Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

चावल या रोटी खाना क्या फायदेमंद होता है प्रेगनेंसी में?

0

अधिकतर लोग यह जानना चाहते हैं की चावल या रोटी दोनों में से कौन ज्यादा फायदेमंद होता है। खासकर प्रेगनेंसी के दौरान तो महिलाएं यह जरूर जानना चाहती है की उनके लिए रोटी खाना ज्यादा बेहतर है या चावल। तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपसे इसी बात के बारे में बात करने जा रहे हैं की आखिर प्रेगनेंसी में चावल खाना ज्यादा फायदेमंद होता है या रोटी का? ताकि गर्भवती महिला के मन में चावल व् रोटी के बारे में आने वाले सवालों का जवाब मिल सके।

दोनों ही होते हैं कैलोरी से भरपूर

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को अतिरिक्त ऊर्जा की जरुरत होती है और उसके लिए प्रेग्नेंट महिला को कैलोरी से भरपूर डाइट लेने की सलाह दी जाती है। ऐसे में गर्भवती महिला को रोटी या चावल को लेकर परेशान होने की बिल्कुल भी जरुरत नहीं हैं। क्योंकि रोटी व् चावल दोनों में कैलोरीज़ भरपूर मात्रा में मौजूद होती है। ऐसे में आप चाहे तो रोटी या फिर चावल या फिर थोड़ा थोड़ा दोनों का सेवन कर सकती है।

प्रोटीन

यदि चावल व् रोटी में प्रोटीन की बात की जाएँ तो दोनों की प्रोटीन के बेहतरीन स्त्रोत होते हैं। लेकिन रोटी में मौजूद प्रोटीन से ज्यादा चावल में मौजूद प्रोटीन की गुणवत्ता अच्छी होती है। ऐसे में प्रोटीन के लिए रोटी से ज्यादा महिला को चावल का सेवन करना चाहिए।

फाइबर

फाइबर युक्त आहार का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान बहुत जरुरी होता है। क्योंकि गर्भावस्था के दौरान पाचन क्रिया धीमी पड़ जाती है ऐसे में फाइबर महिला की पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में मदद करता है। लेकिन यदि चावल और रोटी में से बात की जाये तो रोटी में फाइबर चावल की अपेक्षा ज्यादा होता है।

फैट

प्रेगनेंसी के दौरान वजन को संतुलित रखने के लिए फैट युक्त आहार का सेवन कम ही करना चाहिए। और इसके लिए आपको रोटी या चावल में से किसी एक को चुनने की जरुरत नहीं है। क्योंकि चावल और रोटी दोनों में ही फैट की मात्रा कम होती है।

फोलेट

गर्भ में पल रहे शिशु के लिए फोलेट के महत्वपूर्ण पोषक तत्व है ऐसे में यदि बात की जाये की चावल या रोटी में किस में ज्यादा फोलेट होता है। तो इसका जवाब होता है की रोटी या चावल दोनों में ही फोलेट मौजूद होता है। लेकिन आज कल चावल को पोलिश किया जाता है जिसके कारण उसकी गुणवत्ता में कमी आ सकती है ऐसे में फोलेट के लिए रोटी का सेवन ज्यादा फायदेमंद होता है।

तो यह हैं प्रेगनेंसी के दौरान चावल या रोटी के सेवन से जुडी कुछ बातें, ऐसे में गर्भवती महिला के लिए किसी एक को चुनना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। क्योंकि जो पोषक तत्व चावल में होते हैं वो रोटी में कम होते हैं, जो रोटी में पोषक तत्व होते हैं वो चावल में कम होते हैं, कुछ पोषक तत्व दोनों में बराबर होते हैं। ऐसे में प्रेग्नेंट महिला को दोनों को ही संतुलित मात्रा में लेना चाहिए ताकि दोनों के ही फायदे गर्भवती महिला और बच्चे को मिल सके।

Leave a comment