ऐसे खाएंगे आम तो नुकसान होगा गर्भ को

गर्भावस्था के दौरान आम खाना बहुत फायदेमंद होता है। क्योंकि इसमें कैलोरी, फोलेट, पोटैशियम, विटामिन ए, विटामिन सी, आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन बी 6, जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में शामिल होते हैं। और यह सभी पोषक तत्व गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने व् गर्भ में शिशु के बेहतर विकास में मदद करते हैं। लेकिन यदि आम का सेवन सही तरीके से न किया जाये तो इसका बुरा असर गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ सकता है। तो आइये अब जानते हैं की आम का सेवन गर्भवती महिला को कब नहीं करना चाहिए, ताकि गर्भ पर इसका बुरा असर न पड़े।

कच्चा आम

प्रेग्नेंट महिला को कच्चे आम का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसके कारण महिला को पेट दर्द, दस्त, उल्टी जैसी परेशानियां हो सकती है। साथ ही यह स्वाद में बहुत अधिक खट्टा होता है जिसके कारण डीहाइड्रेशन की समस्या गर्भवती महिला को हो सकती है। और इनके कारण गर्भ में शिशु भी परेशान होता है।

बिना मौसम का आम

यदि आम का मौसम नहीं है तो भी प्रेग्नेंट महिला को आम नहीं खाना चाहिए। क्योंकि बिना मौसम में आम को पकाने के लिए केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है जिससे गर्भ में शिशु को नुकसान पहुँचता है।

गला सड़ा आम

यदि घर में रखे आम गल सड़ गए हैं तो भी प्रेग्नेंट महिला को उन आम का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि गले सड़े आम में हानिकारक बैक्टेरिया पनपता है जिससे शिशु को नुकसान पहुँचता है।

केमिकल वाला आम

आम को खरीदते समय इस बात का ध्यान रखें की कहीं वो केमिकल द्वारा पकाया हुआ तो नहीं है। यदि आपको ऐसा लगा रहा है की आम केमिकल से पकाया हुआ है तो उसका सेवन न करें। क्योंकि केमिकल द्वारा पकाये गए आम का सेवन करने से गर्भ में शिशु को नुकसान होता है।

बिना धोया हुआ आम

कोई भी सब्ज़ी या फल हो गर्भवती महिला को उसे अच्छे से धोने के बाद ही प्रयोग में लाना चाहिए। ऐसे ही गर्भवती महिला को बिना धोये आम का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि बिना धोये आम का सेवन करने से आम पर मौजूद कीटाणु गर्भ में पहुँच जाते हैं जो गर्भ में शिशु को नुकसान पहुंचाते हैं।

खट्टा आम

ज्यादा खट्टे आम का सेवन भी गर्भवती महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि खट्टे आम करने से शरीर में पानी की कमी हो जाती है। जिसकी वजह से बच्चे को नुकसान पहुँचता है।

आधा पका हुआ आम

अच्छे से यदि आम पका हुआ नहीं है या आधा कच्चा और आधा पका हुआ है तो उसका सेवन भी गर्भवती महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसे आम का सेवन करने से महिला को उल्टी दस्त जैसी परेशानी होती है और शरीर में पानी की कमी हो जाती है जिससे गर्भ में शिशु को दिक्कत महसूस होती है।

तो गर्भवती महिला को आम का सेवन करते हुए इन बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि प्रेग्नेंट महिला व् बच्चे दोनों की सेहत को किसी भी तरह का नुकसान न हो।