गर्भावस्था में पानी की कमी से यह समस्या हो सकती है

गर्भावस्था में पानी की कमी से यह समस्या हो सकती है
0

गर्भावस्था में पानी की कमी से यह समस्या हो सकती है, प्रेगनेंसी में पानी की कमी होने के नुकसान, गर्भवती महिला को पानी का भरपूर सेवन क्यों करना चाहिए, प्रेगनेंसी में पानी की कमी के कारण हो सकती हैं यह परेशानी

प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में भरपूर पोषक तत्वों का होना जितना जरुरी है, उतना ही पानी का होना भी जरूरी है। डॉक्टर्स के अनुसार भी प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को भरपूर मात्रा में पानी व् तरल पदार्थो को लेने की सलाह दी जाती है। क्या अपने कभी सोचा है ऐसा क्यों होता है? तो आइये आज हम आपको इस बारे में कुछ बातें बताते हैं। प्रेगनेंसी के दौरान पानी की कमी से महिला को बहुत सी शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है जिसके कारण गर्भ में पल रहे शिशु पर भी इसका बुरा असर पड़ सकता है। ऐसे में इन परेशानियों से बचने के लिए और शिशु के बेहतर विकास के लिए पानी का भरपूर सेवन करने की सलाह दी जाती है। तो आइये अब जानते हैं की यदि गर्भवती महिला भरपूर मात्रा में पानी का सेवन नहीं करती है और शरीर में पानी की कमी हो जाती है, तो इसके कारण कौन कौन सी परेशानियां हो सकती है।

इन्फेक्शन

पानी का भरपूर मात्रा में सेवन करने से शरीर में मौजूद विषैले पदार्थो को बाहर निकालने में मदद मिलती है। जिससे प्रेगनेंसी के दौरान बहुत सी समस्याओं से बचे रहने में मदद मिलती है। लेकिन पानी की कमी होने के कारण इम्युनिटी कमजोर पड़ने लगती है जिसके कारण आपको इन्फेक्शन होने की समस्या का खतरा रहता है, खासकर पानी की कमी के कारण यूरिन इन्फेक्शन की समस्या गर्भवती महिला को बहुत जल्दी हो जाती है।

बॉडी में दर्द

गर्भवती महिला का वजन बढ़ने के कारण बॉडी में मांसपेशियों में खिंचाव होने लगता है, जिसके कारण प्रेगनेंसी में बॉडी में दर्द होना आम बात होती है। लेकिन पानी का भरपूर मात्रा में सेवन गर्भवती महिला को इस परेशानी से बचाव करने में मदद करता है। ऐसे में यदि प्रेग्नेंट महिला के शरीर में यदि पानी की कमी होती है, तो इसके कारण शरीर में अंगो में दर्द होने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

कब्ज़ की समस्या

प्रेगनेंसी के दौरान अधिकतर महिलाएं कब्ज़ की समस्या से परेशान रहती है, लेकिन पानी का भरपूर सेवन इस समस्या को कम करने में मदद करता है। और यदि महिला के शरीर में पानी की कमी होती है तो प्रेग्नेंट महिला की समस्या बढ़ भी सकती है।

एनर्जी की कमी होती है

भरपूर मात्रा में पानी का सेवन बॉडी में एनर्जी को बरकरार रखने में मदद करता है, लेकिन यदि गर्भवती महिला के शरीर में पानी की कमी होती है तो इसके कारण बॉडी में एनर्जी की कमी होने लगती है। जिसके कारण कमजोरी, थकान, चक्कर, घबराहट होना आदि आम बात होती है।

सूजन की समस्या

गर्भवती महिला के शरीर में पानी की कमी के कारण पैरों, हाथों में सूजन की समस्या हो सकती है। लेकिन यदि सूजन के साथ दर्द हो और मुँह व् शरीर के अन्य हिस्सों पर भी सूजन आने लगे तो इसे नज़रअंदाज़ न करते हुए तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

स्किन से जुडी समस्या

प्रेगनेंसी के दौरान पानी की कमी के कारण महिला की ख़ूबसूरती भी कम हो सकती है, क्योंकि बॉडी के हाइड्रेट न रहने के कारण स्किन में सूखापन, स्किन का फटना आदि समस्या हो सकती है। साथ ही इससे शिशु की त्वचा पर भी बुरा असर पड़ता है क्योंकि उसे पूरी तरह से नमी नहीं मिल पाती है जिसके कारण शिशु की त्वचा सिकुड़ने लगती है।

शिशु के विकास में आती है कमी

एमनियोटिक द्रव जिसमे शिशु पूरे नौ महीने तक रहता है उसके लिए बॉडी में पानी की मात्रा का पर्याप्त होना बहुत जरुरी होता है। साथ ही शिशु को भरपूर पोषण देने के लिए भी बॉडी में पानी का होना बहुत जरुरी होता है। ऐसे में पानी की कमी होने के कारण शिशु को भरपूर पोषण नहीं मिल पाता है जिसके कारण शिशु के विकास में कमी आ सकती है।

प्रेगनेंसी में पानी की कमी को पूरा करने के टिप्स

  • पानी की कमी को पूरा करने के लिए दिन में आठ से दस गिलास पानी का सेवन जरूर करें।
  • ऐसे फल खाएं जिसमे पानी की अधिकता होती है इससे भी शरीर में पानी की कमी को पूरा करने में मदद मिलती है।
  • नारियल पानी का सेवन भरपूर मात्रा में करें यह न केवल बॉडी में पानी की कमी को पूरा करता है। बल्कि इससे शिशु और गर्भवती महिला को पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व भी मिलते हैं।
  • दिन में दो या तीन गिलास दूध का सेवन जरूर करें, लेकिन याद रखें की कच्चे दूध और मलाई वाले दूध का सेवन न करें, क्योंकि इससे आपको पेट सम्बन्धी समस्या हो सकती है।

तो यह हैं प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को पानी की कमी के कारण होने वाली परेशानियां, साथ ही पानी की कमी को पूरा करने के लिए कुछ टिप्स, ऐसे में गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने के लिए और गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर विकास के लिए गर्भवती महिला को इन टिप्स का ध्यान रखना चाहिए। और भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करना चाहिए।