प्रेगनेंसी में नवरात्रि व्रत करते समय इन बातों का ध्यान रखें

गर्भावस्था के दौरान यदि महिला शारीरिक रूप से स्वस्थ होती है तो ऐसे में व्रत करने कि मनाही नहीं होती है। बल्कि महिला बिना किसी डर किसी परेशानी के व्रत रख सकती है। लेकिन महिला को व्रत रखने पर इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि महिला अपने स्वास्थ्य के साथ किसी भी तरह कि लापरवाही न करें।

जिससे महिला को किसी तरह कि परेशानी हो क्योंकि यदि महिला को किसी तरह कि दिक्कत होती है तो इसके कारण शिशु को दिक्कत होने का खतरा रहता है। इसीलिए व्रत रखने पर भी महिला को अपना अच्छे से ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा कुछ और बातें हैं जिनका ध्यान गर्भवती महिला को रखना चाहिए। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की गर्भवती महिला को व्रत रखते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

हाइड्रेट रहें

प्रेग्नेंट महिला यदि व्रत रखती है तो महिला को हाइड्रेट रहना चाहिए। क्योंकि यदि महिला के शरीर में तरल पदार्थों की मात्रा पूरी होती है। तो इससे महिला को एनर्जी से भरपूर रहने में मदद मिलती है। और इसके लिए महिला को नारियल पानी, निम्बू पानी, दूध, छाछ, आदि का सेवन करना चाहिए।

खान पान का ध्यान रखें

व्रत रखने पर महिला को अपने खान पान का खास ध्यान रखना चाहिए। महिला को फलों का भरपूर सेवन करना चाहिए, दही खानी चाहिए, उबले आलू खाने चाहिए, सामक की खीर, आदि खानी चाहिए। साथ ही व्रत के दौरान सुबह या शाम एक समय ही खाने की मान्यता होती है लेकिन गर्भवती महिला ऐसा बिल्कुल नहीं करें। बल्कि थोड़ी थोड़ी देर में महिला को खाते रहना चाहिए क्योंकि खाते पीते रहने से महिला को व्रत के दौरान भी स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।

आराम भी है जरुरी

व्रत रखने पर महिला को थकान व् कमजोरी की समस्या नहीं हो इससे बचने के लिए महिला को दिन भर में थोड़ी देर आराम करना चाहिए। आराम करने से महिला को रिलैक्स रहने में मदद मिलती है साथ ही व्रत रखने में किसी भी तरह की परेशानी नहीं होती है।

ज्यादा तला भुना नहीं खाएं

व्रत रखने पर महिला को ज्यादा तली, भुनी व् मसालेदार चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए जैसे की महिला की चिप्स, नमकीन आदि का सेवन जरुरत से ज्यादा नहीं करना चाहिए। क्योंकि इनके कारण महिला को पाचन सम्बन्धी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

जरुरत से ज्यादा मीठा नहीं खाएं

प्रेग्नेंट महिला को व्रत रखने पर ज्यादा मीठी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से ब्लड में शुगर लेवल बढ़ सकता है जिसके कारण महिला को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

कैफीन का सेवन ज्यादा नहीं करें

गर्भवती महिला को कैफीन युक्त चीजें जैसे की चाय का सेवन ज्यादा नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके कारण महिला को दिक्कत होने के साथ शिशु के विकास में कमी का खतरा भी बढ़ जाता है। गर्भवती महिला चाहे तो एक या दो बार आधा कप चाय ले सकती है साथ ही महिला ध्यान रखें की खाली पेट महिला चाय का सेवन बिल्कुल नहीं करें।

लहसुन प्याज नहीं खाएं

नवरात्रि के दौरान प्याज लहसुन नहीं खाना चाहिए ऐसे में यदि आप भी व्रत रखने जा रही हैं तो इस बात का ध्यान रखें की कन्या पूजा से पहले आप भी प्याज लहसुन का सेवन नहीं करें।

जरुरत से ज्यादा काम नहीं करें

प्रेगनेंसी के दौरान महिला को केवल वही काम करना चाहिए जिसे करने में महिला को दिक्कत नहीं हो। ऐसे में व्रत रखने के दौरान भी महिला को इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए साथ ही यदि महिला को किसी काम को करने में दिक्कत का अनुभव हो रहा हो तो महिला को बिल्कुल भी वो काम नहीं करना चाहिए और आराम करना चाहिए। क्योंकि यदि महिला को दिक्कत हो रही है और फिर भी महिला काम करती जा रही है तो इसके कारण गर्भवती महिला की दिक्कत और ज्यादा बढ़ सकती है।

तो यह हैं कुछ बातें जिनका ध्यान गर्भवती महिला को नवरात्रि का व्रत रखते समय रखना चाहिए। इसके अलावा महिला को व्रत रखते समय यदि किसी भी तरह की दिक्कत हो तो महिला को व्रत नहीं रखना चाहिए।

Navratri Fasting Tips for Pregnant Women

Leave a comment