Take a fresh look at your lifestyle.

डिलीवरी के इंतज़ार में हैं? तो पहले ही यह काम कर लें

0

डिलीवरी का समय पास आने पर अधिकतर महिलाएं डिलीवरी किस तरह से होगी, बच्चे को कोई दिक्कत तो नहीं होगी, ऐसी बातों को लेकर परेशान हो जाती हैं। खासकर जो गर्भवती महिला पहली बार माँ बनने जा रही होती है वो इन बातों को लेकर ज्यादा चिंतित हो जाती है। जबकि यह समय परेशान होने का नहीं होता है।

बल्कि इस दौरान महिला को बहुत से काम होते हैं जो डिलीवरी से पहले ही कर लेने होते हैं। ताकि डिलीवरी के बाद माँ या बच्चे को बच्चे को कोई दिक्कत न हो। अब आप सोच रहें होंगे की वो कौन से काम हैं जो डिलीवरी से पहले ही महिला को कर लेने चाहिए? तो आइये इस आर्टिकल में हम आपको उन सभी के बारे में विस्तार से बताते हैं।

डिलीवरी के लक्षणों को समझ लें

ऐसा नहीं हैं की डिलीवरी एक दम से ही हो जाती है बल्कि जब डिलीवरी होने वाली होती है तो महिला को शरीर में बहुत से अलग अलग लक्षण महसूस होते हैं। जैसे की पेट में रह रह कर दर्द होना, पीठ में तेजी से दर्द होना, पेल्विक एरिया पर जोर ज्यादा पड़ना, प्राइवेट पार्ट से सफ़ेद पानी का निकलना, डायरिया जैसी समस्या होना आदि।

ऐसे में डिलीवरी होने से पहले महिला को डिलीवरी के सभी लक्षणों की जानकारी इक्कठी कर लेनी चाहिए। ताकि डिलीवरी का समय पास आने पर महिला को किसी भी तरह की परेशानी न हो। और प्रसव से जुडी जानकारी आप इंटरनेट, किताबों या अपने घर के किसी बड़े सदस्य से ले सकती हैं।

डिलीवरी बैग

जब महिला को डिलीवरी के लिए हॉस्पिटल लेकर जाया जाता है तो जिन जिन चीजों की जरुरत महिला को हॉस्पिटल में पड़ सकती है उन सभी चीजों का एक बैग तैयार कर लें। और उस बैग में जरुरी सामान जैसे की सैनिटरी पैड, महिला के लिए कपडे, ब्रा, पैंटी, कम्बल, चादर, पिल्लो, बच्चे के लिए डाइपर, कपडे, दूध का बोतल जरुरी कागज़ जैसे की इंशोरेंस के कागज़, आधार कार्ड, कैश, कार्ड, अपनी मेडिकल रिपोर्ट्स आदि सभी को एक बैग में डाल लें। ताकि जब भी आपको डिलीवरी के लक्षण महसूस हो तो बिना किसी टेंशन के आप हॉस्पिटल बैग लें और जल्द से जल्द हॉस्पिटल पहुँच जाएँ।

शारीरिक रूप से तैयार रहें

डिलीवरी का समय आने से पहले ही महिलाएं डिलीवरी के दौरान होने वाले दर्द को लेकर परेशान रहने लगती है जिसके कारण डिलीवरी के दौरान महिला की दिक्कत बढ़ सकती है। ऐसे में महिला को डिलीवरी के दौरान होने वाली शारीरिक परेशानियों को कम करने के लिए नौवें महीने में ऐसी चीजों का सेवन करना चाहिए जिससे डिलीवरी के दौरान होने वाली परेशानियों को कम करने में मदद मिल सके। जैसे की महिला को घी, ड्राई फ्रूट्स, आयरन युक्त आहार, दालें आदि का भरपूर सेवन करना चाहिए। इससे महिला स्वस्थ रहती है और डिलीवरी के लिए महिला को शरीर को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

मानसिक रूप से रहे तैयार

डिलीवरी के लिए महिला को शारीरिक के साथ मानसिक रूप से भी तैयार रहना चाहिए। और इसके लिए नौवें महीने में महिला को वॉक करनी चाहिए, योगासन करना चाहिए, मैडिटेशन करनी चाहिए, स्विमिंग करनी चाहिए, आदि। ऐसा करने से महिला शारीरिक रूप से तो फिट होती ही है साथ ही इससे महिला को मानसिक रूप से भी फिट होने में मदद मिलती है। जिससे महिला के डिलीवरी को लेकर होने वाले तनाव को कम करने में फायदा होता है।

डिलीवरी के बाद घर में जिन चीजों की जरुरत हैं उन चीजों का भी ध्यान रखें

बच्चे के जन्म के बाद भी महिला को बहुत सी चीजों की जरुरत होती है जैसे की महिला के लिए मालिश वाली की जरुरत होती है, गोंद व् ड्राई फ्रूट्स के लड्डू, घी, सोने के लिए आरामदायक गद्दे, मैटरनिटी बेल्ट, ज्यादा दूध, कामवाली, ब्रेस्टमिल्क पंप, आदि की जरुरत होती है। तो इन सभी चीजों को पहले से ही घर में लाकर रख दें और काम वाली, मालिश वाली, दूध वाले को ज्यादा दूध के लिए बोलकर, पहले से ही अरेंज कर लें।

बच्चे के लिए जरुरी सामान लें आये

घर में नन्हे मेहमान के आने के बाद बच्चे के लिए भी बहुत सी चीजों की जरुरत होती है जैसे की पालना, दूध की बोतल, ज्यादा बिछौने, बच्चे के लिए कपडे, मच्छरदानी, बच्चे को नहलाने के लिए जरुरी सामान आदि उन सभी चीजों को भी घर ले आएं। ताकि नन्हे मेहमान के घर में आने के बाद उसे कोई भी दिक्कत न हो।

बच्चे की केयर कैसे करनी है इससे जुडी जानकारी इक्कठा करें

यदि आप पहली बार माँ बन रही है तो महिला के लिए डिलीवरी से पहले इस बात की जानकारी भी इक्क्ठा करना जरुरी है। जैसे की किस तरह छोटे बच्चे की केयर की जाती है, कब उसे दूध पिलाया जाता है, बच्चा क्या कहना चाहता है उसे कैसे समझा जाएँ, आदि। इस सभी जानकारी को इक्कठा करने से महिला को नवजात बच्चे की केयर करने में मदद मिलती है।

डिलीवरी के बाद क्या करना है क्या नहीं

बच्चे के जन्म के बाद महिला को क्या क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, कौन सी चीजें बच्चे और माँ के लिए फायदेमंद है और कौन सी नुकसानदायक, डिलीवरी के बाद क्या खाना है क्या नहीं, इससे जुडी जानकारी भी डिलीवरी से पहले महिला को इक्कठी कर लेनी चाहिए। ताकि बच्चे के जन्म के बाद महिला को कोई दिक्कत न हो।

तो यह हैं कुछ काम जो डिलीवरी से पहले ही महिला को कर लेने चाहिए ताकि महिला की डिलीवरी को लेकर टैंशन कम करने के साथ माँ व् बच्चे को स्वस्थ रहने में भी फायदा हो सके। यदि आपकी भी डिलीवरी होने वाली है तो आपको भी इन सभी बातों का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए।

Pregnant Woman must do this important work before Delivery

Leave A Reply

Your email address will not be published.