प्रेगनेंसी में पैदल चलना कब फायदेमंद होता है और कब नुकसानदेह होता है?

0

गर्भावस्था महिला के लिए बहुत ही नाजुक समय होता है जहां महिला द्वारा बरती गई थोड़ी सी लापरवाही का गर्भ में पल रहे बच्चे और महिला दोनों पर बहुत बुरा असर पड़ सकता है। इसीलिए प्रेग्नेंट महिला को प्रेगनेंसी के दौरान किसी भी तरह की लापरवाही को न बरतने की सलाह दी जाती है। और वो हर काम करने की सलाह दी जाती है जो माँ और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है।

जैसे की प्रेगनेंसी के दौरान थोड़ी देर वॉक करने यानी की पैदल चलने की सलाह दी जाती है। लेकिन यह सलाह हर प्रेग्नेंट महिला के लिए नहीं होती है क्योंकि प्रेगनेंसी में कुछ केस ऐसे होते हैं जहां पर पैदल चलने के कारण भी माँ व् बच्चे को दिक्कत हो सकती है। आज इस आर्टिकल में हम आपको प्रेग्नेंट महिला के लिए कब पैदल चलना फायदेमंद होता है और कब नुकसानदायक होता है इस बारे में बताने जा रहे हैं।

गर्भावस्था में पैदल चलना कब होता है फायदेमंद?

प्रेग्नेंट महिला के लिए पैदल चलना जब फायदेमंद होता है जब महिला पूरी तरह से स्वस्थ होती है, प्रेगनेंसी में किसी तरह की कॉम्प्लीकेशन्स नहीं होती है, चलने के कारण महिला को कोई दिक्कत नहीं होती है, और डॉक्टर्स भी महिला को जब दिन में थोड़ी देर पैदल चलने की सलाह देते हैं। क्योंकि पैदल चलने से महिला के शरीर में ब्लड फ्लो अच्छे से होता है, महिला एक्टिव रहती है, व्यायाम हो जाता है, आदि।

प्रेग्नेंट महिला के लिए पैदल चलना कब नुकसानदायक होता है?

सभी गर्भवती महिलाओं को प्रेगनेंसी में थोड़ी देर वॉक करने या पैदल चलने की मंजूरी नहीं होती है। क्योंकि कुछ केस ऐसे भी होते हैं जहां पैदल चलने से गर्भवती महिला और बच्चे दोनों को दिक्कत हो सकती है। जैसे की:

  • जिन गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी में ब्लीडिंग होने की समस्या होती है उन्हें बिल्कुल पैदल चलने की मनाही होती है।
  • यदि किसी गर्भवती महिला की प्रेगनेंसी में किसी तरह के कॉम्प्लीकेशन्स होते हैं तो उन्हें भी अच्छे से आराम करने की सलाह दी जाती है और पैदल चलने की मनाही होती है।
  • कई बार गर्भ में शिशु का भार नीचे की तरफ अधिक होता है जिसकी वजह से समय से पहले बच्चे के जन्म होने का खतरा बढ़ जाता है ऐसे केस में भी गर्भवती महिला को पैदल चलने की मनाही होती है।
  • यदि गर्भवती महिला को थोड़ी देर चलने के बाद ही थकान व् कमजोरी अधिक महसूस होती है तो भी प्रेग्नेंट महिला को ज्यादा देर वॉक न करने की सलाह दी जाती है।
  • गर्भ में एक से ज्यादा शिशु होने पर महिला वॉक तो कर सकती है लेकिन तेजी से वॉक महिला को करने से बचना चाहिए।
  • यदि किसी कारण डॉक्टर ने प्रेग्नेंट महिला को वॉक करने के लिए मना किया है तो डॉक्टर की बात भी महिला को माननी चाहिए और वॉक नहीं करनी चाहिए।

तो यह हैं प्रेगनेंसी के दौरान महिला के पैदल चलने से जुड़े कुछ टिप्स, यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं तो आपको भी इन बातों का ध्यान रखना चाहिए। ताकि पैदल चलने के कारण महिला या शिशु को किसी भी तरह की परेशानी न हो।

When is walking in pregnancy beneficial and when it is harmful