प्रेगनेंसी में सर्दी खांसी होने पर यह बिल्कुल नहीं करें?

0

गर्भावस्था के दौरान महिला को बहुत सी शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। और इन परेशानियों के होने का कारण शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव, मौसम में परिवर्तन, इम्युनिटी कमजोर होना आदि हो सकते हैं। साथ ही यदि किसी भी परेशानी को अनदेखा किया जाये तो इसकी वजह से महिला की मुश्किलें बढ़ सकती है।

लेकिन इन परेशानियों के इलाज के लिए बहुत सी बातों का ध्यान रखना चाहिए क्योंकि गर्भावस्था के दौरान यदि थोड़ी भी चूक हो जाये तो इसके कारण महिला की परेशानी घटने की बजाय बढ़ सकती है। आज इस आर्टिकल में हम प्रेगनेंसी के दौरान सर्दी जुखाम की समस्या होने पर महिला को क्या -क्या नहीं करना चाहिए उस बारे में बताने जा रहे हैं। ताकि यदि आप किसी घरेलू तरीके को ट्राई कर रहें हैं तो उसकी वजह से आपको नुकसान नहीं हो।

सर्दी जुखाम होने के लक्षण

  • गले में दर्द होना।
  • खांसी करते समय बलगम निकलना।
  • नाक बंद होना या नाक बहना।
  • लगातार छींके आना।
  • थकान महसूस होना या बुखार जैसा महसूस होना।
  • सिर दर्द रहना।

सर्दी जुखाम होने पर प्रेग्नेंट महिला क्या नहीं करें

यदि आप प्रेग्नेंट हैं और आपको सर्दी जुखाम की समस्या हो गई है तो आपको प्रेगनेंसी के दौरान कुछ उपाय को करने से बचना चाहिए। जैसे की:

काढ़ा नहीं पीएं

सर्दी जुखाम की समस्या से बचने का सबसे आसान उपाय होता है की काढ़ा का सेवन किया जाये। लेकिन प्रेग्नेंट महिला को काढ़ा का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि काढ़ा बनाने के लिए इलायची, अदरक, तुलसी, गिलोय, जैसी चीजों का इस्तेमाल किया जाता है। काढ़ा के लिए इस्तेमाल की जाने वाली इन सभी चीजों की तासीर गर्म होती है।

READ  अचानक से लेबर पेन शुरू हो जाये तो क्या करें?

और गर्म तासीर वाली चीजों का सेवन गर्भवती महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि गर्म तासीर वाली चीजों का सेवन करने से गर्भ में पल रहे बच्चे पर बुरा असर पड़ता है। इसीलिए गर्भावस्था के दौरान सर्दी खांसी की समस्या होने पर महिला को काढ़ा का सेवन नहीं करना चाहिए।

बिना डॉक्टर को संपर्क किए दवाई का सेवन

प्रेग्नेंट महिला को सर्दी खांसी की समस्या होने पर डॉक्टर से बिना सलाह किए अपने आप किसी भी दवाई का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि आपके द्वारा ली गई दवाइयां गर्भ में बच्चे पर नकारात्मक असर डाल सकती है।

गर्म पानी का सेवन नहीं करें

ज्यादातर लोग सर्दी खांसी होने पर गर्म पानी का सेवन करते हैं लेकिन यदि आप प्रेग्नेंट हैं जरुरत से ज्यादा गर्म पानी का सेवन करने से आपको बचना चाहिए। क्योंकि ज्यादा गर्म पानी का सेवन प्रेगनेंसी में बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकता है।

गर्म पानी से नहाना

गर्भवती महिला को सर्दी खांसी की समस्या होने पर गर्म पानी से भी नहीं नहाना चाहिए, हाँ लेकिन महिला गुनगुना पानी नहाने के लिए इस्तेमाल कर सकती है। क्योंकि गर्म पानी से नहाने पर शरीर के तापमान में बदलाव आ सकता है, महिला का ब्लड प्रैशर लौ हो सकता है जो माँ और बच्चे दोनों के लिए सही नहीं होता है।

गर्भावस्था में सर्दी खांसी की समस्या से बचाव के उपचार

  • ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थों का सेवन करें।
  • पोषक तत्वों से भरपूर आहार लें।
  • भरपूर आराम करें।
  • ठण्ड का मौसम हैं तो अपने पहनावें का अच्छे से ध्यान रखें।
  • शहद का सेवन करने से भी प्रेग्नेंट महिला को इस परेशानी से बचे रहने में मदद मिल सकती है।
  • निम्बू और शहद का सेवन करने से भी आपको फायदा मिलता है।
  • लहसुन का सेवन भी इस समस्या से बचाव का एक बेहतरीन उपाय है।
READ  प्रेगनेंसी में दूध और खजूर का सेवन करना चाहिए या नहीं?

तो यह हैं कुछ काम जो प्रेग्नेंट महिला को सर्दी खांसी की समस्या होने पर नहीं करने चाहिए। क्योंकि इन्हे करने से प्रेग्नेंट महिला व् होने वाले बच्चे को दिक्कत हो सकती है। इसके अलावा सर्दी खांसी की समस्या से बचाव के लिए आपको एक बार डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए की आप क्या करें और क्या नहीं ताकि आपको और आपके बच्चे दोनों को किसी भी तरह की समस्या नहीं हो।

Leave A Reply

Your email address will not be published.