Take a fresh look at your lifestyle.

प्रेगनेंसी के दौरान पैरों में सूजन कितनी खतरनाक हो सकती है?

0

माँ बनने का अहसास बहुत ही खूबसूरत होता है, लेकिन इस खूबसूरत अहसास को महसूस करने के साथ प्रेग्नेंट महिला प्रेगनेंसी के पूरे नौ महीने बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण किसी न किसी समस्या से परेशान रह सकती है। ऐसे में यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा की माँ बनना किसी भी महिला के लिए आसान नहीं होता है। और गर्भवती महिला उल्टी, मॉर्निंग सिकनेस, बॉडी पार्ट्स में दर्द, ब्लीडिंग, वजन बढ़ना, बालों का गिरना, मूड स्विंग्स, जैसी पता नहीं कितनी परेशानियों का सामना प्रेगनेंसी के दौरान कर सकती है। जरुरी नहीं है की हर गर्भवती महिला को एक जैसी ही परेशानी हो क्योंकि यह महिला की बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव पर निर्भर करता है। और ऐसी ही कुछ परेशानियों में से एक होती है सूजन की समस्या जिससे बहुत सी गर्भवती महिलाएं परेशान हो सकती है।

प्रेगनेंसी में सूजन

गर्भावस्था के समय सूजन की समस्या का होना आम बात होती है और यह सूजन महिला को हाथों, पैरों, मुँह, आदि कई अंगो पर देखने को मिल सकती है। ज्यादा महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान तीसरी तिमाही में इस समस्या से ग्रस्त हो सकती है। क्योंकि वजन बढ़ने के कारण सिर से पैरों तक ब्लड फ्लो स्लो हो सकता है जिसके कारण यह समस्या हो सकती है। इसके अलावा और भी ऐसे कारण हैं जिनकी वजह से प्रेगनेंसी के दौरान महिला को सूजन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है तो आइये अब जानते हैं की प्रेगनेंसी के दौरान सूजन के और क्या कारण हो सकते हैं।

प्रेगनेंसी में सूजन के कारण

  • जो प्रेग्नेंट महिलाएं पानी का सेवन कम मात्रा में करती है उन महिलालों को डिहाइड्रेशन की समस्या होने के कारण इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
  • बहुत देर तक एक ही पोजीशन में खड़े या बैठे रहने के कारण भी महिला को इस समस्या के कारण परेशान होना पड़ सकता है।
  • गर्भावस्था के दौरान बॉडी में तेजी से हो रहे हार्मोनल बदलाव के कारण भी महिला को इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • नमक का सेवन अधिक मात्रा में करने की वजह से भी ऐसा हो सकता है।
  • जिन गर्भवती महिलाओं के शरीर में खून की कमी होती है उन्हें भी यह परेशानी हो सकती है।

प्रेगनेंसी में सूजन होना कितना खतरनाक हो सकता है?

गर्भवती महिला को हाथों, पैरों, में हल्की सूजन का महसूस होना बहुत ही आम बात होती है। कई बार इसके कारण महिला को चलने फिरने में भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही महिला को हल्के फुल्के दर्द का अहसास भी हो सकता है। लेकिन यदि प्रेग्नेंट महिला को मुँह व् हाथों पर अधिक सूजन हो, पैरों में सूजन के साथ बहुत तेज दर्द हो पैरों के भार खड़े होने में भी दिक्कत हो, स्किन पर गर्माहट महसूस हो, तो प्रेग्नेंट महिला को अनदेखा नहीं करना चाहिए क्योंकि यह प्री-एक्लेमप्सिया का लक्षण हो सकता है जो प्रेग्नेंट महिला के साथ शिशु के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है। ऐसे में गर्भवती महिला को सूजन के इन लक्षणों को अनदेखा नहीं करना चाहिए।

तो यह हैं प्रेगनेंसी के दौरान सूजन होना कितना खतरनाक हो सकता है और सूजन के क्या क्या कारण हो सकते हैं इससे जुड़े कुछ टिप्स, ऐसे में प्रेग्नेंट महिला को सूजन के साथ अन्य कोई भी असहज लक्षण महसूस हो तो उसे अनदेखा नहीं करना चाहिए क्योंकि यह शिशु और महिला दोनों के लिए नुकसानदायक हो सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.