अगर आपकी प्रेगनेंसी सर्दियों में है तो इन बातों का ध्यान रखें

सर्दियों में गर्भावस्था, प्रेगनेंसी महिला के लिए बहुत ही बेहतरीन समय होता है। और इस दौरान महिला या भ्रूण को किसी भी तरह की दिक्कत न हो। इससे बचाव के लिए प्रेग्नेंट महिला को अपना अच्छे से ख्याल रखने की सलाह दी जाती है। गर्भावस्था के दौरान महिला को मौसम के अनुसार अपनी देखभाल के तरीके में थोड़ा परिवर्तन करना भी जरुरी होता है। ताकि मौसम में बदलाव के कारण महिला या शिशु को हर दिक्कत से बचे रहने में मदद मिल सके। तो आइये आज इस आर्टिकल में यदि कोई महिला प्रेग्नेंट हैं। और सर्दियों का मौसम चल रहा है तो उसे किस किस बात का ध्यान रखना चाहिए इस बारे में बताने जा रहे हैं। ताकि सर्दियों के दौरान भी प्रेग्नेंट महिला को स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।

सर्दियों में गर्भावस्था होने पर किन बातों का ध्यान रखना चाहिए

क्या आप गर्भवती हैं और सर्दियों का मौसम चल रहा है? यदि हाँ, तो सर्दियों में मौसम में प्रेग्नेंट महिला को किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। ताकि ठण्ड के कारण होने वाली दिक्कत से प्रेग्नेंट महिला और भ्रूण को बचे रहने में मदद मिल सके। इस बारे में आइये विस्तार से जानते हैं।

सर्दियों से बचाव के लिए कपडे

  • सबसे पहले सर्दियों के आने पर गर्भवती महिला को अपने गर्म कपडे निकाल लेने चाहिए।
  • इस बात का ध्यान रखें की वो अधिक टाइट या चुभने वाले नहीं हो, और आप उनमे आरामदायक महसूस करें।
  • प्रेग्नेंट महिला हमेशा सिर पर टोपी, पैरों में जुराबे, स्वेटर, शॉल आदि पहनकर रखें।
  • जिससे महिला के शरीर को गर्माहट मिल सके।
  • साथ ही आज कल मार्किट में गर्म आरामदायक शूज भी मिल जाते हैं जिन्हे आप घर में पहन सकते हैं।
  • और बाहर जाते समय अपने दूसरे जूते पहनकर ही बाहर जाएँ।

सर्दियों में गर्भावस्था होने पर रखें खाने का ध्यान

  • सर्दियों में मौसम में लगभग हर हरी सब्ज़ी मिलती है।
  • और हरी सब्जियों में मौजूद आयरन, फाइबर, फोलिक एसिड मौजूद होता है।
  • जो महिला को स्वस्थ रखने के साथ शिशु के मानसिक व् शारीरिक विकास को सही रखने में भी मदद करता है।
  • इसीलिए महिला को हरी सब्जियों का भरपूर सेवन करना चाहिए।
  • इसके अलावा महिला को विटामिन सी से भरपूर फल, अंडे, नॉन वेज, ड्राई फ्रूट्स, दालें आदि का भी भरपूर सेवन करना चाहिए।

हाइड्रेट रहें

  • गर्भावस्था के दौरान शरीर में पानी की कमी का होना महिला के साथ शिशु के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है।
  • लेकिन सर्दियों में प्यास का अहसास कम ही होता है।
  • फिर भी गर्भवती महिला को पानी पीने में लापरवाही नहीं करनी चाहिए।
  • क्योंकि पानी की कमी इम्यून सिस्टम को कमजोर बना सकती है जिसके कारण सर्दियों में होने वाली दिक़्कतें बढ़ सकती है।
  • ऐसे में ठण्ड के कारण होने वाली दिक्कत से बचाव के लिए प्रेग्नेंट महिला को दिन में सात या आठ गिलास पानी का सेवन जरूर करना चाहिए।

सर्दियों में गर्भावस्था होने पर रखें सेहत का ध्यान रखें

  • किसी भी ऐसे व्यक्ति के सम्पर्क में आने से प्रेग्नेंट महिला को बचना चाहिए।
  • जो सर्दी में होने वाली दिक्कतें जैसे की खांसी, जुखाम आदि से परेशान हो।
  • क्योंकि खांसी जुखाम की समस्या बहुत जल्दी किसी के संपर्क में आने से फैलता है।
  • साथ ही यदि आपको सर्दी के मौसम में होने वाली कोई दिक्कत हो गई है।
  • तो इसे अनदेखा न करते हुए जल्दी से जल्द इसका इलाज करवाएं।
  • ताकि आपको ज्यादा दिक्कत से बचे रहने में मदद मिल सके।

सर्दियों में गर्भावस्था होने पर लें भरपूर नींद

  • सर्दी के मौसम में गर्भवती महिला को नींद भरपूर लेनी चाहिए।
  • क्योंकि नींद भरपूर लेने से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
  • जिससे प्रेग्नेंट महिला को सर्दी के कारण होने वाली दिक्कत से बचे रहने में मदद मिलती है।

दवाइयों का सेवन

  • जिन विटामिन की सलाह डॉक्टर ने प्रेग्नेंट महिला को दी है उन दवाइयों का सेवन प्रेग्नेंट महिला को नियमित करते रहना चाहिए।
  • लेकिन यदि प्रेग्नेंट महिला को कोई सर्दी के कारण होने वाली दिक्कत हो गई है।
  • तो उसके इलाज के लिए प्रेग्नेंट महिला को अपनी मर्ज़ी से किसी भी दवाई का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • क्योंकि दवाइयों का अधिक सेवन प्रेगनेंसी के दौरान नुकसानदायक हो सकता है।

तो यह हैं कुछ खास टिप्स जिनका ध्यान प्रेग्नेंट महिला को सर्दियों में प्रेगनेंसी होने पर रखना चाहिए। इन टिप्स का ध्यान से प्रेग्नेंट महिला और गर्भ में शिशु दोनों को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।