सर्दियों में प्रेग्नेंट महिला का रूटीन क्या होना चाहिए?

0

प्रेगनेंसी के पूरे नौ महीने तक महिला को अपना ध्यान अच्छे से रखने की सलाह दी जाती है। साथ ही महिला को अपनी बहुत आदतों, खान पान, दिनचर्या आदि में भी बदलाव लाना जरुरी होता है। साथ ही यदि प्रेगनेंसी के दौरान यदि मौसम में बदलाव हो रहा है तो मौसम के अनुसार महिला को अपने रूटीन में बदलाव करना चाहिए।

क्योंकि मौसम के अनुसार महिला जितने अच्छे से अपने रूटीन को फॉलो करती है। उतना ही प्रेग्नेंट महिला और होने वाले बच्चे को मौसम में बदलाव होने के कारण होने वाली परेशानियों से बचने और स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। आज इस आर्टिकल में हम आपको गर्भवती महिला का सर्दियों में रूटीन कैसा होना चाहिए उस बारे में बताने जा रहे हैं।

खान पान का रखें ध्यान

सर्दियों के मौसम में मार्किट में हरी सब्जियां, गाजर, मटर, रंग बिरंगे फल आदि मौजूद होते हैं। और यह सभी विटामिन्स, प्रोटीन, आयरन, फोलेट आदि के बेहतरीन स्त्रोत होते हैं। जो गर्भवती महिला और होने वाले बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं। ऐसे में जरुरी है की महिला सुबह के नाश्ते से लेकर रात तक के आहार को समय से लें। जैसे की:

  • सुबह के नाश्ते में महिला दो अंडे, साबुत अनाज, सब्जियों से बना दलिया, फलों का रस, दूध आदि अपनी मनपसंद का कोई भी आहार ले सकती है। और ध्यान रखें की सोकर उठने के एक घंटे के अंदर आप नाश्ता कर लें।
  • नाश्ता करने के एक से डेढ़ घंटे बाद आपको संतरा, किन्नू, कीवी, अनार जैसे फलों का सेवन करना चाहिए।
  • उसके बाद दोपहर के खाने में आप हरी सब्जी जरूर खाएं।
  • शाम के नाश्ते में भी आप अपनी पसंद का सूप या चाय के साथ कुछ खा पी सकते हैं।
  • उसके बाद रात के आहार में किसी न किसी दाल का सेवन जरूर करें और उसके साथ चपाती खाएं साथ ही दाल में डालकर और रोटी पर लगाकर एक से दो चम्मच घी जरूर खाएं।
  • याद रखें की रोजाना अपनी डाइट में थोड़ा थोड़ा बदलाव करें और छोटे छोटे मील लें ताकि भोजन को पचाने में आसानी हो और आपको भरपूर पोषण मिल सकें।
  • डाइट लेते समय एक बात का ध्यान रखें की प्रेगनेंसी में खाना खाने का मतलब पेट भरना नहीं होता है बल्कि शरीर में पोषक तत्वों की कमी न हो इसका ध्यान रखना जरुरी होता है।
READ  प्रेगनेंसी के दौरान आँखों के आगे अँधेरा आने के क्या कारण होते हैं?

हाइड्रेट रहें

सर्दियों के मौसम में प्यास कम ही लगती है लेकिन आपको ध्यान रखना है की एक दिन में कम से कम आठ से दस गिलास पानी का सेवन आप जरूर करें। और जरुरी नहीं है की हाइड्रेट रहने के लिए आप पानी ही पीएं बल्कि आप नारियल पानी, फलों का रस, दूध आदि का सेवन भी कर सकती है। इसके अलावा ध्यान रखें की आप किसी भी पीने की चीज में बर्फ डालकर, फ्रिज से तुरंत निकालकर उसे न पीएं। साथ ही जब भी पानी पीएं तो उसे थोड़ा गुनगुना कर लें।

धूप भी है जरुरी

सर्दियों में सर्दी से बचाव के लिए गर्भवती महिला थोड़ी देर धूप में भी जरूर बैठें। क्योंकि धूप में बैठने से महिला को विटामिन डी मिलता है जो माँ और बच्चे दोनों के लिए अच्छा होता है। साथ ही धूप में बैठने से महिला को सर्दी से बचे रहने में मदद मिलती है। लेकिन एक बात का ध्यान रखें की लम्बे समय तक धूप में नहीं बैठें खासकर जब धूप बहुत ज्यादा तेज हो।

व्यायाम योगासन भी है जरुरी

सर्दियों में आलस और सुस्ती होना आम बात होती है। ऐसे में महिला को सर्दियों में थोड़ी देर व्यायाम व् योगासन जरूर करना चाहिए और इसे नियमित करना चाहिए इससे महिला की हेल्थ अच्छी रहती है साथ ही सुस्ती व् आलस भी दूर होता है। व्यायाम व् योगासन करते समय इस बात का ध्यान रखें की आप ऐसी कोई भी गलती नहीं करें या लापरवाही नहीं करें जिससे आपको कोई दिक्कत हो।

READ  शिशु के जन्म लेने से पहले ही जान लें की ब्रेस्टफीड कैसे करवाएं?

भरपूर लें नींद

सेहत व् स्वास्थ्य को सही रखने के लिए बहुत जरुरी होता है की महिला भरपूर नींद लें। ऐसे में सर्दियों के मौसम में स्वस्थ रहने के लिए अपने रूटीन में भरपूर नींद को भी गर्भवती महिला को जरूर शामिल करना चाहिए।

सर्दी से बचाव के लिए प्रेग्नेंट महिला इन बातों का ध्यान रखें

  • ठंडी चीजों का सेवन नहीं करें।
  • कैफीन युक्त पदार्थ जैसे की चाय कॉफ़ी का अधिक सेवन नहीं करें।
  • अल्कोहल का सेवन और धूम्रपान नहीं करें।
  • पहनावे का ध्यान रखें गर्म कपडे पहन कर रखें।
  • बासी चीजों का सेवन नहीं करें साथ ही जरुरत से ज्यादा अधिक तला भुना नहीं खाएं।
  • गुनगुने पानी से नहाएं न तो ज्यादा ठंडा और न ही ज्यादा गर्म पानी का इस्तेमाल नहाने के लिए करें।
  • साफ़ सफाई का ध्यान रखें।
  • खाने पीने सोने आदि में लापरवाही नहीं करें।
  • सर्दियों में स्किन से जुडी समस्या होने का खतरा अधिक होता है ऐसे में स्किन को पोषण पहुंचाने के लिए महिला को मॉइस्चराइजर आदि का इस्तेमाल करना चाहिए।

बता यह है सर्दियों में गर्भवती महिला का रूटीन कैसा होना चाहिए उससे जुड़े कुछ टिप्स, यदि आप भी माँ बनने वाली हैं और सर्दियों का मौसम चल रहा है तो आपको भी इन सभी बातों का ध्यान रखना चाहिए। ताकि आपको सर्दियों के मौसम में स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।

Routine for pregnant women in winter season

Leave A Reply

Your email address will not be published.