What In India

प्रेगनेंसी में व्रत करने के फायदे और नुकसान

0

प्रेगनेंसी के दौरान व्रत करना चाहिए या नहीं इसे लेकर अधिकतर गर्भवती महिलाओं के मन में सवाल आता है। और इसका जवाब होता है की यदि प्रेग्नेंट महिला व्रत रखना चाहती है तो रख सकती है। लेकिन महिला को निर्जला उपवास यानी पूरे दिन पानी नहीं पीने वाला उपवास या फिर पूरा दिन भूखे रहकर किये जाने वाले उपवास नहीं करना चाहिए। साथ ही व्रत करते समय महिला को बहुत सी बातों का ध्यान भी रखना चाहिए।

क्योंकि यदि महिला बिना जानकारी के व्रत रखती है तो इसके कारण महिला को व्रत रखने के फायदे होने के साथ नुकसान भी हो सकते हैं। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको प्रेगनेंसी में व्रत रखने के फायदे, नुकसान व् व्रत करने समय गर्भवती महिला को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए उसके बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं।

गर्भावस्था के दौरान व्रत रखने के फायदे

गर्भवती महिला यदि व्रत रखती है तो इससे महिला को बहुत से फायदे मिलते हैं जो माँ और बच्चे दोनों को फायदा पहुँचातें हैं। तो आइये अब जानते हैं प्रेगनेंसी में व्रत रखने से कौन से फायदे मिलते हैं।

सेहत रहती है अच्छी

व्रत रखने के दौरान प्रेग्नेंट महिला फलों का भरपूर सेवन करती है, ताजा व् कम मसाले का या उबला हुआ खाना खाती है जिसमे पोषक तत्व भरपूर होते हैं, तरल पदार्थों का भरपूर सेवन करती है, साथ ही समय से अपनी डाइट लेती है तो ऐसा करने से गर्भवती महिला की सेहत अच्छी रहती है।

हड्डियां होती है मजबूत

यदि गर्भवती महिला व्रत रखती है तो महिला डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे की दूध, दही का भरपूर सेवन कर सकती है। और यह कैल्शियम से भरपूर होते हैं जिससे प्रेग्नेंट महिला की हड्डियों को मजबूती मिलने के साथ गर्भ में शिशु की हड्डियों के बेहतर विकास में भी मदद मिलती है।

मन रहता है शांत

व्रत रखने पर महिला का मन भगवान की तरफ लगा रहता है जिससे महिला को मानसिक रूप से रिलैक्स रहने में मदद मिलती है। और महिला को तनाव से बचे रहने में मदद मिलती है।

प्रेगनेंसी में व्रत रखने के नुकसान

प्रेग्नेंट महिला यदि व्रत रखती है तो इससे महिला को फायदे होने के साथ कुछ नुकसान होने का खतरा भी रहता है। जैसे की:

थकान व् कमजोरी

गर्भावस्था के दौरान महिला को व्रत रखने के कारण थकान व् कमजोरी की समस्या हो सकती है। क्योंकि यदि महिला अपनी डाइट अच्छे से नहीं लेती है, पानी का भरपूर सेवन नहीं करती है, आराम नहीं करती है तो महिला को यह दिक्कत हो सकती है। साथ ही महिला को सिर दर्द व् चक्कर जैसी परेशानी भी हो सकती है।

शरीर में पानी की कमी

व्रत रखने के दौरान यदि महिला भरपूर पानी का सेवन भी नहीं करती है तो इसकी वजह से महिला को डीहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। जिसका बुरा असर माँ और बच्चे दोनों की सेहत पर पड़ता है।

आलस अधिक आना

यदि महिला व्रत रखती है तो महिला को आलस अधिक आता है जिसकी वजह से महिला एक्टिव नहीं रहती है। और प्रेग्नेंट महिला यदि एक्टिव नहीं रहती है तो इसकी वजह से महिला की परेशानियां बढ़ सकती है।

वजन बढ़ने का खतरा

व्रत रखने के बाद तला भुना, मसालेदार खाना खाने की इच्छा अधिक होती है। जिसकी वजह से महिला के वजन बढ़ने का खतरा भी अधिक बढ़ जाता है। और प्रेगनेंसी के दौरान वजन का जरुरत से ज्यादा बढ़ना माँ और बच्चे दोनों के लिए नुकसानदायक हो सकता है।

शिशु के विकास को होता है खतरा

यदि प्रेग्नेंट महिला उपवास रखती है और उस दौरान महिला अपना अच्छे से ध्यान नहीं रखती है तो व्रत रखने के कारण बच्चे के विकास में कमी आ सकती है। जिसकी वजह से जन्म के समय बच्चे के वजन में कमी जैसी समस्या होने का खतरा बढ़ जाता है।

प्रेग्नेंट महिला व्रत करते समय किन बातों का ध्यान रखें

  • पूरा दिन भूखे या प्यासे रहकर उपवास नहीं करें।
  • व्रत रखने पर महिला हर दो घंटे के गैप में फल, सलाद, स्नैक्स, भोजन आदि का सेवन करती रहे।
  • दिन भर में पानी का भरपूर सेवन करने के साथ, जूस, नारियल पानी, निम्बू पानी का सेवन भी जरूर करें ताकि शरीर में एनर्जी भरपूर रहें।
  • यदि आपको प्रेगनेंसी के दौरान दिक्कतें ज्यादा हो रही हैं या प्रेगनेंसी में कॉम्प्लीकेशन्स है तो आपको व्रत नहीं करना चाहिए।
  • व्रत रखने पर ज्यादा तला भुना आहार न लेकर ताजा व् उबला हुआ लेकिन पोषक तत्वों से भरपूर आहार लेना चाहिए।
  • नींद में भी महिला को किसी तरह की लापरवाही नहीं करनी चाहिए और आराम भी भरपूर करना चाहिए।
  • गर्भावस्था के दौरान व्रत करने पर महिला को चाय कॉफ़ी आदि का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए।
  • डॉक्टर द्वारा बताई गई दवाइयों का समय से सेवन करना चाहिए।
  • व्रत रखने से पहले एक बार डॉक्टर से बात जरूर करें।

तो यह हैं प्रेगनेंसी में व्रत करने के फायदे व् नुकसान साथ ही कुछ टिप्स जिनका ध्यान महिला को व्रत करते समय रखना चाहिए। यदि महिला इन बातों का ध्यान रखती है तो इससे महिला को व्रत रखने से किसी तरह की परेशानी नहीं होती है।

Health benefits and harmful effects of fasting during pregnancy

Leave a comment