Lifestyle Blog India
प्रेगनेंसी

बढ़ती उम्र में गर्भधारण करने में आने वाली परेशानियों के कारण

प्रेगनेंसी महिला के लिए एक बहुत ही सुखद अनुभव होता है, और शिशु के जन्म के लिए भी एक सही समय होता है, जैसे की पच्चीस से पैतीस साल की उम्र माँ बनने के लिए बिलकुल सही बताई गयी है, इससे कम या अधिक उम्र में यदि आप गर्भधारण करती हैं, तो ऐसे में आपको बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, क्योंकि जैसे जैसे महिला उम्र के पड़ाव पर बढ़ती है, वैसे वैसे उसकी फर्टिलिटी कम होने लगती है, हॉर्मोन्स के प्रभाव के कारण, गर्भाशय के कमजोर होने के कारण, कई बार उम्र अधिक होने पर आपको फैलोपियन ट्यूब से सम्बंधित समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है, अंडाणु में अंडे का बनना कम हो जाता है, तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की बढ़ती उम्र में गर्भधारण करने में आपको कौन कौन सी परेशानियां आ सकती हैं।

इन्हें भी पढ़ें:- कम उम्र में माँ बनने पर क्या परेशानियां होती हैं

फर्टिलिटी कम होने लगती है:-

यदि आपकी उम्र अधिक होती है तो इसके कारण आपकी फर्टिलिटी पर बुरा प्रभाव पड़ता है, क्योंकि जैसे जैसे उम्र बढ़ती है इसका प्रभाव आपकी फर्टिलिटी पर भी पड़ता है, जिससे आपको गर्भाधारण में आने वाली जटिलताओं का सामना करना पड़ सकता है।

READ  प्रेगनेंसी के इन महीनो में होता है! शिशु के इन अंगो का विकास

तनाव के कारण:-

प्रेगनेंसी के लिए अधिक उम्र में सोचने पर कई बार आपको गर्भधारण करने से पहले अधिक बार मिलना पड़ सकता है, जिसके कारण महिला परेशान होने लगती है और उसके मन में ख्याल आते रहते है, की वो प्रेग्नेंट होगी भी या नहीं जिसका प्रभाव उसकी प्रेगनेंसी में देरी का कारण बनता है, और यदि वो प्रेग्नेंट हो जाती है तो गर्भ में पल रहे शिशु के विकास के कारण तनाव में हो जाती है।

इन्हें भी पढ़ें:- उम्र ज्यादा होने पर होने पर गर्भधारण में होने वाली परेशानिया

फैलोपियन ट्यूब से सम्बंधित समस्या हो जाती है:-

उम्र में पड़ाव पर जैसे जैसे आप आगे बढ़ती है वैसे वैसे आपके शरीर के अंदर भी कुछ न कुछ बदलाव आ सकते है, जैसे की प्रेगनेंसी के लिए फैलोपियन ट्यूब का सही होना बहुत जरुरी होता है, लेकिन कई बार अधिक उम्र होने के कारण आपको गर्भधारण में फैलोपियन ट्यूब से सम्बंधित समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

अंडाणु में अंडे कम होने लगते है:-

अंडाणु में अंडे तेजी से बनते है जब आपकी उम्र सही होती है, उम्र बढ़ने के साथ साथ अंडाणु में अंडे बनने भी कम होने लगते है, जिसके कारण निषेचन की प्रक्रिया कम होती है, वो आपको गर्भधारण को लेकर समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

हॉर्मोन्स का बदलाव होना:-

आपके शरीर में हार्मोनल बदलाव चलते रहते है, लेकिन गर्भधारण के लिए कई बार अधिक उम्र होने पर आपके हॉर्मोन्स प्रेगनेंसी में आपका साथ नहीं दे पाते है, जिसके कारण आपको गर्भधारण में समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

READ  ये 10 चीजें जरूर खरीदनी चाहिए जब आप प्रेग्नेंट हो?

गर्भाशय कमजोर होने पर:-

उम्र बढ़ने के साथ आपके गर्भाशय पर भी असर पड़ता है, जिससे धीरे धीरे गर्भाशय की ग्रीवा कमजोर पड़ने लगती है, और आपको गर्भधारण नहीं हो पाता है, और यदि गर्भधारण होता है तो इसके होने पर आपको गर्भपात का खतरा भी निरंतर बना रहता है।

तो ये हैं कुछ समस्याएँ जो आपको उम्र के बढ़ने पर गर्भधारण करने पर होती है, इसीलिए प्रेगनेंसी के लिए आपको सही समय का चुनाव करना चाहिए, ताकि आपकी प्रेगनेंसी में कोई परेशानी न हो, और एक स्वस्थ माँ स्वस्थ शिशु को जन्म दे सकें, क्योंकि यदि आप बढ़ती उम्र में गर्भधारण करती है, तो इसका बुरा असर आपके गर्भ में पल रहे शिशु पर भी पड़ता है, और इसके कारण आपको और भी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

इन्हें भी पढ़ें:- चालीस ( 40 ) की उम्र में गर्भधारण करने में क्या जोखिम होते हैं

Related posts

बिना दर्द के डिलीवरी होगी अगर करेंगे यह उपाय

Suruchi Chawla

लड़का या लड़की चाहते हैं तो सम्बन्ध बनाते समय इन बातों का ध्यान रखें

Suruchi Chawla

प्रेगनेंसी के दौरान पूरे शरीर में दर्द रहने के कारण व् उपाय

Suruchi Chawla

Leave a Comment