Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

सर्दियों में ऊनी कपड़ो की ऐसे करें देखभाल!

सर्दियों में ऊनी कपड़ो की देखभाल :- दिसंबर का महीना शुरू हो चुका है और अब धीरे-धीरे मौसम कड़ाके की सर्दियों की तरफ अपना मुख मोड़ रहा है. इसी के साथ अब सर्द हवाएं भी चलने लगी है जिनसे बचने के लिए लोगो ने अपनी-अपनी अटेचियों से ऊनी कपडे बाहर निकाल लिए है. लेकिन इस मौसम में सबसे बड़ी परेशानी भी यही माने जाते है क्योकि ऊनी कपड़ो को विशेष देखभाल और देख रेख की आवश्यकता होती है और यदि इनकी सही तरह से देखभाल न की जाये तो ये अगले साल के लिए उपयोगी नहीं रहते.

-- Advertisement --

सामान्य कपड़ो की तुलना में ऊनी और गर्म कपड़ो को विशेष देखरेख की आवश्यकता होती है ताकि उनकी गर्माहट बनी रहे और ये कपडे लम्बे समय तक चले. इसके अलावा इन कपड़ो की चमक बनाये रखने के लिए भी इन्हें खास देखभाल की जरुरत होती है. क्योकि यदि इन कपड़ो की सही देखभाल न की जाये तो एक-दो इस्तेमाल के बाद से ही इनके आकार और इनके रंग में फर्क आने लगता है.

ऐसे तो सभी महिलाये अपनी-अपनी सामर्थ्य के अनुसार ऊनी कपड़ो की देखभाल करती है. लेकिन कुछ को इस विषय में तनिक भी जानकारी नहीं होती जिसके चलते उनके नए ऊनी कपडे भी जल्द ही खराब और पुराने हो जाते है. इसके अलावा कुछ महिलाये ऊनी कपड़ो को धोने के लिए गर्म पानी का प्रयोग करती है जो बिलकुल भी ठीक नहीं है. क्योकि गर्म पानी ने ऊनी कपडे धोने से न सिर्फ यह सिकुड़ते है बल्कि उनमे रोएं भी निकाल आते है.

ऊनी कपड़ो की देखभाल आम कपडे से बिलकुल अलग है. घर के बने स्वेटर और रेडीमेड स्वेटर की भी सफाई दो अलग तरीको से की जाती है. ऊनी कपड़ो की लाइफ इस बात पर निर्भर करती है की सर्दियों में आप किस तरह इनकी सफाई करती है और कहाँ स्टोर करती है. इसे अलावा इन्हें धोने की तकनीक और इनकी सफाई के लिए भी अलग तकनीक का प्रयोग किया जाता है.

लेकिन सभी लोगों को इसकी पूर्ण जानकारी नहीं होती इसीलिए आज हम आपको ऊनी कपड़ो की देखभाल की कुछ विशेष टिप्स और तरीके बताने जा रहे है जिसकी मदद से आप भी अपने ऊनी कपड़ो की सही देखभाल कर सकती है.

ऊनी कपड़ो की धुलाई का तरीका :-

सर्दियों के शुरू होते ही सभी अपने ऊनी कपड़ो को बंद अलमारियों और दराजों से बाहर निकाल लेते है. लेकिन उनपर इक्कठी धूल और मिटटी के कारण उसी अवस्था उन्हें पहनना संभव नहीं इसीलिए इस्तेमाल से पूर्व इन्हें ठीक तरह से साफ़ करना चाहिए. जिसका तरीका हम आपको नीचे बताने जा रहे है.

1. कपड़ो को अलमारियों से निकालने के बाद सबसे पहले उन्हें अच्छे से झाड़ लें.
2. अब टिश्यू में हल्का सा पानी छिड़ककर कपड़ो की सफाई करें.
3. इसके बाद कम से कम दो से तीन दिन की धुप कपड़ो को लगाएं. जिससे उनमे मौजूद बैक्टीरिया भी खत्म हो जाये. साथ ही उनकी बदबू भी निकल जाएगी.
4. यदि आपने पिछले साल कपड़ो को रखने से पहले उनकी धुलाई नहीं की थी ते बेहद जरुरी है.
5. क्योकि ऊनी कपड़ो में अमूमन फंगस लग जाता है. जिसे निकालने के लिए इन्हें धुप लगाना जरुरी है.

6. यदि आपके ऊनी कपड़ो से बदबू आ रही है तो उन्हें धोने की जगह उन्हें कागज पर फैलाये और अच्छी तरह से धुप में रखे रहे.
7. इसके बाद कुछ देर के लिए इन्हें ठंडे पानी में हल्का डिटर्जेंट या ऊनी कपड़ो का डिटर्जेंट डालकर दस मिनट के लिए उन्हें भिगो दें.
8. इसके बाद किसी हेंगर की सहायता से या किसी कुर्सी पर इन्हें फैला कर सुखाएं.
9. लेकिन एक बात का ध्यान रखें की ऊनी कपड़ो को कभी भी गर्म पानी में न धोएं.
इससे उनमे रोएं निकल जाते है.
10. ऊनी कपड़ो को धोने के लिए हमेशा ठंडे पानी का प्रयोग करें. लेकिन हां, जिस डिटर्जेंट से आप आम कपडे धोती है, उनका प्रयोग न करें.woolen-clothes

  • यदि आपके पास ऊनी कपड़ो को धोने वाला डिटर्जेंट नहीं है तो आप बच्चो के शैम्पू या साबुन का हल्का घोल बना लें.
  • इसका प्रयोग स्वेटर साफ़ करने के लिए करें.
  • यदि ऊनी कपड़ो में दाग लग गया है तो टिश्यू पेपर में हल्का सा साबुन लगा कर हलके हाथो से पोंछे.
  • सामान्य कपड़ो की तरह रोज-रोज ऊनी कपड़ो की धुलाई न करें.
  • यदि आपको ऐसा लगता है की आपका स्वेटर ज्यादा गंदा हो गया है तो उन्हें ठंडे पानी में थोड़ी देर के लिए भिगो दें. उसके बाद धोएं.

1. यदि आप ऊनी कपडे धोने के लिए वाशिंग मशीन का प्रयोग करती है तो ये ऊनी कपड़ो के लिए ठीक नहीं है. और हो सकता है जल्द ही आपके ऊनी कपडे खराब हो जाये.
2. ऊनी कपड़ो को कभी भी ड्रायर में न सुखाएं. इससे उनमे सिकुड़न आ जाती है.

3. जब भी ऊनी कपड़ो को साफ़ करके उन्हें पैक करे तो उन्हें ऐसी जगह रखे जहाँ हवा आती हो.
4. बेहतर होगा आप इन्हें मलमल के कपडे या कागज ने पैक करके रखें.
5. क्योकि यदि ऊनी कपड़ो को हवा न लगे तो वे जल्दी खराब हो जाते है और उनके धागे कमजोर हो कर टूटने लगते है.
6. थोड़ी जगह में बहुत सारे ऊनी कपडे न रखे. इससे कपडे खराब होने का खतरा बढ़ जाता है.

ऊनी कपड़ो के दागों कैसे दूर करें?thande-paani-me-dhoyen

  • फलों के दागों को हटाने के लिए दाग के ऊपर ग्लिसरीन लगाएं और फिर कपड़ो को धो लें. दाग गायब हो जायेंगे.
  • कीचड़ के निशानों हटाने के लिए पहले ब्रश से सुखी कीचड़ को हटाये उसके बाद गुनगुने पानी से कपडे धो लें. आप पानी में थोड़ा सा अमोनिया भी मिला सकती है.
  • यदि आपके ऊनी कपड़ो पर शराब गिरी है तो उस निशान पर थोड़ा सा सोडा वाला पानी डालें.
  • ऊनी कपड़ो पर लगे इंक के निशान को हटाने के लिए उसपर टमाटर का जूस लगाएं और उसके बाद उन्हें धो कर साफ़ कर लें.
  • यदि आपके ऊनी कपडे पर तेल का दाग लग गया है तो पहले उस पर हलके हाथो से दही लगाएं और उसके बाद उसे धो लें.
  • तेल के निशान पर पाउडर छिडकने से भी निशान हल्का हो जाता है.
  • ऊनी कपड़ो पर गिरी चाय को हटाने के लिए तुरंत उस पर चीनी छिड़के, इससे दाग गहरा नहीं होगा. बाद में कपडे को गुनगुने पानी से साफ़ कर लें. दाग गायब हो जायेगा.
  • चॉक्लेट के निशान को हटाने के लिए स्पंज को ठंडे पानी से गीला करे और चॉक्लेट के निशान को हटाएँ.
  • ऊनी कपड़ो पर यदि गोंड का निशान लग गया है तो उस हिस्से पर शराब की कुछ बुँदे गिरा दें. इससे दाग हट जायेगा.

इन बातो का रखें ध्यान :-woolen-clothes-ki-dekhbhal

  • गरम पानी और hard साबुन ऊनी कपड़ो के लिए हानिकारक होते है.
  • वाशिंग मशीन में कपडे धोने से वे जल्दी खराब हो जाते है.
  • दूसरे कपड़ो की तरह ऊनी कपड़ो को रोज-रोज नहीं धोना चाहिए.
  • इससे उनकी चमक कम हो जाती है और उनकी लाइफ भी कम हो जाती है.
  • आप चाहे तो इन्हें डॉयक्लीन भी करा सकती है.
  • ऊनी कपड़े को धोने के लिए हमेशा ऊनी कपडे धोने वाले डिटर्जेंट का प्रयोग करें.
  • इन्हें ड्रायर में सूखने की जगह गीले ही धुप में सुखाएं.
  • ऊनी कपड़ो पर कभी भी प्रेस न करें. इससे उनके रेशे कमजोर हो जाते है.

सर्दियों में Uni Kapdo की देखभाल ऐसे करें, Uni Kapdo के लिए विशेष देखभाल, सर्दियों में Uni Kapdo की देखभाल कैसे करें, Uni Kapdo की देखरेख कैसे करें

Leave a comment