प्रेगनेंसी में सुरक्षित कैसे सोएं?

0

गर्भावस्था की न्यूज़ कन्फर्म होते ही महिला का लाइफ स्टाइल, महिला का रूटीन, महिला का खान पान, सभी में बदलाव आ जाता है। क्योंकि प्रेगनेंसी महिला के लिए वो समय होता है जब महिला को केवल अपने लिए ही नहीं बल्कि अपने गर्भ में पल रहे शिशु के लिए भी सोचना होता है। और गर्भ में पल रहा शिशु अपने विकास के लिए अपनी माँ पर ही निर्भर करता है। ऐसे में महिला को बच्चे के विकास के लिए केवल अपने खान पान ही नहीं बल्कि महिला क्या कर रही है, कैसे सो रही है इन सभी बातों का भी ध्यान रखना होता है।

क्योंकि यदि महिला खान पान तो अच्छा ले रही है लेकिन सोने में गलती कर रही है यानी की महिला की सोने की पोजीशन सही नहीं है, भरपूर नींद नहीं ले रही है। तो इसका असर भी गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ता है। तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको प्रेगनेंसी के दौरान महिला को कैसे सोना चाहिए जिससे माँ या बच्चे दोनों को कोई दिक्कत नहीं हो उस बारे में बताने जा रहे हैं।

उल्टा नहीं सोएं

गर्भावस्था के दौरान महिला को उल्टा होकर बिल्कुल भी नहीं सोना चाहिए। क्योंकि उल्टा होकर सोने से गर्भवती महिला के पेट पर दबाव पड़ता है। जिसकी वजह से गर्भ में पल रहे बच्चे को असुविधा महसूस हो सकती है। ऐसे में पेट के बल सोने से गर्भवती महिला को बचना चाहिए।

एक ही पोजीशन में बहुत देर तक नहीं सोएं

गर्भावस्था के समय महिला को एक ही पोजीशन में बहुत देर तक नहीं सोना चाहिए। यानी की सोते समय थोड़ी थोड़ी देर बाद अपनी पोजीशन बदलते रहना चाहिए। और जितना हो सके करवट लेकर सोना चाहिए।

बाईं और करवट लेकर सोना है सबसे बेहतरीन

गर्भावस्था के दौरान महिला को बाईं और करवट लेकर सोना चाहिए। क्योंकि बाईं और करवट लेकर सोने से शरीर में ब्लड फ्लो अच्छे से होता है, गर्भ में बच्चे को कोई दिक्कत नहीं होती है, महिले को सोने में किसी तरह की दिक्कत नहीं होती है, आदि।

पीठ के बल नहीं सोएं

गर्भावस्था के दौरान महिला को पीठ के बल नहीं सोना चाहिए। क्योंकि पीठ के बल सोने से गर्भाशय का पूरा भार पीठ पड़ जाता है। जिसकी वजह से महिला को पीठ में दर्द की समस्या हो जाती है। साथ ही पेट के बाहर आने के बाद पैरों तक अच्छे से ब्लड फ्लो भी नहीं होता है जिसकी वजह से महिला को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

ज्यादा टाइट कपडे पहनकर नहीं सोएं

बेहतर नींद लेने के लिए महिला सोते समय अपने पहनावें का भी ध्यान रखना चाहिए। यानी महिला को जितना हो सके ऐसे कपडे पहनकर सोना चाहिए जो ज्यादा टाइट नहीं हो, चुभने वाले नहीं हो, आदि। यदि महिला आरामदायक कपडे पहनकर सोती है तो इससे महिला को बेहतर नींद लेने में मदद मिलती है और कोई दिक्कत नहीं होती है।

प्रेगनेंसी पिल्लो का इस्तेमाल करें

जिन गर्भवती महिलाओं को सोने में ज्यादा दिक्कत होती है उन गर्भवती महिलाओं को प्रेगनेंसी पिल्लो का इस्तेमाल करना चाहिए। प्रेगनेंसी पिल्लो का इस्तेमाल करने से गर्भवती महिला को बेहतर नींद लेने में मदद मिलती है।

खान पान सही रखें

रात को सोने से पहले लिया जाने वाले आहार भी महिला को ऐसा लेना चाहिए जिसे पचाने में महिला को कोई दिक्कत नहीं हो। और वो आहार आसानी से हज़म हो सके। साथ ही महिला को सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध भी पीना चाहिए। यदि महिला इन बातों का ध्यान रखती है तो महिला को सोते समय होने वाली दिक्कत से बचे रहने और बेहतर नींद लेने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ टिप्स जिनका ध्यान प्रेग्नेंट महिला सोते समय रखती है तो ऐसा करने से महिला को अच्छी नींद आती है और सोने में किसी भी तरह की दिक्कत नहीं होती है।

How to sleep safely in pregnancy