Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

गर्भवती महिला के लिए केसर के फायदे

0

प्रेगनेंसी के दौरान घर का हर सदस्य अपनी राय देना शुरू कर देता है फिर चाहे वो खान पान को लेकर हो, या फिर किसी काम को लेकर, इसका कारण होता है की घर का हर सदस्य यही चाहता है की प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला के साथ गर्भ में पल रहे शिशु को भी स्वस्थ रहने में मदद मिल सके। ऐसे में कुछ लोग प्रेगनेंसी के दौरान केसर का सेवन करने की भी सलाह देते हैं। क्योंकि केसर सबसे महंगा हर्ब होने के साथ बहुत से औषधीय गुणों से भी भरपूर होता है। साथ ही केसर में थियामाइन और रिबोफ्लेविन भी मौजूद होते है जो प्रेगनेंसी के दौरान काफी फायदेमंद होते है।

कुछ लोग तो ऐसा तक कहते हैं की यदि गर्भवती महिला केसर का सेवन करती है तो इससे गर्भ में पल रहे शिशु को गोरा पैदा होने में मदद मिलती है। साथ ही केसर का सेवन गर्भवती महिला यदि पर्याप्त मात्रा में करे तो ही इसका फायदा मिलता है। क्योंकि आवश्यकता से अधिक किसी भी चीज का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान नुकसानदायक भी हो सकता है। पहली तिमाही में नहीं लेकिन दूसरी और तीसरी तिमाही से गर्भवती महिला केसर का सेवन शुरू कर सकती है। तो लीजिये आज हम आपको प्रेगनेंसी के दौरान केसर का सेवन करने से कौन कौन से फायदे मिलते हैं इस बारे में बताने जा रहे हैं।

आयरन मिलता है

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला के शरीर में होने वाली आयरन की कमी होने के कारण एनीमिया जैसी समस्या हो सकती है। ऐसे में केसर का सेवन गर्भवती महिला के शरीर में आयरन की कमी को पूरा करने में मदद करता है।

हदय सम्बन्धी समस्या से बचाव

केसर में क्रोसेटीन, पोटैशियम, एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं। जिससे गर्भवती महिला के कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। जिससे गर्भवती महिला को हदय सम्बन्धी समस्या से बचाव करने में मदद मिलती है।

पाचन दुरुस्त रहता है

गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान पाचन क्रिया से जुडी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसका कारण प्रेगनेंसी में बॉडी में ब्लड फ्लो में अनियमितता हो सकती है। ऐसे में केसर का सेवन करने से गर्भवती महिला को इस परेशानी से निजात पाने में मदद मिलती है।

ऐंठन से मिलती है राहत

प्रेगनेंसी के दौरान पेट में दर्द व ऐंठन की समस्या का होना आम बात होती है, ऐसे में केसर का सेवन करने से पेट में होने वाले दर्द की समस्या के साथ ऐंठन की समस्या से भी राहत पाने में मदद मिलती है।

ब्लड प्रैशर से आराम

ब्लड प्रैशर की समस्या से भी कुछ महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान परेशान हो सकती है, और इस समस्या से राहत पाने के लिए केसर एक असरदार उपाय होता है। इसके लिए गर्भवती महिला को दूध में डालकर नियमित केसर का सेवन करना चाहिए।

किडनी लिवर को रखता है दुरुस्त

केसर बॉडी में मौजूद विषैले पदार्थो को बाहर निकालने के साथ ब्लड को साफ़ करने का भी काम करता है। और गर्भवती महिला यदि केसर का सेवन करती है तो प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला के किडनी व लिवर को दुरुस्त रहने में मदद मिलती है।

आँखों की समस्या से निजात मिलता है

कुछ महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान तनाव, कमजोरी या थकान, होने के कारण आँखों में दर्द, लाल होने जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में केसर का सेवन करने से गर्भवती महिला को आँखों से जुडी परेशानी से निजात पाने में मदद मिलती है।

मॉर्निंग सिकनेस से आराम

ज्यादातर गर्भवती महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान मॉर्निंग सिकनेस की समस्या से परेशान रहती है। सुबह उठने में थकावट महसूस होना, उल्टी आना, जी मचलाना जैसी समस्या गर्भवती महिला को हो सकती हैं। और इस परेशानी से राहत के लिए केसर का सेवन करना गर्भवती महिला के लिए एक असरदार उपाय में से एक होता है।

मूड स्विंग्स से निजात

गर्भवती महिला के शरीर में हो रहे हार्मोनल बदलाव के कारण मूड स्विंग्स का होना भी आम बात होती है जिसके कारण महिला को चिड़चिड़ाहट होना, गुस्सा आना, तनाव आदि हो सकता है। और प्रेगनेंसी के दौरान अधिक तनाव महिला और शिशु दोनों के लिए चिंता का कारण हो सकता है। और मूड स्विंग्स की समस्या से निजात पाने के लिए केसर का सेवन करना एक बेहतरीन उपाय होता है।

प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है

प्रेगनेंसी के दौरान इन्फेक्शन व एलर्जी होने का भी खतरा रहता है, और यदि गर्भवती महिला केसर का सेवन करती है। तो इससे गर्भवती महिला की इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद मिलती है जिससे एलर्जी व इन्फेक्शन जैसी परेशानी से बचाव करने में मदद मिलती है।

बेहतर नींद

वजन बढ़ने के कारण, प्रेगनेंसी में होने वाली परेशानियों के कारण कई महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान अनिंद्रा की समस्या भी हो सकती है। ऐसे में यदि गर्भवती महिला रात को सोने पहले केसर वाले दूध का सेवन करती है तो इससे बेहतर नींद लेने में मदद मिलती है।

गर्भ में शिशु की हलचल

गर्भ में शिशु की हलचल किसी भी गर्भवती महिला के लिए उसकी प्रेगनेंसी का सबसे खास अनुभव होता है। और केसर का सेवन करने से गर्भ में शिशु की हलचल को बढाने में मदद मिलती है। क्योंकि केसर का सेवन करने से बॉडी का तापमान थोड़ा बढ़ जाता है जिसके कारण शिशु की हलचल ज्यादा महसूस हो सकती है, लेकिन इसके लिए गर्भवती महिला को ज्यादा केसर का सेवन भी नहीं करना चाहिए क्योंकि यह गर्भवती महिला और शिशु के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है।

स्किन के लिए है बेहतर

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला महिला की स्किन की ख़ूबसूरती को बढ़ाने के लिए भी केसर का सेवन करना फायदेमंद होता है, साथ ही इससे गर्भ में पल रहे शिशु की रंगत में भी निखार आता है, ऐसा बहुत से लोग मानते हैं।

तो यह हैं कुछ फायदे जो गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान केसर का सेवन करने से मिलते है, केसर का सेवन करने से पहले आप चाहे तो एक बार डॉक्टर की राय भी ले सकते हैं।

Leave a comment