Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

20, 30 या 40 क्या है महिलाओं के लिए क्या है बच्चे पैदा करने की सही उम्र?

0

20, 30 या 40 क्या है महिलाओं के लिए क्या है बच्चे पैदा करने की सही उम्र?

हर प्रेग्नेंट महिला चाहती है की उसके गर्भ में स्वस्थ, हष्ट पुष्ट, तंदरुस्त, बुद्दिमान, बच्चे का निवास हो। लेकिन इसके लिए सबसे जरुरी होता है की महिला स्वस्थ है या नहीं क्योंकि गर्भ में बच्चे का विकास पूरी तरह से गर्भवती महिला पर निर्भर करता है। ऐसे में जरुरी होता है की प्रेगनेंसी के लिए महिला शारीरिक, मानसिक रूप से फिट होनी चाहिए, इसके अलावा महिला की उम्र भी इस मामले में बहुत मायने रखती है। कुछ महिलाएं उम्र से पहले या बहुत ज्यादा उम्र में गर्भधारण भी करती है, लेकिन उन्हें प्रेगनेंसी से जुडी बहुत सी जटिलताओं का सामना करना पड़ता है। और कई बार तो उन्हें गर्भधारण में भी दिक्कते आती है।

अब कई महिलाएं यह सवाल करती हैं की गर्भधारण के लिए सही उम्र क्या होती है? 20, 30 या 40 बच्चे पैदा करने की सही उम्र कौन सी होती है? प्रेगनेंसी यदि कम उम्र में होती है तो शारीरिक रूप से फिट न होने के कारण आपको गर्भपात जैसी परेशानी का सामना करना पड़ता है, तीस की उम्र के बाद प्रेगनेंसी में समस्या होने के साथ कई बार गर्भधारण ही नहीं होता है। क्योंकि एक उम्र के बाद अंडाशय में अंडे बनने बंद हो जाते है। तो आइए आज हम आपके इन्ही सभी सवालों का जवाब देते हैं और आपको बताते हैं की प्रेगनेंसी की सही उम्र क्या होती है।

प्रेगनेंसी की सही उम्र

 बदलते लाइफस्टाइल के साथ शादी का फैसला लोग लेट करते हैं, और उसके बाद फैमिली प्लानिंग में देरी करते हैं। ऐसे में उन्हें अपने परिवार को आगे बढ़ाने में हो सकता है परेशानी का सामना करना पड़ें तो लीजिए आज प्रेगनेंसी की सही उम्र से जुड़े कुछ सवालों का जवाब जानते हैं।

बच्चे पैदा करने की सही उम्र

 बच्चे को जन्म देने के लिए महिला की सही उम्र का होना बहुत जरुरी होता है। क्योंकि यदि महिला की उम्र बहुत कम या ज्यादा होती है तो इसके कारण महिला को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। जैसे की यदि महिला की उम्र बहुत कम होती है तो इसके कारण गर्भ में पल रहे शिशु के मानसिक विकास और शारीरिक विकास पर असर पड़ता है, और अधिक उम्र होने पर महिला का गर्भधारण नहीं हो पाता है। तो आइए जानते हैं इनसे जुडी कुछ बातें।

  • लड़कियों की शादी की उम्र अठारह वर्ष है जो की सरकार ने निर्धारित की हुई है, लेकिन उस समय शरीर इतना मजबूत नहीं होता है की महिला गर्भधारण कर सकें, और यदि महिला गर्भधारण कर लेती है तो ऐसे में शिशु के विकास पर बहुत बुरा असर पड़ता है। लेकिन यदि महिला अठारह वर्ष की उम्र में शारीरिक रूप से फिट होती है, तो वो गर्भधारण कर सकती है, लेकिन यदि महिला फिट नहीं होती है तो इससे शिशु के साथ महिला के स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव पड़ सकता है।
  • यदि महिला की उम्र तीस या पैंतीस साल से ऊपर हो जाती है तो इस उम्र में अंडाशय में अंडे बनने की संख्या भी कम होने लगती है। जिसके कारण महिला को गर्भधारण करने में परेशानी होती है, और यदि महिला तीस के बाद गर्भधारण कर भी लेती है। तो ऐसे में उसे अपना बहुत अच्छे से ध्यान रखना पड़ता है।
  • तो यदि महिला की प्रेगनेंसी के लिए सही उम्र की बात की जाए तो वो अठारह से पैंतीस साल तक होती है। क्योंकि यदि अठारह से कम और पैंतीस साल से ज्यादा उम्र में गर्भधारण होता है तो शिशु पर इसका बुरा असर देखना को मिलता है क्योंकि उसका विकास अच्छे से नहीं हो पाता है।

इस उम्र में माँ बनने में नहीं आएगी कोई दिक्कत

वैसे तो महिला के लिए बीस से तीस वर्ष की उम्र माँ बनने के लिए सबसे सही होती है। लेकिन बदलते लाइफस्टाइल के साथ बीस की उम्र में कोई माँ नहीं बनना चाहता है। लेकिन क्या आप जानते हैं की आज कल केवल पुरुष ही नहीं बल्कि महिलाएं भी इनफर्टिलिटी की समस्या से परेशान हो रही हैं। ऐसे मे यह बहुत अहम सवाल होता है की किस उम्र में प्रेगनेंसी में किसी तरह की दिक्कत नहीं होती है।

तो ऐसे में स्पेशलिस्ट के अनुसार पच्चीस से तीस वर्ष की उम्र को प्रेगनेंसी के लिए सबसे सही उम्र बताया है, क्योंकि इस दौरान प्रजनन प्रणाली व आपकी बॉडी के अन्य पार्ट्स की क्रियाएं चरम सीमा पर होते है। जिसके कारण आपको प्रेगनेंसी में किसी भी तरह की समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है। बाकी आपकी शारीरिक फिटनेस पर निर्भर करता है।

30 साल की उम्र के बाद प्रेगनेंसी

अपने कैरियर को देखते हुए कुछ महिलाएं जो शादी का फैसला ही लेट करती है तो वो महिलाएं यह सवाल करती है की क्या तीस साल की उम्र के बाद गर्भवती होना सही होता है। इसका जवाब होता है की जैसे जैसे आपकी उम्र बढ़ती है वैसे वैसे अंडाशय में अंडे बनने की संख्या कम होने लगती है। और 32 की उम्र के बाद तो फर्टिलिटी पर भी असर पड़ता है ऐसे में तीस की उम्र के बाद आपको गर्भधारण करने में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। और यदि गर्भधारण हो जाता है, तो उसके बाद प्रेगनेंसी में भी बहुत ज्यादा कॉम्प्लीकेशन्स होने के चांस होते है।

20 से 25 साल की उम्र में गर्भधारण 

जिन लड़कियों की शादी जल्दी हो जाती है तो जाहिर सी बात होती है की वो फैमिली प्लानिंग करते हैं। ऐसे में गर्भधारण का यह निर्णय सही भी होता है और गलत भी होता है, क्योंकि यदि महिला इस उम्र में शारीरिक रूप से फिट नहीं होती है तो महिला और उसके गर्भ में पल रहे शिशु दोनों के लिए ही यह नुकसानदायक हो सकता है। लेकिन यदि महिला शारीरिक और मानसिक रूप से यदि तैयार होती है तो महिला की प्रेगनेंसी का फैसला सही भी हो सकता है। ऐसे में 20 से 25 साल की उम्र में मां बनना महिला के शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार होने पर निर्भर करता है।

25 से 30 साल की उम्र में प्रेगनेंसी के नुकसान और फायदे

स्पेशलिस्ट के अनुसार इस उम्र को प्रेगनेंसी के लिए बिल्कुल सही माना गया है। क्योंकि इस समय महिला की प्रजनन प्रणाली के साथ उसके शारीरिक रूप से भी पूरी तरह फिट होने के चांस ज्यादा होते है। ऐसे में महिला को प्रेगनेंसी में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। लेकिन यदि महिला ज्यादा गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करती है, या पहले उसका गर्भपात हो चुका है तो हो सकता है की इस उम्र में उसे प्रेगनेंसी से सम्बंधित समय आएं नहीं तो यह उम्र प्रेगनेंसी के लिए बिल्कुल सही होती है। यह केवल महिला पर निर्भर करता है की उसका शरीर फिट है या नहीं, या फिर उसे कोई और समस्या तो नहीं है।

30 साल की उम्र के प्रेगनेंसी में आने वाली दिक्कत

जो महिलाएं तीस या उससे अधिक उम्र में शिशु को जन्म देने का फैसला करती है। हो सकता है की उन्हें प्रेगनेंसी में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। तो आइए जानते है की तीस की उम्र के बाद बच्चा पैदा करने में कौन सी समस्या आती है।

  • सबसे पहले तो महिला को गर्भधारण करने में ही परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
  • डिलीवरी के समय दिक्कत आ सकती है।
  • सिजेरियन डिलीवरी होने के चांस बहुत ज्यादा होते है।
  • शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास पर असर पड़ सकता है।
  • थोड़ी सी लापरवाही गर्भपात का कारण बन सकती है।

महिलाओं के लिए कौन-सी उम्र सही रहती है प्रेग्नेंसी के लिए

 प्रेगनेंसी सीधा महिला की शारीरिक फिटनेस पर निर्भर करती है क्योंकि यदि महिला बाइस साल की उम्र में शारीरिक और मानसिक रूप से फिट होती है, तो भी वो एक स्वस्थ शिशु को जन्म दे सकती है। ऐसे में महिला को बीस से तीस साल की उम्र में स्वस्थ प्रेगनेंसी हो सकती है। लेकिन यदि महिला फिट नहीं होती है तो हो सकता है की उसे प्रेगनेंसी के दौरान समस्या का सामना करना पड़े। लेकिन फिर भी आप बीस के बाद और तीस से पहले की उम्र को महिला की प्रेगनेंसी के लिए सही मान सकते हैं।

तो यह हैं प्रेगनेंसी के लिए सही उम्र से जुडी कुछ बातें, ऐसे में यदि आप भी चाहते हैं की आपको प्रेगनेंसी से जुडी इन परेशानियों का सामना न करना पड़े। और आपकी प्रेगनेंसी में किसी तरह की कोई समस्या न आए तो आपको प्रेगनेंसी का फैसला सही उम्र में ही करना चाहिए। और हो सके तो प्रेगनेंसी से पहले अपने शरीर की अच्छे से जांच भी करवानी चाहिए ताकि आपको प्रेगनेंसी के लिए आप शारीरिक रूप से तैयार हैं या नहीं इस बात का पता चल सके।

Leave a comment