अचानक से लेबर पेन शुरू हो जाये तो क्या करें?

0

गर्भावस्था के दौरान बहुत सी ऐसी बातें होती है जिन्हे लेकर महिलाएं अचानक से परेशान हो जाती है। खासकर जो महिलाएं पहली बार माँ बन रही होती है उन्हें ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन यदि गर्भवती महिला प्रेगनेंसी के दौरान गर्भावस्था और प्रसव के बारे में पूरी जानकारी इक्कठी कर लेती है।

तो इससे महिला की परेशानियों को कम करने और प्रेगनेंसी के दौरान महसूस होने वाले लक्षणों को समझने में आसानी होती है। आज इस आर्टिकल में हम गर्भवती महिलाओं को यदि अचानक से लेबर पेन शुरू हो जाये तो महिला को क्या करना चाहिए उससे जुडी जानकारी देने जा रहे हैं। लेकिन उससे पहले जानते हैं की प्रसव के क्या लक्षण होते हैं।

प्रसव के लक्षण

  • पेट या पेट के निचले हिस्से में तेजी से दर्द होना।
  • पीठ में दर्द का होना जो की असहनीय हो।
  • एमनियोटिक बैग का फटना यानी की वजाइनल डिस्चार्ज अधिक होना।
  • प्राइवेट पार्ट से ब्लीडिंग होना।
  • बच्चे का भार नीचे की तरफ अधिक महसूस होना।
  • डायरिया की समस्या होना।
  • जल्दी जल्दी यूरिन पास करने की इच्छा होना।
  • जोड़ो और मांसपेशियों में अधिक खिंचाव का अनुभव होना।
  • पेट व् सीने में हल्कापन महसूस होना।
  • महिला की भावनाओं में बदलाव होना।

महिला को लेबर शुरू होने पर क्या करना चाहिए

यदि किसी महिला को अचानक से लेबर पेन शुरू हो जाता है तो महिला को क्या करना चाहिए और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। आइये अब उसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

घबराएं नहीं

यदि महिला को अचानक से पेट में तेजी से दर्द उठता है जो की महिला से सहन नहीं होता है तो इसका मतलब होता है की महिला को लेबर पेन हो रहा है। ऐसे में बेशक महिला से दर्द सहन नहीं होता है लेकिन इस दौरान महिला को अपने आप को शांत रखने की कोशिश करनी चाहिए घबराना नहीं चाहिए। क्योंकि यदि महिला ज्यादा घबरा जाती है तो इसकी वजह से महिला को दिक्कत होने का खतरा होता है।

READ  प्रेग्नेंट महिला को बालों में गुनगुना तेल क्यों लगाना चाहिए?

हॉस्पिटल फ़ोन करें

जहां भी महिला की डिलीवरी होने वाली है वहां पर आप फ़ोन करें या उसी समय पास खड़े किसी भी व्यक्ति से फ़ोन करने के लिए कहें और डॉक्टर से बात करें।

किसी का इंतज़ार नहीं करें

यदि प्रेग्नेंट महिला को लेबर पेन शुरू हो रहा है तो ऐसे में महिला को घर में किसी का इंतज़ार नहीं करना चाहिए बल्कि आपके साथ जो भी है उसके साथ जल्द से जल्द हॉस्पिटल में पहुँच जाना चाहिए। क्योंकि यदि आप देरी करती है तो इसकी वजह से आपकी परेशानियां बढ़ सकती है।

आरामदायक पहनावा पहने

हॉस्पिटल जाते समय आप आरामदायक कपडे व् चप्पल पहनकर जाएँ ताकि आपको कपड़ों या चप्पल के कारण किसी भी तरह की दिक्कत नहीं हो। और आप आराम महसूस कर सकें।

डिलीवरी बैग साथ लेकर जाएँ

डिलीवरी का समय पास आने से पहले ही आपने जो डिलीवरी बैग तैयार किया है उसे साथ में ले लें। ताकि आपको हॉस्पिटल जाते समय किसी भी तरह की दिक्कत नहीं हो और आपकी जरुरत का सभी सामान आपके पास मौजूद हो।

चिल्लाएं नहीं

डिलीवरी पेन अचानक से शुरू होने पर महिला चिल्लाना नहीं शुरू करें। क्योंकि ज्यादा चिल्लाने के कारण महिला ज्यादा थक सकती है। जिसकी वजह से डिलीवरी के समय महिला की दिक्कतें बढ़ सकती है ऐसे में जितना हो सके महिला को अपने आप को शांत रखना चाहिए। और लम्बी लम्बी साँसे लेनी चाहिए। इससे महिला के दर्द को कम करने में मदद मिलती है।

हॉस्पिटल जाने के लिए आरामदायक वाहन चुने

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है की लेबर पेन शुरू होने पर आप बाइक या स्कूटी पर हॉस्पिटल जाएँ। बल्कि आपके पास जो भी है उससे टैक्सी बुक करने के लिए कहें या आप बुक करें। क्योंकि इस दौरान थोड़ी सी भी लापरवाही आपकी परेशानी को बढ़ा सकती है।

READ  क्या प्रेग्नेंट महिला को कोविड का टीका लगाना सेफ होगा?

तो यह हैं कुछ टिप्स जो प्रेग्नेंट महिला को अचानक से लेबर पेन के शुरू होने पर ध्यान रखने चाहिए। यदि महिला इन टिप्स का ध्यान रखती है तो ऐसा करने से प्रेग्नेंट महिला की दिक्कतों को कम करने और प्रसव के समय आने वाली परेशानियों को कम करने में मदद मिलती है।

What to do if the labor pain suddenly starts

Leave A Reply

Your email address will not be published.