Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेगनेंसी टेस्ट में एक लाइन हल्की और एक लाइन डार्क का मतलब

प्रेगनेंसी टेस्ट में एक लाइन हल्की और एक लाइन डार्क का मतलब, प्रेगनेंसी टेस्ट, प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें, प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीके, प्रेगनेंसी टेस्ट में लाइन क्या दिखाती है, pregnancy test me ek line halki or ek line dark hone ka matlab

0

प्रेगनेंसी चेक करना आज कल किसी के लिए भी मुश्किल नहीं है बल्कि आप घर में ही प्रेगनेंसी किट लाकर प्रेगनेंसी चेक कर सकते है। यह आपको आसानी से किसी भी मेडिकल की दूकान पर मिल जाती है। और इस टेस्ट को करने के लिए आप सुबह उठने के बाद सबसे पहले यूरिन का इस्तेमाल करें क्योंकि उस समय हॉर्मोन अधिक संवेदनशील होते है। और आप इस टेस्ट को आपके पीरियड्स मिस होने के एक हफ्ते बाद कर सकते है। इस किट को खोल कर इसमें तीन बूंद यूरिन की डालकर इस टेस्ट को किया जाता है।

उसके बाद इसमें दो लाइन आती है एक जो यह दिखाती है की यह प्रेगनेंसी किट सही है। और दूसरी यह दिखाती है की आप प्रेग्नेंट है। लेकिन यदि इस किट में एक ही लाइन दिखती है तो इसका मतलब यह होता है की आपका टेस्ट नेगेटिव है। लेकिन कई बार प्रेगनेंसी टेस्ट करते हुए बिलकुल हल्की सी लाइन आती है। यह आपकी प्रेगनेंसी चेक करने की संवेदनशीलता पर निर्भर करता है। क्योंकि कई बार जो किट आप इस्तेमाल करते है वो कम संवेदनशील होती है जो आपके परिणाम की गणना अच्छे से नहीं कर पाती है।

साथ ही प्रेगनेंसी का सही रिजल्ट तभी आता है जब बॉडी में h.c.g हॉर्मोन सही मात्रा में स्त्रावित होता है। और यह हॉर्मोन यदि आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में होता है तभी आपका परिणाम पॉज़िटिव आता है नहीं तो नहीं आता है। और यह हॉर्मोन आपका गर्भधारण होने के छह से बारह दिन के बीच में बॉडी में अच्छे से स्त्रावित होना शुरू हो जाता है। क्या आपके भी पीरियड मिस हो गए है? और आप भी सोच रही है की घर पर ही प्रेगनेंसी टेस्ट किया जाए। तो आइये आज जानते है की प्रेगनेंसी किट में लाइन के हलके और डार्क आने का क्या मतलब होता है।

प्रेगनेंसी टेस्ट में एक लाइन हल्की और एक लाइन डार्क आने का मतलब:-

घर में प्रेगनेंसी टेस्ट करने के बाद यदि एक लाइन हल्की और एक लाइन डार्क आने का मतलब न तो आपकी प्रेगनेंसी को पॉज़िटिव बताता है और न ही नेगेटिव बताता है। यदि प्रेगनेंसी टेस्ट करने के बाद आपकी एक लाइन डार्क और एक हल्की आती है तो आपको तीन या चार दिन बाद दुबारा टेस्ट करना चाहिए। साथ ही टेस्ट करने के लिए आपका सही समय पीरियड्स के मिस होने के एक हफ्ते बाद होता है। क्योंकि इस समय आपके शरीर के HCG हॉर्मोन की क्रियाशीलता ज्यादा होती है।

जिससे आपको प्रेगनेंसी का सही परिणाम मिलता है, इसके अलावा आपको इस बात का भी खास ध्यान रखना चाहिए की जब भी आप प्रेगनेंसी टेस्ट करें तो सुबह के सबसे पहले यूरिन का इस्तेमाल करें। और उसके बाद यदि आपका प्रेगनेंसी टेस्ट सही नहीं आता है और आप दुबारा टेस्ट करने की सोच रहे है तो उसके लिए आपको नई किट का इस्तेमाल करना चाहिए। ऐसे आप अपनी प्रेगनेंसी के सही परिणाम की सही जांच कर सकते है, उसके बाद भी आप चाहे तो एक बार डॉक्टर की राय ले सकते है।

प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका:-

सबसे पहले बाजार से एक प्रेगनेंसी टेस्ट किट लेकर आए। उसके बाद सुबह उठकर सबसे पहले यूरिन को एक सूखे और साफ़ ढक्कन में लें, फिर प्रेगनेंसी टेस्ट किट को खोलें। उसमे यूरिन के लिए एक ड्रॉपर होता है। उसके बाद ड्रॉपर में यूरिन को भरें, और किट पर जहां S लिखा है उसमे तीन बूंदे आराम से डालें। फिर आप इंतज़ार करें यदि किट पर लिखा C डार्क हो जाता है तो इसका मतलब होता है की प्रेगनेंसी किट सही है। और फिर T भी डार्क हो जाता है तो इसका मतलब होता है की आप गर्भवती है, और यदि T डार्क नहीं होता है तो इसका मतलब होता है की आपका टेस्ट नेगेटिव है।

तो यदि आप भी घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट कर रही है, और इसमें आपकी लाइन हल्की आने के बाद दुबारा टेस्ट करें। नहीं तो आप इसे कन्फर्म करने के लिए डॉक्टर के पास भी जा सकते है। क्योंकि किसी भी महिला के लिए एक बार प्रेगनेंसी टेस्ट में हल्की लाइन आने के बाद दुबारा इंतज़ार कर पाना भावनात्मक रूप से थोड़ा कठिन हो सकता है। इसीलिए आप चाहे तो एक बार डॉक्टर की राय ले सकते है।

Leave a comment