Take a fresh look at your lifestyle.

प्रेगनेंसी खत्म करने की दवाई

0

प्रेगनेंसी खत्म करने की दवाई, गर्भपात करने के टिप्स, गर्भपात कैसे करें, प्रेगनेंसी खत्म करने के टिप्स, गर्भपात की गोलियां, एम टी पी किट का उपयोग, गर्भ गिराने की दवाई, Medicine for Abortion

प्रेगनेंसी हर समय ख़ुशी ही नहीं देती है क्योंकि कई बार कपल नहीं चाहता है की बच्चा जन्म लें, लेकिन बिना सुरक्षा के सम्बन्ध बनाने के कारण महिला का गर्भ ठहर जाता है। ऐसे में अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए महिला तरह तरह के घरेलू तरीको का इस्तेमाल करती है। लेकिन यदि गर्भ दो महीने तक का हो जाता है तो ऐसे में महिला को बिल्कुल भी रिस्क न लेते हुए गर्भपात करने के लिए दवाई का सेवन करना चाहिए, इस फिर डॉक्टर से राय लेनी चाहिए। क्योंकि यदि गर्भ ज्यादा समय का हो जाता है तो उसके बाद गर्भपात करने में महिला को ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ता है।

गर्भपात करने का सही समय कौन सा होता है

यदि आप बच्चे को जन्म नहीं देना चाहते हैं तो तीन महीने पूरे होने से पहले ही आपको अपना गर्भपात करवा लेना चाहिए। क्योंकि गर्भ ज्यादा समय का होने पर गर्भपात में परेशानी होने चांस बढ़ जाते हैं। और पीरियड्स लेट होने के दस से पंद्रह दिन के बाद ही आपको पता चल जाता है, की आप गर्भवती हैं या नहीं और यदि आप इससे निजात पाना चाहते हैं तो आप घर में ही आसानी से घरेलू तरीको का इस्तेमाल करके इससे निजात पा सकते हैं। लेकिन यदि गर्भ यदि ज्यादा दिन का होता है तो इसके लिए आपको एक बार डॉक्टर से ही परामर्श लेना चाहिए।

गर्भपात करने के तरीके

आज हम आपको गर्भपात करने के एक ऐसे तरीके के बारे में बताने जा रहें है जो की गर्भपात करने में 99% तक असरदार होता है। तो आइये जानते हैं गर्भपात करने का वो तरीका कौन सा है।

एम टी पी किट का उपयोग करें

गर्भपात करने की किट जिसे की एम टी पी किट कहा जाता है। उसमे दो तरह की मेडिसिन मिफेप्रिस्टोन और मिसोप्रोस्टोल होती है इसके इस्तेमाल के लिए सबसे पहले आपको मिफेप्रिस्टोन 200 mg की एक टेबलेट को निगल लें। ज्यादातर महिलाओं को इस गोली को लेने के बाद ज्यादा फ़र्क़ नहीं महसूस होता है। और इसे लेने के बाद हल्की ब्लीडिंग हो सकती। उसके बाद आप 24-48 घंटो के बाद मिसोप्रोस्टोल जो की 200 mcg की 4 गोलियाँ होती है उन्हें लें। और इन्हे पहली गोली लेने के 24-48 घंटो के बीच किसी भी समय लें, यदि आप इससे पहले या बाद में इस दवाई का सेवन करती है तो हो सकता है यह असर न करें। इन गोलियों को लेने के दो तरीके होते हैं या तो आप इनका सेवन करें या फिर आप आप अपने प्राइवेट पार्ट में इनका उपयोग करें।

एम टी पी किट लेने के बात इन बातों का ध्यान रखें

  • पानी का सेवन भरपूर मात्रा में करें।
  • दवाई लेने के बाद हल्का भोजन करें आपको आराम मिलेगा।
  • दवाई का सेवन करने के बाद आराम भरपूर करें।
  • एक बार डॉक्टर से जरूर चेक करवाएं।

डॉक्टर से राय लें

यदि आपका गर्भ दो महीने से ऊपर का है तो आपको डॉक्टर की राय लेनी चाहिए, क्योंकि यदि आप घर पर गर्भपात करते हैं तो गर्भाशय में टिश्यू रहने का खतरा होता है। जिसके कारण बाद में आपको गर्भधारण करने में परेशानी हो सकती है, साथ ही इसके कारण पेट में दर्द की समस्या भी रहने लगती है।

तो यह हैं गर्भपात करने का सबसे सही तरीका जो की आसान होने के साथ असरदार भी है, और गर्भपात करने के बाद आपको ज्यादा ब्लीडिंग जैसी समस्या का सामना करने के साथ मासिक धर्म के अनियमित होने की परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है। ऐसे में ब्लीडिंग बंद होने के बाद भी आप चाहे तो एक बार डॉक्टर से राय ले सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.