Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

नई माँ का दूध बढ़ाने के उपाय

0

नई माँ का दूध बढ़ाने के उपाय, माँ का दूध बढ़ाने के तरीके, माँ का दूध बढ़ाने के घरेलू नुस्खे, स्तन में दूध बढ़ाने के टिप्स, नई माँ का दूध बढ़ाने के असरदार तरीके

माँ का दूध नवजात शिशु के लिए अमृत के समान होता है क्योंकि शिशु के बेहतर विकास के लिए जिन जिन पोषक तत्वों की जरुरत होती है, वो उसे माँ के दूध से भरपूर मिलते है। साथ ही माँ का दूध शिशु को रोगो से लड़ने के लिए भी सक्षम बनाता है। लेकिन कई बार कुछ कारणों की वजह से माँ का दूध अच्छे से नहीं उतर पाता है जिसके कारण शिशु के भरपूर पोषण को लेकर नई माँ को चिंता हो जाती है। और कई बार दूध उतरता है तो कम मात्रा में उतरता है जिसके कारण शिशु की भूख नहीं मिटती है, तो आइये आज हम नई माँ की इस परेशानी का समाधान बताने जा रहें है जिससे महिला के ब्रैस्ट में दूध की वृद्धि करने में मदद मिलती है।

दूध व् दूध से बने उत्पाद

स्तन में दूध की वृद्धि के लिए सबसे पहले तो महिला को अपने आहार में दूध व् दूध से बनी चीजों का भरपूर सेवन करना चाहिए। इससे न केवल महिला को भरपूर प्रोटीन मिलता है बल्कि शिशु के शारीरिक विकास को बेहतर होने में भी मदद मिलती है, और शिशु के के लिए दूध का उत्पादन बढ़ता है। इसीलिए दिन में तीन से चार गिलास दूध पीने के साथ दूध से बनी चीजों का भी सेवन करना चाहिए।

सौंफ

सौंफ न केवल स्तन में दूध की वृद्धि करता है बल्कि गैस जैसी समस्या को दूर करने के साथ पाचन शक्ति को भी मजबूत बनाने में मदद करता है। इसके लिए आप एक गिलास पानी गरम करके उसमे दो चम्मच सौंफ डालकर आधे घंटे के लिए रख दें, उसके बाद दिन में दो बार इसका सेवन करें, साथ ही खाने के बाद एक चम्मच सौंफ खाएं, चाय में सौंफ डालकर पीएं इससे भी आपको फायदा मिलता है।

मेवा

सूखे मेवे जैसे की बादाम, काजू, किशमिश, आदि का भरपूर सेवन करने से भी न केवल आपको भरपूर पोषक तत्व मिलते है बल्कि शिशु के लिए स्तन में दूध की वृद्धि करने में मदद मिलती है। खासकर बादाम को रात को भिगोकर रखें और सुबह छिलका उतारकर इसका सेवन करें आपको बहुत फायदा मिलेगा।

दाल का पानी

भरपूर मात्रा में दालों का सेवन और उबली हुई दाल का पानी पीने से भी आपको भरपूर पोषक तत्व मिलते हैं। साथ ही इससे दूध उत्पादन को बढ़ाने में मदद मिलती है। इसके लिए आप मूंग दाल का खासकर सेवन करें क्योंकि इसका सेवन ब्रेस्टमिल्क को सबसे ज्यादा बढ़ाने में आपकी मदद करता है।

लहसुन

अपने आहार में लहसुन को भी शामिल करें, क्योंकि लहसुन भी ब्रेस्टमिल्क को बढ़ाने में आपकी मदद करता है। लेकिन कई बार इसके कारण दूध में से गंध भी आती है ऐसे में हो सकता है की शिशु दूध छोड़ दें, इसीलिए अधिक मात्रा में इसका सेवन न करें।

तिल व् सौंठ के लडू

डिलीवरी के बाद महिला को शारीरिक रूप से जल्दी फिट होने के लिए और दूध के उत्पादन को बढ़ाने के लिए तिल व् सौंठ के लडू खाने चाहिए। ऐसा करने से न केवल आपको भरपूर पोषक तत्व मिलते हैं बल्कि डिलीवरी के बाद तेजी से रिकवर होने में मदद मिलती है।

जीरा

जीरा भी माँ का दूध बढ़ाने में मदद करता है, इसके लिए आप जीरे को अच्छे से भूनकर उसे पीस लें, पीसने के बाद उसे सब्जियों के ऊपर डालकर, सलाद आदि में डालकर उसका सेवन करें, जितना आप इसका अधिक सेवन करते हैं। उतना ही ज्यादा यह ब्रेस्टमिल्क को बढ़ाने में आपकी मदद करता है।

नारियल का तेल

नारियल के तेल का सेवन करने से ब्रेस्टमिल्क बढ़ाने वाले हॉर्मोन का उत्पादन बढ़ता है साथ ही ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जिसके कारण ब्रेस्ट में दूध की वृद्धि होती है। इसीलिए नई माँ को अपने आहार में नियमित दो से तीन चम्मच नारियल का तेल जरूर शामिल करना चाहिए।

दलिया

दूध से बना दलिया महिला को नियमित नाश्ते में पेट भरकर खाना चाहिए, इससे महिला को भरपूर मात्रा में पौष्टिक तत्व मिलते हैं। साथ ही इसे दूध के उत्पादन को बढ़ाने में मदद भी मिलती है।

सालमन मछली

सालमन मछली का सेवन करने से भी ब्रेस्टमिल्क बढ़ाने में मदद मिलती है, क्योंकि इसमें प्रोटीन, विटामिन के साथ ओमेगा 3 फैटी एसिड भी भरपूर मात्रा में होते हैं।

ब्रेस्टमिल्क बढ़ाने के अन्य उपाय

  • अपने खान पान में बिल्कुल भी लापरवाही न करें, समय से अपने आहार को लें, साथ ही ऐसे आहार का सेवन करें जिसमे भरपूर पोषक तत्व हो।
  • पानी के साथ अन्य पेय पदार्थ जैसे की दूध व् जूस आदि का भी भरपूर सेवन करें।
  • हरी सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें।
  • गाजर का सेवन या गाजर का जूस पीने से भी आपको फायदा मिलता है।
  • अंडे भी आपकी इस समस्या का समाधान करने में आपकी मदद करते हैं।
  • ब्राउन राइस भी ब्रेस्टमिल्क को बढ़ाते हैं इसीलिए आप इन्हे भी अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।
  • हर दो से तीन घंटे में कुछ न कुछ जरूर खाएं।
  • शिशु को अपने सीने से लगाकर सोएं, इससे भी मातृत्व का अहसास होता है, और ऐसा माना जाता है की इससे दूध की वृद्धि भी होती है।
  • ब्रेस्ट पंप का इस्तेमाल करके भी आप दूध का उत्पादन बढ़ा सकती है।
  • शिशु को हर दो घंटे में फीड दें, और फीड देने के लिए दोनों ब्रेस्ट का प्रयोग करें।
  • संतरे का रस पीने से भी दूध का उत्पादन बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • स्तनपान करवाते समय इस बात का ध्यान रखें की शिशु अच्छे से दूध पीएं क्योंकि जितना अच्छे से वो दूध पीता है उतनी ही दुग्ध नलिकाएं खुल जाती है।

तो यह हैं कुछ खास टिप्स जिनका इस्तेमाल करके नई माँ स्तन में दूध की वृद्धि की जा सकती है, और उसके बाद जैसे जैसे शिशु अच्छे तरीके से स्तनपान करने लगता है तो भी दूध का उत्पादन बढ़ता रहता है।

Leave a comment