर है जो हमारे जोड़ो और मासपेशियो को दर्द से मुक्त कर उन्हें लचीला बनाते है।
  • ह्रदय : जैसे की हम जानते है ह्रदय रोग सबसे ज्यादा बाद कोलेस्ट्रॉल के कारण होता है। सेब का सिरका ख़राब कोलेस्ट्रॉल को तो ख़त्म करता ही है साथ में रक्त चाप पर भी नियंत्रण रखता है। जिससे ह्रदय सम्बंधित बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

देखा एक सेब के सिरके के कितने सारे गुण है। इसे हम अपनी त्वचा को निखारने, बालो को सूंदर बनाने और सेहतमंद शरीर पाने के लिए अलग अलग तरीको से इस्तेमाल कर सकते है। सेब के सिरके को हम घर पर बनने वाली चटनी, सलाद और सब्जिया में इस्तेमाल कर सकते है। पर ध्यान रखिये किसी भी चीज़ की अति नुक्सान भी पहुंचा सकती है। इसीलिए सेब के सिरके का इस्तेमाल सप्ताह में एक या दो बार ही कीजिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *