बेटा हो इसके लिए क्या करें?

बेटा हो इसके लिए क्या करें
0

गर्भ में शिशु

सम्बन्ध बनाने के बाद जब निषेचन की प्रक्रिया होती है यदि उसमे महिला और पुरुष दोनों के x क्रोमोसोम मिलते हैं तो गर्भ में लड़की होती है जबकि यदि महिला का x और पुरुष का y क्रोमोसोम मिलता है तो इससे लड़के का जन्म होता है। लेकिन यह प्रक्रिया प्राकृतिक होती है यह किसी के अनुसार तय नहीं होती बल्कि गर्भधारण के बाद जन्म चाहे लड़का हो या लड़की केवल शिशु होने की ख़ुशी को ही मनाना चाहिए। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो लड़का चाहते हैं, या जिनकी पहले लड़की होती है वो अब बेटे को जन्म देना चाहते हैं। अब प्रकृति के नियमो को बदला तो नहीं जा सकता है, लेकिन कुछ उपाय पुराने समय से लोग बताते हैं की ऐसा करने से गर्भ में लड़का होता है, लेकिन यह पूरी तरह सच नहीं होता है।

गर्भ में शिशु लड़का हो इसके लिए क्या करना चाहिए

यदि आप चाहती है की आपके गर्भ में पल रहा शिशु लड़का हो तो इस्सके लिए कुछ आसान तरीको का इस्तेमाल किया जा सकता है। तो आइये आज हम ऐसे ही कुछ टिप्स आपसे शेयर करने जा रहे हैं।

सही समय पर बनाएं सम्बन्ध

महिला के पीरियड्स आने के बाद ओवुलेशन का समय आता है। ऐसे में महिला के जिस दिन पीरियड्स शुरू होते हैं उस दिन से लेकर 8वें, 10वें, 12वें, 14वें, 16वें दिन सम्बन्ध बनाने से गर्भ में पुत्र होने के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है। इसके अलावा ओवुलेशन पीरियड को समझने के बाद अंडा बनने के चौबीस घंटे पहले या बारह घंटे बाद सम्बन्ध बनाने से भी गर्भ में पुत्र होने की सम्भावना को बढ़ाने में मदद मिलती है।

तनाव न लें

गर्भ में पुत्र की चाह रखने वाले दम्पति को सम्बन्ध बनाते समय खुश रहना चाहिए, और बिल्कुल भी तनाव नहीं लेना चाहिए। यदि ओवुलेशन के दिनों का ध्यान रखने के साथ कपल बिना तनाव के सम्बन्ध बनाता है तो इससे भी गर्भ में लड़का होने के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है।

कॉफ़ी

ऐसा भी माना जाता है की कॉफ़ी का सेवन बेषा गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसानदायक हो सकता है, लेकिन इसमें मौजूद कैफीन गर्भ में पुत्र की सम्भावना को बढ़ाने में मदद करता है। इस उपाय को करने के लिए गर्भवती महिला को या पुरुष को सम्बन्ध बनाने के आधा घंटा पहले कॉफ़ी का सेवन करना चाहिए। और महिलाओं को सम्बन्ध बनाने के बाद एक गिलास ठन्डे पानी का सेवन भी जरूर करना चाहिए।

पोटैशियम से भरपूर आहार

केला, स्ट्रॉबेरी, आलू, मछली, बादाम, सेब, आदि में पोटैशियम भरपूर मात्रा में होता है। ऐसे में महिला यदि गर्भधारण से पहले अपनी डाइट में पोटैशियम युक्त खाद्य पदार्थो को भरपूर मात्रा में शामिल करती है तो इससे गर्भ में लड़का होने के चांस बढ़ाने में मदद मिलती है।

नशे से दूरी

शुक्राणुओं की गुणवत्ता का बेहतर होना की बेटा पैदा करने के लिए जरुरी होता है। इसीलिए यदि आप बेटा पैदा करना चाहते हैं तो धूम्रपान, शराब, आदि अन्य तरह के नशे का सेवन करने से भी परहेज करना चाहिए। ताकि बॉडी को फिट रहने के साथ शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता में कमी आने की समस्या से बचने में मदद मिल सके।

आधा चन्द्रमा

पौराणिक कथाओं के अनुसार यदि आप बेटे को जन्म देना चाहती है तो जब चन्द्रमा आधा हो तो अपन पार्टनर के साथ सम्बन्ध बनाना चाहिए इस दौरान सम्बन्ध बनाने से यदि गर्भ ठहरता है, तो इससे गर्भ में लड़का होने के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है।

दूध व् दूध से बने आहार

यदि आप बेटे को जन्म देना चाहती है तो आपको इसकी तैयारी छह महीने पहले से ही शुरू कर देनी चाहिए। और इसके लिए आपको अपने पति को दूध व् दूध से बने आहार का भरपूर मात्रा में सेवन करवाना चाहिए, यदि आप ऐसा करती हैं तो इससे भी जब आप गर्भधारण करना चाहती है तो गर्भ में लड़का होने के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ खास टिप्स जिनका इस्तेमाल करने से गर्भ में पल रहा शिशु लड़का हो इसकी उम्मीद को बढ़ाने में मदद मिलती है। लेकिन यह उपाय पूरी तरह सच हो इसके बारे में कहना थोड़ा मुश्किल होता है।