Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

इन चीजों को खाने से शिशु का विकास बेहतर होता है?

0

प्रेगनेंसी के दौरान महिला इस बात का सबसे ज्यादा ध्यान रखती है की गर्भ में पल रहे शिशु का विकास अच्छे से हो। और शिशु के बेहतर विकास के लिए सबसे जरुरी है की महिला अपने खान पान का ध्यान अच्छे से रखें। क्योंकि यदि महिला अपने खान पान का अच्छे से ध्यान रखती है तो महिला के आहार में मौजूद पोषक तत्व शिशु को भरपूर मात्रा में मिलते हैं। जिससे शिशु का विकास बेहतर तरीके से होता है तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका सेवन करने से शिशु का विकास अच्छे से होने में मदद मिलती है।

डेयरी प्रोडक्ट्स

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे की दूध, दही, पनीर आदि का भरपूर सेवन करना चाहिए। क्योंकि इनमे कैल्शियम और प्रोटीन की अधिकता होती है। जो शिशु के शारीरिक विकास के साथ मानसिक विकास को भी बेहतर करने में मदद करते हैं।

हरी सब्जियां

प्रेग्नेंट महिला को हरी सब्जियों जैसे की पालक, मेथी, सरसों, बथुआ आदि का भी भरपूर सेवन करना चाहिए। क्योंकि हरी सब्जियों में आयरन, फोलेट भरपूर मात्रा में मौजूद होता है। जो शिशु के विकास को बेहतर करने के साथ शिशु को जन्मदोष से भी सुरक्षित रखने में भी मदद करते हैं।

दालें

प्रोटीन, आयरन व् अन्य मिनरल्स से भरपूर दालों का सेवन भी प्रेग्नेंट महिला को जरूर करना चाहिए। क्योंकि इससे शिशु के शारीरिक व् मानसिक विकास को बेहतर करने में मदद मिलती है।

फल

फल स्वादिष्ट होने के साथ पोषक तत्व से भी भरपूर होते हैं ऐसे में फलों का सेवन भी गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। ताकि फलों में मौजूद पोषक तत्व शिशु को भी मिलें जिससे शिशु का विकास गर्भ में अच्छे तरीके से हो। फलों में महिला को अमरुद, केला, सेब, अनार, कीवी, संतरा आदि का सेवन जरूर करना चाहिए।

बादाम, अखरोट व् अन्य ड्राई फ्रूट्स

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को ड्राई फ्रूट्स का भी सेवन करना चाहिए। खासकर बादाम और अखरोट का सेवन तो महिला को जरूर करना चाहिए। क्योंकि इसमें प्रोटीन, विटामिन्स ओमेगा 3 फैटी एसिड जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो गर्भ में शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास को बेहतर करने में मदद करते हैं।

अंडा

गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास के लिए प्रेग्नेंट महिला को अंडा भी जरूर खाना चाहिए। और हो सके तो अंडे को ऑमलेट या किसी अन्य रूप में खाने की बजाय उबाल कर खाएं। लेकिन अंडे का सेवन करने से पहले ध्यान रखें की अंडा कच्चा या आधा पका हुआ नहीं हो नहीं तो इसकी वजह से बच्चे के विकास पर गलत असर भी पड़ सकता है।

मछली या नॉन वेज

प्रेग्नेंट महिला यदि नॉन वेज खा लेती है तो महिला को प्रेगनेंसी के दौरान नॉन वेज या मछली का सेवन भी जरूर करना चाहिए। क्योंकि मछली और नॉनवेज का सेवन करने से गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास को बेहतर करने में मदद मिलती है।

घी

प्रेगनेंसी के दौरान रोजाना महिला को रोटी पर लगाकर या सब्ज़ी में डालकर कम से कम दो चम्मच घी का सेवन जरूर करना चाहिए। क्योंकि घी का सेवन करने से भी गर्भ में शिशु के विकास को बेहतर करने में मदद मिलती है।

तरल पदार्थ

गर्भ में बच्चे के बेहतर विकास के लिए खाने का ध्यान रखने के साथ महिला को शरीर में तरल पदार्थों की कमी भी नहीं होने देनी चाहिए। और इसके लिए प्रेग्नेंट महिला को एक दिन में आठ से दस गिलास पानी पीने के साथ नारियल पानी, जूस, निम्बू पानी आदि का भी सेवन करना चाहिए। क्योंकि शरीर में तरल पदार्थ भरपूर होने से गर्भाशय में एमनियोटिक फ्लूड की मात्रा सही रहती है जिससे जिससे गर्भ में शिशु का विकास भी बेहतर होता है।

प्रीनेटल विटामिन्स

प्रेगनेंसी के दौरान डॉक्टर्स महिला को कुछ दवाइयों का सेवन करने की सलाह देते हैं। प्रेग्नेंट महिला को उन दवाइयों का सेवन भी सही समय से करना चाहिए। ताकि प्रेग्नेंट महिला के शरीर में पोषक तत्वों की कमी नहीं हो और बच्चे का विकास भी बेहतर तरीके से हो सके।

तो यदि आप भी माँ बनने वाली है और चाहती है की आपका शिशु भी हष्ट पुष्ट और बुद्धिमान हो तो आपको भी इन खाद्य पदार्थों का सेवन भरपूर करना चाहिए। इसके अलावा महिला को डॉक्टर से भी इस बारे में सलाह जरूर लेनी चाहिए ताकि बच्चे के शारीरिक व् मानसिक विकास में किसी भी तरह की कमी न रहे।

Pregnancy diet for healthy baby

Leave a comment