Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

एमटीपी अबॉर्शन किट इस्तेमाल करने के तरीके और साइड इफ़ेक्ट

0

एमटीपी अबॉर्शन किट गर्भपात के लिए इस्तेमाल की जाने वाली किट होती है। यह किट दो तरह की दवाइयों को मिलाकर बनती है। पहली दवाई होती है मिफेप्रिस्टोन जो की एक ऐसे हॉर्मोन की तरह काम करती है जो बॉडी में प्रोजेस्ट्रोन हॉर्मोन के प्रभाव को कम करती है। और दूसरी तरह की दवाई होती है मिसोप्रोस्टोल जो की गर्भाशय में संकुचन को बढ़ाने में मदद करती है। और इन दोनों दवाइयों के प्रभाव से महिला का गर्भपात हो जाता है।

लेकिन इस दवाई को लेने के लिए डॉक्टर की सलाह बहुत जरुरी होती है। यह किट उन्ही महिलाओं पर असरदार होती है जिनका गर्भ दो महीने तक का होता है। यदि प्रेगनेंसी दो महीने से ज्यादा हो जाती है तो यह किट हो सकता है की बॉडी पर असर न करें, और इससे पूरी तरह गर्भपात न हो। इसीलिए दवाई लेने के बाद आपको किसी भी तरह की परेशानी न हो इसके लिए एक बार डॉक्टर की सलाह लेना जरुरी होता है।

एमटीपी अबॉर्शन किट का इस्तेमाल कैसे किया जाता है?

एमटीपी किट में एक पैक में 5 गोलियां होती है जिसमे एक गोली मिफेप्रिस्टोन की होती है जो की 200mg की होती है और 4 गोलियां मिसोप्रोस्टोल की होती है जो की 200mcg की होती है। इसमें से सबसे पहले मिफेप्रिस्टोन की एक गोली खाली पेट सबसे पहले ली जाती है। उस गोली के लेने के बाद एक से तीन दिन के अंदर आपको बची हुई मिसोप्रोस्टोल की गोलियां प्राइवेट पार्ट के अंदर रखनी होती है, इन गोलियों को अंदर रखने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला उपकरण किट में ही दिया होता है।

और किस तरह उस उपकरण का इस्तेमाल करके आप प्राइवेट पार्ट के अंदर गोलियां रखनी है यह भी बताया होता है। इन गोलियों का इस्तेमाल करने के बाद महिला को ब्लीडिंग होनी शुरू हो जाती है और यह ब्लीडिंग दो हफ्ते तक महिला को हो सकती है। साथ ही इस किट का इस्तेमाल करने के बाद महिला को और भी शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। तो आइये अब जानते हैं की एमटीपी अबॉर्शन किट का इस्तेमाल करने से महिला को कौन सी शारीरिक परेशानियां होती है।

एमटीपी अबॉर्शन किट से कौन सी शारीरिक परेशानियां होती है

  • ब्लीडिंग बहुत ज्यादा होती है।
  • पेट में दर्द, पेट में ऐंठन, पेट के निचले हिस्से में दर्द की समस्या अधिक होती है।
  • बॉडी का तापमान बढ़ सकता है जिसके कारण आपको बुखार की समस्या होती है।
  • ब्रेस्ट में दर्द व् भारीपन महसूस हो सकता है।
  • चक्कर आना, सिर दर्द महसूस होना।
  • उल्टी, जी मिचलाना, दस्त, अपच की समस्या।
  • कई महिलाओं को इस दौरान कपकपी महसूस होने की समस्या भी होती है।

एमटीपी किट लेने के बाद डॉक्टर से कब मिलें

  • यदि बहुत ज्यादा ब्लीडिंग या दर्द की समस्या हो।
  • कोई ऐसी शारीरिक परेशानी हो जो की बर्दाश ही न हो रही हो।
  • यदि दवाई लेने के बाद चार घंटे बाद तक आपको ब्लीडिंग शुरू न हो तो भी आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए।

तो यह है एमटीपी अबॉर्शन किट को लेने का तरीका, इस दवाई को लेने के नुकसान से जुड़े कुछ टिप्स। यदि आप भी इस किट का इस्तेमाल करने वाले हैं तो आपको बिना डॉक्टर की राय के इस दवाई का सेवन नहीं करना चाहिए।

Leave a comment