Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेग्नेंट महिला को पहली तिमाही में यह 10 फूड जरूर खाने चाहिए?

0

प्रेगनेंसी के दौरान महिला के ऊपर अपने और अपने शिशु के पोषण की दुगुनी जिम्मेवारी हो जाती है। ऐसे में प्रेगनेंसी की शुरुआत से ही महिला को अपनी डाइट का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए। प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला को सामान्य से ज्यादा 300 कैलोरी की जरुरत होती है। ऐसे में जरुरी होता है की महिला पोषक तत्वों से भरपूर डाइट ले ताकि महिला भी स्वस्थ रहें और बच्चे का विकास भी अच्छे से हो। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे 10 फूड्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में जरूर खानी चाहिए।

डेयरी प्रोडक्ट्स

प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला को दूध दही और अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स का भरपूर सेवन करना चाहिए। क्योंकि डेयरी प्रोडक्ट्स में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है जो शिशु की हड्डियों के विकास को बेहतर करने और महिला की हड्डियों को पोषण पहुंचाने में मदद करता है। जिससे बच्चे का विकास अच्छे से होता है और महिला की शारीरिक परेशानियां कम होती है।

दालें व् फलियां

दालें व् फलियां प्रोटीन का बेहतरीन स्त्रोत होती है जो शिशु की कोशिकाओं के बेहतर विकास में मदद करती है। जिससे शिशु का सम्पूर्ण शुरूआती विकास बेहतर होता है। साथ ही दालों का सेवन महिला के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

हरी सब्जियां

हरी सब्जियां जैसे की पालक, सरसों आदि आयरन, फोलेट, फाइबर व् अन्य पोषक तत्वों का बेहतरीन स्त्रोत होती है। और यह सभी पोषक तत्व शिशु के विकास को बेहतर करने में मदद करते हैं साथ ही महिला की प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में होने वाली परेशानियों को कम करने में मदद करते हैं।

फल

प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला को फलों का सेवन भी भरपूर मात्रा में करना चाहिए। क्योंकि फलों में भी पोषक तत्व जैसे की कैल्शियम, आयरन, फाइबर, आदि भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। जो प्रेग्नेंट महिला और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं।

अंडा

प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला चाहे तो अंडे का सेवन भी कर सकती है अंडा फैट, प्रोटीन, कैल्शियम का बेहतरीन स्त्रोत होता है। जो शिशु के शुरूआती विकास को बेहतर करने में मदद करता है।

साबुत अनाज

साबुत अनाज जैसे की गेहूं, ओट्स, मक्का, दलिया आदि का सेवन भी महिला को प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में जरूर करना चाहिए। क्योंकि इनमे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। जो गर्भवती महिला और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं।

सलाद

गर्भावस्था की की पहली तिमाही में महिला को सब्जियों व् फलों के सलाद का भी भरपूर करना चाहिए। इससे महिला का पाचन तंत्र भी अच्छे से काम करता है और महिला और बच्चे को जरुरी पोषक तत्व भी मिलते हैं।

अन्य सब्जियां

हरी सब्जियों के अलावा महिला को अन्य सब्जियां जैसे की मटर, गाजर, निम्बू, गोभी, शलगम, मशरूम, टमाटर, आलू आदि का भी भरपूर सेवन करना चाहिए। क्योंकि यह सभी सब्जियां भी पोषक तत्वों से भरपूर होती है।

ड्राई फ्रूट्स

ज्यादा नहीं लेकिन बादाम, अखरोट जैसे ड्राई फ्रूट्स का सेवन भी प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला को जरूर करना चाहिए। और हो सके तो रात भर भिगोने के बाद सुबह के नाश्ते में इन्हे खाना चाहिए।

नॉन वेज

प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला चाहे तो हफ्ते में एक या दो बार थोड़ा बहुत नॉन वेज भी ले सकती है। क्योंकि इससे शिशु के शुरूआती विकास को बेहतर करने में मदद मिलती है। नॉन वेज का सेवन करते समय महिला इस बात का ध्यान रखें की महिला कच्चे नॉन वेज, बिना साफ़ सफाई के नॉन वेज, अधपके नॉन वेज का सेवन नहीं करें।

प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में क्या नहीं खाएं

बेहतर खानपान के साथ इस बात का ध्यान भी प्रेग्नेंट महिला को जरूर रखना चाहिए की प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला क्या नहीं खाएं। ताकि माँ और बच्चे को किसी तरह की दिक्कत नहीं हो। तो प्रेग्नेंट महिला को प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में कच्चा पपीता, अनानास, अंगूर, कच्चा अंडा, कच्चा मास, बिना धुले फल व् सब्जियां, बासी व् ठंडा खाना, डिब्बाबंद फ़ूड, मर्करी युक्त मछली, बैंगन, जंक फ़ूड, ज्यादा तेल मसाले वाले आहार, जिन चीजों की तासीर गर्म होती है, ज्यादा चाय कॉफ़ी और चॉकलेट आदि का सेवन नहीं करना चाहिए।

तो यह हैं वो 10 फ़ूड जो प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में महिला को जरूर खाने चाहिए। यदि महिला इन फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करती है तो इससे गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। साथ ही बच्चे के शुरूआती विकास को भी बेहतर होने में मदद मिलती है।

Ten healthy foods to eat during pregnancy first trimester

Leave a comment