Ultimate magazine theme for WordPress.

नोर्मल डिलीवरी के लिए क्या खाएं

0

नोर्मल डिलीवरी के लिए क्या खाएं, नोर्मल डिलीवरी के लिए आहार, सामान्य प्रसव के लिए आहार, नोर्मल डिलीवरी के लिए आसान टिप्स, Food to increase the chance of Normal Delivery

प्रेगनेंसी के दौरान पौष्टिक, संतुलित व् पोषक तत्वों का सेवन बहुत जरुरी होता है। क्योंकि इससे आपको प्रेगनेंसी में आने वाली परेशानियों से बचने और स्वस्थ रहने के साथ शिशु का बेहतर विकास भी होता है। और कुछ आहार ऐसे भी है जो आपको नोर्मल डिलीवरी में होने वाली समस्याओं को दूर करके आपके नोर्मल डिलीवरी के चांस को बढ़ाते हैं। क्योंकि ज्यादातर महिलाएं चाहती है की उनकी नोर्मल डिलीवरी हो, ऐसा इसीलिए क्योंकि नोर्मल प्रसव के होने पर महिला को जल्दी रिकवर होने में मदद मिलती है। तो आइये आज हम आपको कुछ ऐसे आहार के बारे में बताने जा रहें हैं जिनका सेवन यदि आप प्रेगनेंसी के दौरान करते हैं तो आपके नोर्मल डिलीवरी होने के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है।

संतरा

प्रेगनेंसी के दौरान संतरे का सेवन करने से आपको बहुत से फायदे मिलते हैं। जैसे की इसमें पानी की मात्रा भरपूर होती है तो यह शरीर में पानी की कमी नहीं होने देता है, इसके सेवन से शिशु की त्वचा को कोमल और गोरा बनाने में मदद मिलती है, साथ ही प्रेगनेंसी के समय यह आपको संक्रमण से बचाव करने में मदद करता है, जिससे आप स्वस्थ रहते हैं और विटामिन सी से भरपूर होने के कारण यह नोर्मल डिलीवरी के चांस बढ़ाने में भी आपकी मदद करता है।

अंडा

अंडे में प्रोटीन, फैट, होने के साथ कोलिन नामक पोषक तत्व भी होता है, जो की शिशु के दिमागी विकास के लिए जरुरी होने के साथ नोर्मल डिलीवरी के लिए भी जरुरी होता है। अंडे का सेवन आपकी बॉडी में कैलोरी की मात्रा को पर्याप्त रखने में मदद करता है। और कोलिन की पर्याप्त मात्रा होने के कारण नोर्मल डिलीवरी होने के चांस होते हैं।

घी का सेवन

प्रेगनेंसी के आखिरी महीने में घी का सेवन भरपूर करना, क्योंकि इस दौरान यह शिशु का वजन बढ़ाने के साथ गर्भाशय की सतह को चिकना कर देता है। जिससे शिशु अपनी सही पोजीशन में आने लगता है। और इससे महिला को भी भरपूर पोषण मिलता है जिससे महिला की नोर्मल डिलीवरी हो सकती है।

कम वसा वाला मीट

डिलीवरी के दौरान किसी भी तरह की परेशानी न हो इसके लिए गर्भवती महिला की बॉडी में आयरन की मात्रा भरपूर होनी चाहिए। और कम वसा वाले मीट में आयरन भरपूर मात्रा में होता है। यदि महिला प्रेगनेंसी के दौरान इसका सेवन करती है तो बॉडी में आयरन की मात्रा को दुगुना करने में मदद मिलती है। जिससे नोर्मल डिलीवरी होने की सम्भावना बढ़ जाती है।

पालक

आयरन, फोलेट, विटामिन, कैल्शियम जैसे पोषक तत्वों से भरपूर पालक का सेवन भी गर्भावस्था के दौरान बहुत फायदेमंद होता है। यदि महिला पालक का सेवन करती है तो इससे महिला को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है, और बॉडी में पोषक तत्वों की मात्रा भरपूर होती है। और स्वस्थ महिला के नोर्मल डिलीवरी होने चांस भी ज्यादा होते हैं।

पानी

प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में पानी कमी होने के कारण सिरदर्द, थकान, तनाव, मूड में बदलाव, आदि की परेशानी बढ़ सकती है। साथ ही इसके कारण शिशु के विकास पर भी असर पड़ता है। और पानी व् अन्य पेय पदार्थो का सेवन करने से प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली बहुत से परेशानी से बचाव करने में महिला को मदद मिलती है। ऐसे में महिला का स्वस्थ रहना ही नोर्मल प्रेगनेंसी का लक्षण होता है।

ब्रोकली

ब्रोकली में फाइबर, कैल्शियम, विटामिन की अधिकता होने के कारण यह प्रेगनेंसी के दौरान पेट से सम्बन्धी समय जैसे की कब्ज़ जैसी परेशानी से महिला को बचाने में मदद करती है। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स महिला को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं, और शिशु को भी किसी भी तरह के रोग और संक्रमण से बचाव करने में मदद करते हैं। जिससे महिला स्वस्थ रहती है और महिला के नोर्मल डिलीवरी के चांस को बढ़ाया जा सकता है।

तो यह हैं कुछ खाद्य पदार्थ जिनका सेवन यदि आप प्रेगनेंसी के दौरान करते हैं तो ऐसा करने से आपकी नोर्मल डिलीवरी होने के चांस को बढ़ाने में मदद मिलती है। तो यदि आप भी चाहते हैं की आपकी नोर्मल डिलीवरी हो तो आप भी इन टिप्स का प्रेगनेंसी के दौरान ध्यान रखे, और हल्का फुल्का व्यायाम भी जरूर करें।