हिंदी में जानकारी

होंठ (Lip) पर छोटी छोटी फुंसी का होना

0

होंठ पर दाना, Lip par choti-choti funsi hona, होंठ (लिप) पर दाने वाली एलर्जी होना, लिप्स पर एलर्जी जैसे दाने, होंठ पर फुंसिया होना, Pimples on Lips 

अक्सर देखा गया है की कई लोगों के होंठ के साइड और ऊपर वाले हिस्से में एक साथ बहुत सारी छोटी-छोटी फुंसियां हो जाती है जो बाद में घाव का रूप ले लेती है। वैसे तो इस समस्या के होने कोई गंभीर कारण नहीं है लेकिन अगर ध्यान न दिया जाए तो ये आपके फेस के लिए नुकसानदायक हो सकती है इसीलिए आज हम आपको होंठ पर होने वाले छोटे-छोटे दानों के बारे में बताने जा रहे है की इनके होने के क्या कारण होते है और इन्हे किस प्रकार घरेलू तरीकों द्वारा ठीक किया जा सकता है।

होंठ पर दाने होने के निम्नलिखित कारण हो सकते है :-

1. दवाओं के सेवन से –medicine

अत्यधिक दवाओं के सेवन से भी अक्सर होंठ पर ऐसे छोटे-छोटे दाने हो जाते है। क्योंकि दवाओं में बहुत से हैवी केमिकल और कंपोनेंट्स का इस्तेमाल किया जाता है जिन्हें अगर आप निर्देश मात्रा से ज्यादा खायेंगे तो नुकसान आप ही को होगा। और जब आप दवाओं का सेवन करना बंद करेंगे तो यह स्वयं ही ठीक हो जाएँगे।

2. पेट की गर्मी –pet me gas

इस समस्या के होने का एक कारण पेट की गर्मी भी होता है। क्योंकि जब आप अत्यधिक मात्रा में मसालेदार भोजन का सेवन करते है तो उसके कारण पेट में गर्मी हो जाती है। और पेट में गर्मी होने के कारण कई लोगों को मुहांसे हो जाते है जबकि कुछ को होंठ पर ऐसे छोटे-छोटे दाने निकलने लगते है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो अपने खान पान पर ध्यान दे कुछ समय में ये स्वयं ही ठीक हो जाएँगे।

3. बुखार होना –fever

इसके अलावा अगर आपके शरीर में अंदरूनी बुखार है जो बहुत दिनों से चला आ रहा है तो भी आपके होंठ पर आस पास या ऊपर ऐसे दाने हो सकते है। डॉक्टरों की माने तो बुखार में या बुखार ठीक होने के बाद ऐसे दाने स्वतः ही निकल आते है। जो कुछ समय में अपने आप ही ठीक हो जाते है।

बचाव के उपाय :-

वैसे तो ये फोड़े बहुत ज्यादा दिनों के लिए नहीं होते लेकिन होते बहुत कष्टदायक है। ऐसे में इनसे जल्द से जल्द छुटकारा पाना ही बेहतर उपाय है। इसके अलावा कुछ दिनों में ये अपने आप ही खत्म हो जाते है। तो ऐसे में डॉक्टर से दवा लाना ठीक नहीं। यहाँ हम आपको कुछ उपाय दे रहे है जिनकी मदद से आप इन दानों को जल्दी ठीक कर सकते है।

 

मॉइश्चराइज़र क्रीम –

इसके लिए आप दानों पर मॉइस्चराइज़र क्रीम लगायें फिर चाहे वो वैसलीन हो या कोई एंटीसेप्टिक क्रीम जैसे बोरोलीन या बोरोप्लस। कपूर और नारियल तेल मिलाकर भी इस समस्या के लिए प्रयोग किया जा सकता है।

पानी –होंठ (लिप) पर दाना

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पानी की सबसे अधिक जरूरत होती है। इसीलिए अगर आपके होंठ पर भी ऐसे दाने होते है तो भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करें। इससे आपका शरीर स्वस्थ रहेगा और शरीर में मौजूद सभी टॉक्सिन्स भी बाहर होंगे।

हरी सब्जियां –

हरी सब्जियां भी बहुत सी समस्यायों का रामबाण इलाज मानी जाती है। अगर आपको लगता है की आपके शरीर में हुई किसी कमी की वजह से ये दाने हो रहे है तो हरी सब्जियों का सेवन करना शुरू कर दें। क्योंकि इनमे हर तरह के खनिज और पोषक तत्व पाए जाते है जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आवश्यक है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!