हिंदी में जानकारी

बाल टूटने के क्या कारण होते है?

0

Reasons of Hair Fall

बालों के टूटने के कारण, Reasons of hair falll, Hair Loss ke karan, baal ka tutna, Top 10 reasons behind losing hair, hair fall problem, Balo ka akaran tutna

बालों का झड़ना या टूटना आज के समय की सबसे आम समस्या बनता जा रहा है। छोटा बच्चा हो या कोई बड़ा हर कोई इस समस्या से परेशान दिखाई पड़ता है। लेकिन लोगों का मानना है की महिलाओं की तुलना में पुरुषों के बात अधिक टूटते है। जिसको लेकर एक अध्यन किया गया और उसमे पाया गया की पुरुषों में गंजेपन का कारण जेनेटिक (अनुवांशिक) होता है, जबकि स्त्रियों में इस समस्या के होने का मुख्य कारण तनाव या मानसिक परेशानियां होती है।

शोध के मुताबिक, वे स्त्रियां जिनका वैवाहिक जीवन तनावपूर्ण होता है, जो असमय अपने पति या किसी अपने को खो देती है या फिर जो तलाक जैसी स्थिति से गुजर रही होती है उनके सर के बीच वाले हिस्से यानी मांग से बालों का झड़ना आम बात होती है। इसके अलावा भी बालों के टूटने और झड़ने के कई कारण होते है जिनपर हम लोग गौर नहीं करते और अकारण ही इस समस्या को मोल ले लेते है।wet hair

अगर आपके बाल भी भारी मात्रा में टूटते है, तो हो सकता है की आप भी गंजेपन के शिकार हो सकते है। ऐसे में इसका कारण जानकर उसे रोकना अति आवश्यक है। इसीलिए आज हम आपकप बालों के टूटने के कुछ विशेष कारणों के बारे में बताने जा रहे है जिनकी मदद से आप भी अपने बालों के टूटने के कारण का पता लगा पाएंगे।

बालों के टूटने के क्या कारण होते है?

1. तनाव :

वर्तमान में बालों के टूटने का मुख्य कारण इसी को माना जाता है। क्योंकि आज कल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में हमारे शरीर से बड़ी मात्रा में ऊर्जा बाहर निकलती है जिसके कारण तनाव का स्तर बढ़ता है। इसलिए अधिकतर लोगों के तनाव के कारण बाल टूटने लगते है। क्योंकि तनाव लेने से मस्तिष्क की मांसपेशियां कमजोर हो जाती है जिसका सीधा प्रभाव बालों की जड़ों पर पड़ता है।

2. परिवार :

बहुत से लोगों के बालों के टूटने या झड़ने का कारण उनके परिवार के इतिहास से संबंधित होता है। जिसमे आप या हम कुछ नहीं कर सकते। ऐसी स्थिति में उचित आहार और बेहतर लाइफस्टाइल ही आपकी इस समस्या को कम करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा खुद को उन चीजों से भी बचा कर रखें जो बालों के झड़ने का कारण बनते है।

3. आधुनिक उपकरण :

बहुत सी लड़किया अक्सर नहाने के बाद बालों को सुखाने के लिए हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करती है। जबकि ये उनके बालों के लिए बेहद नुकसानदेह होता है। इस बात की पुष्टि एक शोध में हुई है की प्रतिदिन बालों को ड्रायर से सुखाने से बाल अधिक मात्रा में झड़ते है। इसके अलावा बालों को स्ट्रैट और कर्ल करने के लिए प्रयोग किये जाने वाले ट्रीटमेंट्स भी बालों को डैमेज करने का काम करते है।

4. हॉर्मोन परिवर्तन :

गर्भावस्था और प्रसव के दौरान शरीर में हॉर्मोन के स्तर में काफी उतार चढ़ाव होते है जिसके कारण बहुत अधिक मात्रा में बाल टूटने लगते है। इसके अतिरिक्त थाइराइड इम्बैलेंस, मासिक धर्म के बंद होने और हॉर्मोन से संबंधित अवस्था में भी बाल तेजी से टूटने लगते है।

5. केमिकल प्रोडक्ट :

Read More : क्या आप भी अपने बाल कलर करती है? ये जरुर पढ़ें!

आज बाजार में मौजूद सभी शैम्पू, कंडीशनर और हेयर ऑयल्स में केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है जो बालों को कई तरह से नुकसान पहुंचते है। वर्तमान के अधिकतर कास्मेटिक में भी हानिकारक रसायन होते है और जब आप उनका इस्तेमाल आपके बालों पर करती है तो ये बालों को कमजोर करने के साथ-साथ बालों से जुडी अन्य समस्यायों को भी जन्म देते है।

6. जंक फ़ूड :

अधिक मात्रा में जंक फ़ूड का सेवन करने से शरीर में पोषण की कमी होने लगती है, जो की गंजेपन या बालों के टूटने का एक कारण होता है। इसलिए कारण जब आप अपने खान पान पर ध्यान देना बंद कर देते है तो बहुत अधिक मात्रा में बाल टूटने लगते है।

7. मौसम :

आपके ऑफिस या घर में लगा एयर कंडीशनर आपको गर्मी से राहत तो दिला सकता है लेकिन आपके बालों के लिए ये बिलकुल भी अच्छा नहीं है। इसके अलावा सूरज की तेज किरणें भी आपके बालों को नुकसान पहुंचाती है। ऐसे में जरुरी है की अपने बालों की अच्छी तरह से ध्यान रखा जाए।

8. लिंग :बालों के टूटने

बालों के टूटने या झड़ने की समस्या महिला व् पुरुष दोनों में ही होती है। जिसमे महिलाओं के बाल पुरे सर से एक समान रूप से टूटते है जबकि पुरुषों के बाल एक विशेष तरीके से टूटते है। पुरुषों की ऑटो-इम्यून अवस्था भी गंजेपन का एक कारण होती है।

9. नींद :

अच्छी तरह से नींद नहीं लेने का असर आँखों के साथ साथ सर पर भी दिखता है। इसलिए सभी डॉक्टर हर बीमारी में यही सलाह देते है की भरपूर नींद ली जाएँ। क्योंकि कई बार ठीक तरह से नींद नहीं लेना भी आपके गंजेपन का कारण हो सकता है।

10. बीमारियां :

मनुष्य के शरीर में ऐसी बहुत सी बीमारियां होती है जिनका असर बालों की सेहत पर पड़ता है। खून की कमी, poly cystic ovary syndrome, थाइराइड और chronic illnesses कुछ ऐसी ही बीमारियां है जिसके कारण सर से बाल टूटने लगते है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!