Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेगनेंसी में रात को पेट को फूलने और पेट में दर्द होने की समस्या

0

प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में प्रोजेस्ट्रोन हॉर्मोन का स्तर बढ़ने के कारण शरीर की मांसपेशियों में ढीलापन आने लगता है। जिसके कारण शरीर की क्रियाओं पर भी असर पड़ता है जैसे की पाचन क्रिया धीमी पड़ जाती है। जिसकी वजह से प्रेगनेंसी के दौरान महिला को अपच, गैस, पेट में दर्द जैसी परेशानियां महिला को हो सकती है। लेकिन महिला यदि अपने खान पान का अच्छे से ध्यान रखें।

तो महिला को इन सभी परेशानियों से निजात पाने में मदद मिल सकती है। साथ ही कुछ महिलाओं को प्रेगनेंसी में रात को पेट को फूलने और पेट में दर्द होने की समस्या अधिक होती है। तो आइये अब जानते हैं प्रेगनेंसी में रात को पेट फूलने व् पेट में दर्द होने के क्या कारण होते हैं और किस प्रकार महिला इस परेशानी से निजात पा सकती है।

प्रेगनेंसी में रात को पेट को फूलने और पेट में दर्द होने के कारण

गर्भवती महिला को यदि रात में पेट दर्द व् पेट फूलने की परेशानी अधिक होती है तो इस समस्या के होने के कई कारण हो सकते हैं। जैसे की :-

जरुरत से ज्यादा खाना

यदि महिला को जितनी भूख है महिला उससे ज्यादा खा लेती है तो भोजन को अच्छे से हज़म करने में दिक्कत होती है। जिसके कारण पेट में दर्द होने होने के साथ गैस, सीने में जलन जैसी परेशानी महिला को होती है।

गैस बनाने वाले आहार

कुछ आहार ऐसे होते हैं जिन्हे खाने से गैस बनती है और रात के समय तो उन आहार का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। जैसे की गोभी, ज्यादा तेल मसाले वाली सब्जियां, बासी व् ठंडा खाना, चना, मटर, बीन्स आदि। यदि महिला इन खाद्य पदार्थों का सेवन करती है तो इनके कारण महिला को पेट दर्द व् पेट फूलने जैसी परेशानी होती है।

खाना खाते ही सो जाना

खाना खाने के तुरंत बाद यदि प्रेग्नेंट महिला सो जाती है। तो इस कारण भोजन अच्छे से हज़म नहीं होता है जिसके कारण महिला को रात को इस परेशानी का सामना करना पड़ता है।

दूध का सेवन

यदि आप पहले दूध नहीं पीती थी और अब आपने रात को सोने से पहले दूध पीना शुरू किया है तो इस वजह से भी रात को सोते समय आपको यह परेशानी हो सकती है। साथ ही प्रेगनेंसी के दौरान भी कुछ महिलाओं को रात को दूध पीने के बाद ऐसा अनुभव हो सकता है।

प्रेगनेंसी में रात को पेट को फूलने और पेट में दर्द होने की समस्या से बचने के उपचार

  • गर्भवती महिला को रात को हमेशा हल्का व् पोषक तत्वों से युक्त आहार खाना चाहिए।
  • ऐसा आहार ले जिसमे फाइबर की मात्रा हो ताकि भोजन को आसानी से हज़म करने में मदद मिल सके।
  • जितनी भूख हो उतना ही खाएं स्वाद के चक्कर में ज्यादा न खाएं क्योंकि उससे आपको ही परेशानी होगी।
  • रात को दूध पीने के कारण यदि आपको यह परेशानी हो रही है। तो आपको रात को दूध का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • ज्यादा तेल मसाले वाले आहार, बासी व् ठन्डे आहार, का सेवन रात को नहीं करना चाहिए।
  • ऐसे खाद्य पदार्थों को रात को बिल्कुल न खाएं जिससे आपको पेट में गैस बनने की समस्या हो।
  • रात को सोने से कम से कम दो घंटे पहले खाना खाएं ताकि भोजन को अच्छे से हज़म होने में मदद मिल सके जिससे आपको यह परेशानी न हो।

तो यह हैं प्रेगनेंसी में रात को पेट को फूलने और पेट में दर्द होने की समस्या से बचने के उपाय, यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं तो आपको भी इन बातों का ध्यान रखना चाहिए। ताकि रात को सोते समय आपको ऐसी किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़े।

Leave a comment