What In India

प्रेगनेंसी में पिम्पल्स, फोड़े, फुंसी की समस्या से बचाव के उपाय

0

गर्भावस्था के दौरान महिला को शारीरिक परेशानियों के साथ स्किन सम्बंधित समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है। क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव होने के कारण स्किन भी बहुत सेंसिटिव हो जाती है जिसकी वजह से महिला को चेहरे पर फुंसी, मुहांसे, पिम्पल्स, फोड़े जैसी समस्या हो सकती है। ऐसे में महिलाएं इस समस्या के उपचार के लिए केमिकल युक्त क्रीम का इस्तेमाल कर सकती है।

लेकिन केमिकल युक्त क्रीम का इस्तेमाल करने से महिला की यह समस्या बढ़ने का खतरा भी हो सकता है। ऐसे में महिला प्रेगनेंसी के दौरान स्किन से जुडी इस परेशानी के समाधान के लिए घरेलू नुस्खे ट्राई कर सकती है। जिससे महिला को कोई दिक्कत भी नहीं होती है और इस समस्या का समाधान भी हो जाता है। तो आइये अब प्रेगनेंसी में पिम्पल्स, फोड़े, फुंसी की समस्या से बचाव के लिए महिला किन किन नुस्खों को ट्राई कर सकती है उसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

प्रदूषण धूप से बचाव

धूप में बैठने के कारण, प्रदूषण के कारण भी स्किन पर बुरा प्रभाव पड़ता है जिसके कारण प्रेग्नेंट महिला को यह परेशानी हो सकती है। ऐसे में इस परेशानी से बचाव के लिए महिला को धूप में सनस्क्रीन लगाकर जाना चाहिए और जितना हो सके धूप में जाने से बचना चाहिए, साथ ही धूल मिट्टी वाली जगह पर भी नहीं जाना चाहिए। यदि महिला ऐसा करती है तो महिला को इस परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है।

पानी पीएं भरपूर

गर्भावस्था के दौरान महिला भरपूर पानी का सेवन करें। इससे शरीर में तरल पदार्थों की मात्रा भरपूर रहेगी जिससे स्किन को हाइड्रेट रहने में मदद मिलेगी साथ ही बॉडी में से विषैले पदार्थ भी बाहर निकल जाएंगे। जिससे महिला की स्किन को साफ़, कोमल व् ग्लोइंग रहने में मदद मिलेगी।

एलोवेरा जैल

स्किन से जुडी हर परेशानी के इलाज के लिए एलोवेरा जैल का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। ऐसे में यदि प्रेग्नेंट महिला को पिम्पल्स, मुहांसे, फुंसी फोड़े की समस्या हो जाती है तो महिला उस जगह पर एलोवेरा जैल लगाएं। और एलोवेरा जैल के सूखने के बाद साफ़ पानी से मुँह धो लें।

आलू का रस

आलू को कसकर उसका रस निकाल लें उसके बाद रुई की मदद से इस रस को पिम्पल्स, फुंसी, फोड़े वाली जगह पर लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें। सूखने के बाद इसे साफ़ पानी से धो दें, नियमित ऐसा करने से आपको इस समस्या से निजात पाने में मदद मिलेगी।

कच्चा दूध

कच्चा दूध भी स्किन को ग्लोइंग व् साफ़ रखने में मदद करता है। ऐसे में प्रेग्नेंट महिला प्रेगनेंसी के दौरान पिम्पल्स, फुंसी, फोड़े की समस्या से बचे रहने के लिए कच्चे दूध का इस्तेमाल कर सकती है। इसके लिए प्रेग्नेंट महिला रात को सोने से पहले रुई की मदद से कच्चा दूध चेहरे पर लगाएं और सुबह उठकर साफ़ पानी से चेहरे को धो लें।

शहद

शहद का इस्तेमाल करने से भी स्किन से जुडी परेशानियों से बचे रहने व् उन्हें ठीक करने में मदद करता है। ऐसे में प्रेगनेंसी के दौरान महिला स्किन से जुडी परेशानियों से निजात के लिए एक चम्मच शहद को मास्क की तरह चेहरे पर लगाएं। और लगभग बीस से पच्चीस मिनट के बाद गुनगुने पानी से चेहरे को धो लें। ऐसा हफ्ते में तीन से चार बार करें।

सेब का सिरका

चेहरे पर होने वाले पिम्पल्स, मुहांसे की समस्या से निजात पाने के लिए सेब के सिरके का इस्तेमाल करना भी बहुत फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल के लिए महिला रुई की मदद से सेब का सिरका चेहरे पर लगाए और जब स्किन इसे अच्छे से सोख ले, उसके बाद आप मुँह को साफ़ पानी से धो लें।

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा में पानी मिलाकर एक पतला पेस्ट तैयार करें, पेस्ट तैयार करने के बाद आप इसे मास्क के रूप में चेहरे पर लगाएं। और सूखने के बाद इसे साफ़ पानी से धो दें। ऐसा करने से भी प्रेग्नेंट महिला को प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली पिम्पल्स, मुहांसे, फुंसी, फोड़े की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ टिप्स जिन्हे ट्राई करने से प्रेगनेंसी में पिम्पल्स, फोड़े, फुंसी की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है साथ ही महिला की स्किन की कोमलता और ग्लो को बरकरार रहने में मदद मिलती है। साथ ही महिला किसी उपाय को ट्राई करने सेपहले इस बात का ध्यान रखें की महिला जो भी उपाय कर रही है उसमे इस्तेमाल की जाने वाली चीजों से महिला को किसी भी तरह की एलर्जी न होती हो।

Home remedies for pimples during pregnancy

Leave a comment