जो प्रेग्नेंट महिलाएं नॉन वेज नहीं खाती हैं वो यह चीजें जरूर खाएं

ज्यादातर गर्भवती महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान वो चीजें खाना सबसे ज्यादा पसंद करती है जिससे माँ और बच्चे दोनों को फायदे मिलें। कुछ गर्भवती महिलाएं वेज खाना ज्यादा पसंद करती है तो कुछ महिलाएं नॉन वेज खाना ज्यादा पसंद करती है। और गर्भावस्था के दौरान महिलाएं वेज और नॉन वेज दोनों ही आहार ले सकती है।

लेकिन यदि कोई महिला नॉन वेज नहीं खाती है तो नॉन वेज से मिलने वाले पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए महिला अपनी डाइट में वेज आहार को शामिल कर सकती है। तो आज इस आर्टिकल हम आपको जो प्रेग्नेंट महिलाएं नॉन वेज नहीं खाती हैं उन्हें अपनी डाइट में किन किन चीजों को जरूर शामिल करना चाहिए उसके बारे में बताने जा रहे हैं।

सोयाबीन

सोयाबीन प्रोटीन, आयरन, ओमेगा 3 फैटी एसिड, फाइबर, विटामिन के, मैग्नीशियम, फोलेट, जिंक व् अन्य पोषक तत्वों का बेहतरीन स्त्रोत होता है। और यह सभी पोषक तत्व गर्भवती महिला को स्वस्थ रखने के साथ बच्चे के बेहतर विकास में भी अहम रोल अदा करते हैं। जैसे की इससे शिशु को जन्मदोष से बचाव के साथ बच्चे के बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास में मदद मिलती हैं साथ ही गर्भवती महिला को कोलेस्ट्रॉल, घबराहट, पाचन से जुडी परेशानियों, मसल्स से जुडी परेशानियों आदि से बचाने में मदद मिलती हैं।

पनीर

पनीर में कैल्शियम, प्रोटीन, ओमेगा 3 फैटी एसिड जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। कैल्शियम महिला की हड्डियों को मजबूत करने और गर्भ में शिशु की हड्डियों के बेहतर विकास में मदद करता है। प्रोटीन महिला की मसल्स को स्ट्रांग करने और बच्चे की मांसपेशियों के बेहतर विकास में मदद करता है, ओमेगा 3 फैटी एसिड बच्चे के दिमाग के विकास के लिए अच्छा होता है, आदि। साथ ही गर्भावस्था के दौरान महिला को अतिरिक्त कैलोरी की जरुरत होती है जो पनीर से पूरी हो सकती है।

ड्राई फ्रूट्स

कैल्शियम, आयरन, फाइबर, प्रोटीन, पोटैशियम, जैसे पोषक तत्वों से भरपूर ड्राई फ्रूट्स का सेवन भी गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। क्योंकि ड्राई फ्रूट्स में मौजूद पोषक तत्व महिला व् बच्चे के लिए बहुत जरुरी होते हैं।

दालें

दालें प्रोटीन का बेहतरीन स्त्रोत होती है जो गर्भवती महिला की मांसपेशियों को मजबूत करने और बच्चे की कोशिकाओं के बेहतर विकास में मदद करती है। जिससे प्रेगनेंसी के दौरान महिला की परेशानियां कम होती है और बच्चे के बेहतर विकास में मदद मिलती है।

दही

दही भी प्रोटीन, कैल्शियम आदि का बेहतरीन स्त्रोत होती है जो माँ व् गर्भ में पल रहे बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होती है। इसीलिए जो महिलाएं नॉन वेज नहीं खाती है उन्हें दिन में कम से कम एक कटोरी दही का सेवन रोजाना करना चाहिए।

सेब, अनार जैसे फल

सेब, अनार, अमरुद, जैसे फलों का सेवन भी उन गर्भवती महिलाओं को भरपूर करना चाहिए जो नॉन वेज का सेवन नहीं करती है। क्योंकि फलों में पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो गर्भवती महिला व् गर्भ में पल रहे बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं।

हरी सब्जियां

हरी सब्जियां भी पोषक तत्वों की खान होती है इसीलिए हरी सब्जियों का सेवन भी प्रेग्नेंट महिला को भरपूर करना चाहिए। हरी सब्जियों के अलावा गाजर, चुकन्दर, टमाटर, गोभी, आदि का सेवन भी प्रेग्नेंट महिला को जरूर करना चाहिए।

तो यह हैं कुछ चीजें जिनका सेवन उन गर्भवती महिलाओं को भरपूर करना चाहिए जो नॉन वेज का सेवन नहीं करती हैं। क्योंकि इन सभी चीजों में वो पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो नॉन वेज का सेवन करने से माँ व् बच्चे को मिलते हैं।

Pregnant women who do not eat non-veg must eat these things