Ultimate magazine theme for WordPress.

मेनोपॉज़ के शुरूआती लक्षण क्या होते हैं?

महिला अपने जीवन में अपने शरीर में बहुत से बदलावों का अनुभव करती है। चाहे वो फिर पहली बार पीरियड्स का आना हो, ब्रेस्ट साइज में बदलाव आना हो, महिला का प्रेग्नेंट होना हो, मेनोपॉज़ आदि। तो आज हम इस आर्टिकल में महिला में मेनोपॉज़ के बदलाव को लेकर कुछ बातें करेंगे। मेनोपॉज़ एक ऐसी अवस्था होती है जिसमे महिला को पीरियड्स आना बंद हो जाता है। महिलाओं की जब उम्र चालीस से पेंतालिस हो जाती है तो महिला मेनोपॉज़ की स्थिति से गुजर सकती है। लेकिन आज कल गलत जीवनशैली के कारण चालीस की उम्र से पहले ही महिलाएं मेनोपॉज़ का शिकार हो सकती है। तो आइये अब जानते हैं की मेनोपॉज़ क्या होता है और इसके क्या लक्षण होते हैं।

मेनोपॉज़ (रजोनिवृत्ति) क्या होता है?

जब महिला को पीरियड्स आने बंद हो जाते हैं तो उस स्थिति को रजोनिवृत्ति यानी मेनोपॉज़ कहा जाता है। रजोनिवृत्ति का मतलब महिला की प्रजनन क्षमता का अंत होना होता है। क्योंकि इसके बाद महिला के अंडाशय में एस्ट्रोजन व् प्रोजेस्ट्रोन हॉर्मोन व् अंडे बनने बंद हो जाते हैं। मेनोपॉज़ एक दम से महिलाओं में नहीं होता है। बल्कि मेनोपॉज़ होने से पहले इसके कुछ लक्षण बॉडी में महसूस होते हैं। तो आइये अब जानते हैं की रजोनिवृत्ति होने से पहले बॉडी में कौन से लक्षण महसूस होते हैं।

मेनोपॉज़ के लक्षण है पीरियड्स समय पर नहीं आना

  • यदि पहले आपको पीरियड्स समय पर आते थे लेकिन अब समय पर नहीं आ रहे हैं।
  • पीरियड्स दो से तीन या चार महीने के अंतराल में आ रहे हैं।
  • तो समझ जाइये की हो सकता आपको रजोनिवृत्ति की शुरुआत हो रही है।

नींद से जुडी समस्या

  • यदि आपको नींद से जुडी समस्या हो या तो बहुत ज्यादा नींद लेने की इच्छा हो या फिर नींद में कमी आ रही हो।
  • तो यह भी मेनोपॉज़ का ही एक शुरूआती लक्षण हो सकता है।

मेनोपॉज़ के लक्षण है गर्मी अधिक लगना

  • यदि महिला अपनी बॉडी का तापमान अधिक महसूस कर रही हो।
  • या फिर महिला को बहुत अधिक गर्मी महसूस हो तो ये भी मेनोपॉज़ का लक्षण होता है।

मूड स्विंग्स

  • मूड में अचानक से होने वाले बदलाव मेनोपॉज़ के लक्षण होते हैं।
  • ऐसे में उम्र के बढ़ने के साथ यदि मूड स्विंग्स की परेशानी होती है तो यह मेनोपॉज़ के लक्षण हो सकते हैं।

प्राइवेट पार्ट में सूखापन

  • यदि प्रेग्नेंट महिला को प्राइवेट पार्ट में सूखेपन की समस्या अधिक होती है।
  • तो यह भी रजोनिवृत्ति का लक्षण हो सकता है।
  • क्योंकि रजोनिवृत्ति के दौरान एस्ट्रोजन हॉर्मोन का उत्पादन कम होने लगता है।
  • जिसके कारण प्राइवेट पार्ट में सूखेपन की समस्या हो सकती है।

मेनोपॉज़ के लक्षण है यूरिन इन्फेक्शन

  • यूरिन इन्फेक्शन की परेशानी का अधिक रहना भी मेनोपॉज़ का लक्षण हो सकता है।
  • और इस परेशानी के होने का कारण भी बॉडी में एस्ट्रोजन हॉर्मोन के उत्पादन में कमी का होना हो सकता है।

यादाश्त कमजोर होने की समस्या

  • यदि महिला को उम्र बढ़ने के साथ भूलने की समस्या अधिक रहती है।
  • तो यह भी मेनोपॉज़ का ही लक्षण हो सकता है।
  • और इसका कारण रजोनिवृत्ति के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव हो सकते हैं।

सम्बन्ध बनाने की इच्छा में कमी

  • यदि उम्र बढ़ने के साथ महिला की सम्बन्ध बनाने की इच्छा में कमी आने लगती है।
  • और सम्बन्ध बनाते समय यदि महिला को परेशानी होने लगती है, महिला सम्बन्ध बनाते समय रूचि नहीं दिखाती है तो यह भी रजोनिवृत्ति का लक्षण हो सकता है।

तो यह हैं कुछ लक्षण जो मेनोपॉज़ से पहले बॉडी में महसूस हो सकते है। यदि आपकी उम्र बढ़ने के साथ आपको भी बॉडी में यह लक्षण महसूस हो रहे हैं तो यह रजोनिवृत्ति का लक्षण हो सकता है।