Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेगनेंसी में घी ज्यादा फायदेमंद है या मक्खन?

0

सेहतमंद रहने के लिए घी और मक्खन दोनों का सेवन फायदेमंद होता है। साथ ही इनका इस्तेमाल खाने में करने से खाने का जायका और भी बढ़ जाता है। आज इस आर्टिकल में हम प्रेगनेंसी के दौरान घी का सेवन ज्यादा फायदेमंद होता है या मक्खन का सेवन, इसके बारे में बात करने जा रहे हैं। और यह जरुरी भी है क्योंकि गर्भावस्था महिला के लिए ऐसा समय होता है जहां जो चीजें माँ और बच्चे दोनों के लिए ज्यादा फायदेमंद होती है उन्हें ही महिला को अपने खान पान में शामिल करने की सलाह दी जाती है।

प्रेग्नेंट महिला के लिए घी या मक्खन किसका सेवन है ज्यादा फायदेमंद?

मक्खन और घी दोनों ही दूध से बनते हैं लेकिन मक्खन को जब पिघला कर पकाया जाता है तो उसमे से घी निकलता है। प्रेगनेंसी के दौरान वैसे तो महिला घी और मक्खन दोनों का सेवन कर सकती है। लेकिन जब बात ज्यादा फायदे की आती है तो प्रेगनेंसी के दौरान घी का सेवन करना गर्भवती महिला के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसीलिए प्रेग्नेंट महिला को मक्खन का सेवन करने की बजाय घी को अपनी डाइट का हिस्सा बनाना चाहिए। तो आइये अब प्रेगनेंसी में घी का सेवन करने से कौन कौन से बेहतरीन फायदे मिलते हैं उसके बारे में जानते हैं।

गर्भावस्था में घी का सेवन करने के फायदे

गर्भवती महिला यदि प्रेगनेंसी में नियमित रूप से जरुरत के अनुसार घी का सेवन करती है तो इससे गर्भवती महिला और बच्चे दोनों को फायदे मिलते हैं। जैसे की:

डाइज़ेशन बेहतर होता है

घी का सेवन करने से महिला को खाना हज़म करने में दिक्कत नहीं होती है। जिससे प्रेग्नेंट महिला को कब्ज़, गैस जैसी परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है।

इम्युनिटी स्ट्रांग होती है

घी का सेवन करने से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे प्रेगनेंसी के दौरान माँ और बच्चे दोनों को बिमारियों व् संक्रमण से बचे रहने में मदद मिलती है।

कमजोरी दूर होती है

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को कमजोरी थकान जैसी परेशानियां हो सकती है। लेकिन घी का सेवन करने से महिला की इन परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती है। क्योंकि घी का सेवन करने से महिला को जरुरी पोषण मिलता है जिससे महिला ऊर्जा से भरपूर रहती है।

कोलेस्ट्रॉल कण्ट्रोल

घी खाने से शरीर में बाद कोलेस्ट्रॉल कम होता है जिससे महिला को कोलेस्ट्रॉल से जुडी परेशानी से बचे रहने में मदद मिलता है।

वजन

जिन गर्भवती महिलाओं का वजन कम होता है उन्हें अपनी डाइट में घी का सेवन जरूर करना चाहिए ताकि माँ और बच्चे दोनों क वजन सही रहने में मदद मिल सके।

हड्डियों के लिए है फायदेमंद

घी में विटामिन k2 मौजूद होता है जो गर्भवती महिला की हड्डियों को मजबूत रखने के साथ गर्भ में शिशु की हड्डियों के बेहतर विकास में भी मदद करता है।

प्रसव आसान होता है

प्रेगनेंसी की आखिरी तिमाही में घी का सेवन करने से महिला को प्रसव पीड़ा की शुरुआत करने में मदद मिलती है जिससे सामान्य डिलीवरी होने के चांस बढ़ जाते हैं।

तो यह हैं प्रेगनेंसी में घी या मक्खन किसका सेवन ज्यादा फायदेमंद है उससे जुड़े टिप्स, साथ ही प्रेगनेंसी में घी का सेवन करने के फायदे। लेकिन ध्यान रखें महिला सिमित मात्रा में ही घी का सेवन करें, वजन ज्यादा हो तो घी का सेवन नहीं करें, सर्दी में कफ की समस्या हो तो भी घी का सेवन नहीं करें, क्योंकि इनके कारण आपको दिक्कत हो सकती है।

Which one is better during pregnancy butter or desi ghee

Leave a comment