प्रेग्नेंट महिला को फूल क्यों नहीं सूंघने चाहिए?

0

फूल दिखने में खूबसूरत होने के साथ सुगन्धित भी होते हैं इसीलिए हर कोई उनकी तरफ तेजी से आकर्षित भी होता है। और हर किसी का कोई न कोई पसंदीदा फूल भी होता है जिसका रंग या सुगंध उसे बहुत पसंद होती है। क्या आपका भी कोई पसंदीदा फूल है यदि हाँ तो बहुत अच्छी बात है। लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान महिला को फूलों को सूंघने या छूने से बचना चाहिए अब आप सोच रहे होंगे की ऐसा क्यों? तो आइये आज इस आर्टिकल में हम प्रेगनेंसी के दौरान महिला को फूलों को छूना या सूंघना क्यों नहीं चाहिए उसके बारे में बताने जा रहे हैं।

संक्रमण का होता है डर

एक फूल को पता नहीं दिन भर में कितने लोग हाथ लगाते हैं, सूंघते हैं, ऐसे में उसी फूल को यदि प्रेग्नेंट महिला छूती है या सूंघती है। तो इससे यदि किसी व्यक्ति को किसी तरह का संक्रमण होता है तो उसका वायरस फूल पर भी रह जाता है। और उसके बाद उसे भी टच करता है तो वो वायरस उस व्यक्ति के संपर्क में आ सकता है जिसकी वजह से दूसरे व्यक्ति को भी संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में प्रेग्नेंट महिला को संक्रमण से बचाव के लिए फूलों को सुघने या टच करने से बचना चाहिए।

ज्यादा गंध के कारण हो सकती है परेशानी

प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में हो रहे हार्मोनल बदलाव के कारण कुछ महिलाओं को अलग अलग चीजों की गंध से एलर्जी या उल्टी जैसी समस्या होने का खतरा होता है। और हर एक फूल की सुगंध अलग अलग होती है ऐसे में गंध के कारण महिला को किसी भी तरह की परेशानी नहीं हो इससे बचने के लिए महिला को फूलों को सूंघने से बचना चाहिए।

सेहत सम्बन्धी परेशानी हो सकती है

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को ज्यादा सुगन्धित चीजों का इस्तेमाल न करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि ज्यादा सुगन्धित चीजों के कारण महिला को जुखाम जैसी समस्या के होने का खतरा होता है। ऐसे में इस परेशानी से बचे रहने के लिए प्रेग्नेंट महिला को फूलों को सूंघने की मनाही होती है।

कई फूल माँ व् बच्चे को पहुंचा सकते हैं नुकसान

कुछ फूलों की सुंगंध जहर के समान होती है जो स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर डाल सकती है। ऐसे में यदि प्रेग्नेंट महिला ऐसे फूलों को छूती है या सूंघती है तो इसका असर केवल महिला की ही नहीं बल्कि बच्चे की सेहत पर भी पड़ सकता है। इसीलिए प्रेगनेंसी के दौरान माँ व् बच्चे की सेहत को किसी भी तरह का नुकसान से बचे रहने के लिए फूलों को सूंघने या टच करने की मनाही होती है।

फूलों में कांटे और कीड़े आदि भी हो सकते हैं

फूल दिखने में जितने खूबसूरत होते हैं कई बार उसमे उतने ही कीड़े और कांटे मौजूद होते हैं। ऐसे में फूलों को छूने पर यदि महिला को कांटे चुभ जाते हैं या कीड़ा काट जाता है तो इसके कारण भी इन्फेक्शन होने का खतरा होता है। ऐसे में महिला को किसी भी तरह का इन्फेक्शन नहीं हो इससे बचाव के लिए प्रेग्नेंट महिला को फूलों को सूंघने व् छूने की मनाही होती है।

फूलों में मौजूद कीटाणु से हो सकता है नुकसान

फूलों में कीटाणु भी मौजूद होते हैं ऐसे में प्रेग्नेंट महिला यदि फूलों को छूती है तो इसकी वजह से वो कीटाणु शरीर में प्रवेश कर सकते हैं जिसकी वजह से माँ व् बच्चे दोनों की सेहत को नुकसान पहुँच सकता है। ऐसे में माँ व् बच्चे दोनों को ऐसी कोई परेशानी नहीं हो इससे बचने के लिए फूलों को सूंघने व् छूने की मनाही होती है।

तो यह हैं कुछ कारण जिनकी वजह से प्रेग्नेंट महिला को फूलों को सूंघने या छूने से बचना चाहिए। यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं तो आपको भी इन बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि आपको या आपके बच्चे को इस कारण किसी भी तरह की दिक्कत नहीं हो।