Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेगनेंसी में सलवार, पेटीकोट या जीन्स पहनती हैं तो इन बातों का ध्यान रखें

0

गर्भावस्था के दौरान सबसे जरुरी बात यह होती है की किस तरह माँ और बच्चे दोनों स्वस्थ रहें। और इसके लिए प्रेगनेंसी के दौरान खान पान, रहन सहन, लाइफ स्टाइल, पहनावे सभी छोटी छोटी बातों का महिला को अच्छे से ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। आज इस आर्टिकल में हम आपसे मैटरनिटी क्लोदिंग यानी की प्रेगनेंसी के दौरान पहने जाने वाले कपड़ों के बारे में बात करने जा रहे हैं। प्रेगनेंसी के दौरान पेट का आकार प्रेगनेंसी के बढ़ने के साथ बढ़ता जाता है।

जिसका मतलब यह होता है की गर्भ में पल रहा बच्चा ग्रोथ कर रहा है और उसका विकास अच्छे से हो रहा है। ऐसे में महिला को ऐसा कोई भी काम न करने की सलाह दी जाती है जिसकी वजह से पेट पर दबाव पड़े और गर्भ में बच्चा असहज महसूस करे। ऐसे में जब गर्भवती महिला के पहनावे की बात की जाये तो महिला जीन्स, पेटीकोट, सलवार आदि पहनती है। और यह सभी पेट पर बांधे जाते हैं ऐसे में महिला को क्या करना चाहिए और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए आइये जानते हैं।

प्रेगनेंसी में सलवार पहनना

गर्भवती महिला यदि प्रेगनेंसी में सलवार पहनती है तो महिला सलवार का नाडा पेट के थोड़ा नीचे की तरफ बांधे। ऐसा करने से पेट पर दबाव नहीं पड़ता है। साथ ही महिला यदि पेट के आस पास नाडा बांधती है तो महिला को ढीला नाधा बांधना चाहिए जिससे पेट पर दबाव नहीं पड़े और गर्भ में बच्चे को बिल्कुल भी परेशानी न हो।

पेटीकोट पहनते समय गर्भवती महिला यह याद रखें

कुछ महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान भी साड़ी पहनती है और उसके लिए पेटीकोट पहनना जरुरी होता है। और पेटीकोट का नाड़ा ज्यादातर महिलाएं पेट पर ही बांधती है। ऐसे में यदि महिला ज्यादा टाइट नाडा बांधती है तो इसके कारण गर्भ में शिशु को दिक्कत हो सकती है।

ऐसे में पेट पर किसी तरह का दबाव नहीं पड़े इसके लिए पेटीकोट बांधते समय महिला को नाड़ा ज्यादा टाइट नहीं बांधना चाहिए और पेटीकोट को पेट पर थोड़ा नीचे या ऊपर की तरफ बांधना चाहिए।

प्रेगनेंसी में जीन्स पहनना

गर्भावस्था के दौरान जीन्स पहनना महिला के लिए जब तक सेफ होता है जब तक महिला का पेट बाहर नहीं आता है। लेकिन पेट बाहर आने के बाद जीन्स पहनना सही नहीं होता है क्योंकि जीन्स टाइट होती है जिसके कारण महिला के पेट पर दबाव पड़ता है।

टाइट कपडे पहनने के कारण स्किन से जुडी समस्या होने का खतरा भी होता है, ऐसे में जितना हो सके प्रेग्नेंट महिला को जीन्स पहनने से बचना चाहिए।

प्रेगनेंसी के दौरान क्या पहनना होता है सही

गर्भावस्था के दौरान महिला के लिए जितना खाना पीना जरुरी है उतना ही पहनावा भी जरुरी है। ऐसे में महिला यदि सलवार, पेटीकोट आदि पहनती है तो महिला को नाड़ा थोड़ा ढीला बांधना चाहिए। नहीं तो महिला को घर में सूती कॉटन के कपडे के खुले गाउन पहनने चाहिए। क्योंकि यह आरामदायक होते हैं, बाहर जाने के लिए भी थोड़े अच्छे क़्वालिटी के वन पीस लेने चाहिए।

ताकि बाहर भी आपको कोई दिक्कत न हो। और यदि आप वन पीस नहीं पहनती है तो ढीले इलास्टिक वाले लेग्गिंग, पजामा आदि आप पहन सकती है इनसे पेट पर दबाव नहीं पड़ता है जिससे आपको और बच्चे दोनों को परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है।

तो यह हैं प्रेगनेंसी में सलवार, पेटीकोट, पहनने से जुड़े कुछ टिप्स, यदि आप भी माँ बनने वाली हैं तो आपको भी अपने पहनावे से जुडी इन बातों का ध्यान रखना चाहिए। ताकि प्रेगनेंसी के दौरान आपको आरामदायक महसूस होने में मदद मिल सके।

Pregnancy me salvar peticot aur jeans pehnte samay yeh dhyan rakhen

Leave a comment