Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेगनेंसी में आयरन क्यों जरुरी है? आयरन से भरपूर फूड्स कौन से हैं

0

गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला को आयरन का सेवन भरपूर मात्रा में करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि आयरन महिला को स्वस्थ रखने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के विकास के लिए भी बहुत जरुरी होता है साथ ही प्रेगनेंसी में शरीर में आयरन की जरुरत भी अधिक होती है। ऐसे में डॉक्टर्स आयरन युक्त डाइट लेने के साथ महिला को आयरन की गोलियों का सेवन करने की सलाह भी देते हैं।

साथ ही यदि महिला आयरन का भरपूर सेवन नहीं करती है तो इसकी वजह से शरीर में खून की कमी हो जाती है जिसे की एनीमिया कहा जाता है। और एनीमिया होने के कारण माँ और शिशु दोनों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की प्रेगनेंसी में आयरन क्यों जरुरी है। और कौन कौन से फूड्स में आयरन भरपूर मात्रा में मौजूद होता है।

प्रेगनेंसी में आयरन क्यों है जरुरी?

गर्भावस्था के दौरान शरीर में आयरन का होना इसीलिए जरुरी है ताकि गर्भ में शिशु का विकास अच्छे से हो सकें, महिला को स्वस्थ रहने में मदद मिल सकें, इसके अलावा और आयरन के अन्य फायदे भी माँ और बच्चे को मिल सकें। जिससे प्रेगनेंसी में प्रसव में आने वाली दिक्कतों से बचे रहने में मदद मिल सके। तो आइये अब प्रेगनेंसी में आयरन का भरपूर सेवन करने से कौन से फायदे मिलते हैं उसके बारे में जानते हैं।

ऑक्सीजन: ब्लड के माध्यम से शरीर के सभी अंगो तक और शिशु तक ऑक्सीजन पहुँचती है। और यह ऑक्सीजन लाल रक्त कोशिकाओं में पाए जाने एक प्रोटीन जिसे हीमोग्लोबिन कहा जाता है उसकी मदद से पूरे शरीर में पहुँचती है। जिससे महिला और शिशु दोनों को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।

खून की कमी पूरी होती है: प्रेगनेंसी के दौरान महिला को अतिरिक्त खून की शरीर में जरुरत होती है साथ ही प्रसव के दौरान भी महिला को बहुत ब्लड का फ्लो हो जाता है। ऐसे में आयरन लेने से शरीर में खून की कमी पूरी होती है जिससे प्रेगनेंसी के दौरान और प्रसव के दौरान खून की कमी के कारण होने वाली परेशानी से बचाव करने में मदद मिलती है।

बच्चे का विकास होता है बेहतर: प्रेगनेंसी के दौरान आयरन का भरपूर सेवन करने से गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास में मदद मिलती है।

प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली समस्या से होता है बचाव: आयरन का भरपूर सेवन करने से महिला को समय से पहले डिलीवरी, प्रेगनेंसी के दौरान थकान व् कमजोरी, जन्म के समय शिशु के वजन में कमी जैसी समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।

नोर्मल डिलीवरी होने के चांस बढ़ते हैं: प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में खून की कमी पूरी होने से सामान्य प्रसव होने के चांस बढ़ाने में मदद मिलती है।

प्रेगनेंसी के दौरान कौन से फूड्स खाने से आयरन मिलता है?

गर्भावस्था के दौरान शरीर में खून की कमी को पूरा रखने के लिए आयरन की दवाई तो देते ही हैं। लेकिन साथ ही डॉक्टर्स आयरन युक्त आहार का सेवन करने की सलाह भी देते हैं। ऐसे में आयरन के लिए गर्भवती महिला हरी सब्जियां जैसे की पालक, मटर, ड्राई फ्रूट्स, काला चना, मछली, चिकन, दालें, अंडा, आदि। और यह सभी खाद्य पदार्थ प्रेगनेंसी के दौरान किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। लेकिन ध्यान रखें की आप इन्हे सही मात्रा और सही तरीके से खाएं। ताकि आपको आयरन भरपूर मात्रा में मिल सकें।

तो यह हैं प्रेगनेंसी में आयरन लेने के फायदे व् आयरन किन खाद्य पदार्थों में मौजूद होता है उससे जुड़े टिप्स, यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं तो आपको भी यह जानकारी होनी चाहिए। ताकि गर्भावस्था के दौरान शरीर में खून की कमी नहीं हो जिससे माँ और बच्चा दोनों को स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।

Why iron is important during pregnancy

Leave a comment